Sunday, June 23, 2024
Tag:

वीडी शर्मा

यूं बैठे-ठाले क्या हो रहा है ये?

ये बैठे-ठाले अचानक क्या हो जाता है? शिवमंगल सिंह 'सुमन' जी (Poet Shivmangal Singh 'Suman' ने लिखा था, इस जीवन में बैठे ठाले ऐसे...

जड़ में जाकर इस गलती को सुधारे भाजपा

यह अंहकार है? मूर्खता है? मदहोशी है? या फिर है इन सबका मिला-जुला असर? राष्ट्र और राष्ट्रवाद (nation and nationalism) को अपनी प्राथमिकता में...

पसीने की जगह आंसू क्यों नहीं बहाते दिग्विजय ?

निहितार्थ: दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के पेट में मरोड़ उठ रही है। वह मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नए मुख्यमंत्री (new chief minister) की तलाश...

इस सबका जवाब तो देना ही होगा भाजपा को 

निहितार्थ: यह विधानसभा (Assembly) नहीं है। वहां तो विपक्ष जो सवाल उठाता है, सरकार उसका जवाब देती है। या कम से कम ऐसा करने...