31.8 C
Bhopal

J&K से बड़ी खबर: कठुआ में सेना के वाहन पर आतंकी हमला, चार जवान शहीद, आधा दर्जन घायल

प्रमुख खबरे

जम्मू/कठुआ। जम्मू-कश्मीर से सोमवार को भारतीय सेना के जवानों पर आतंकी हमले की बड़ी खबर सामने आई है। यहां कठुआ जिले में सेना के वाहन पर आतंकी हमला हुआ, जिसमें जहां चार जवान शहीद हो गए हैं। वहीं आधा दर्जन जवान घायल हुए हैं। जिनका आर्मी अस्पताल में इलाज जारी है। इनमें से दो जवान गंभीर रूप से घायल हैं। घटना लोहि मल्हार ब्लॉक के मचहेड़ी क्षेत्र के बडनोटा गांव की है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक

पुलिस और सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम मचहेड़ी क्षेत्र में दोपहर 3.30 बजे तलाशी ले रही थी, तभी आतंकियों ने घात लगाकर ग्रेनेड से हमला किया। इसके बाद सेना ने पूरे इलाके को घेर लिया है। हमले के बाद घाटी में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। गौरतलब है कि इस हमले में पहले दो जवानों के घायल होने की जानकारी सामने आई थी। देर शाम खबर मिली की आतंकियों के हमले में चार जवान शहीद हो गए हैं।

सेना के वाहन पर फेंका था ग्रेनेड
घटना स्थल से सेना के वाहन की तस्वीर भी सामने आई है, जिसमें वह गोलीबारी के कारण क्षतिग्रस्त दिखाई दे रहा है। वहीं, सूचना मिलते ही पुलिस और सुरक्षाबलों की अन्य टीमें भी मुठभेड़ स्थल के लिए पहुंचीं। इलाके की घेराबंदी कर ली गई है। आसपास के संपर्क मार्गों को भी अलर्ट कर दिया गया है। जम्मू-कश्मीर का यह इलाका भारतीय सेना की 9वीं कोर के अंतर्गत आता है। रक्षा अधिकारियों ने कहा, ‘आतंकवादियों की गोलीबारी के बाद हमारे जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की। अधिक जानकारी का इंतजार है।’

राजौरी में सेना के शिविर पर आतंकी हमला
एक दिन पहले ही जम्मू कश्मीर के राजौरी में भारतीय सेना के शिविर पर आतंकवादी हमले का मामला सामने आया था। इस अटैक में आर्मी का एक जवान घायल हो गया था। आतंकवादियों ने सेना के शिविर पर गोलीबारी की थी। इस दौरान सतर्क सुरक्षा चौकी पर तैनात जवान भी ने आतंकवादियों पर गोलीबारी की थी। घटना के वक्त सेना का जवान घायल हो गया था। आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे थे।

वहीं रविवार को कश्मीर घाटी के कुलगाम में सुरक्षाबलों ने छह आतंकियों को मार गिराया था। जिला कुलगाम में दो अलग-अलग जगह चली मुठभेड़ में सुरक्षाबलों के ये सफलता मिली। आतंकियों के पास हथियार भी बरामद किए गए। डीजीपी ने कहा कि कुलगाम में सफल आॅपरेशन और जनसहयोग से ऐसा लगता है कि हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को जल्द ही इसके तार्किक निष्कर्ष पर ले जाने में सक्षम होंगे।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

ताज़ा खबरे