Saturday, June 22, 2024

शर्मनाक हार के बाद एक्शन PCC चीफ, नई टीम बनाने की कर रहे एक्सरसाईज, जून के अंत तक ले लेगी आकार

Share

भोपाल। विधानसभा चुनाव के बाद मप्र में कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में शर्मनाक पराजय मिली है। भाजपा ने कमलनाथ का किला ढहाते प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीटों पर भगवा लहरा दिया है। हार की जिम्मेदारी लेते हुए पीसीसी चीफ जीतू पटवारी अब प्रदेश में नई टीम बनाने की बनाने की कवायद में जुट गए हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने ऐलान किया है कि इस महीने के अंत तक नई टीम तैयार हो जाएगी। यह घोषणा जीतू ने सोमवार को पीसीसी में की। वहीं उन्होंने अमरवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के तारीख के ऐलान के मामले में कहा कि कांग्रेस ने इसके लिए तैयारी पूरी कर ली है। तय समय पर प्रत्याशी चयन का काम पूरा कर लेंगे।

जीतू पटवारी ने कहा कि एक महीने में उनकी नई टीम सामने आ जाएगी। वहीं लोकसभा चुनाव में मिली हार को लेकर कांग्रेस नेताओं के सवाल उठाने पर जीतू पटवारी ने बयान दिया है। इस दौरान जीतू पटवारी ने मप्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा है कि मध्य प्रदेश में सरकार कर्ज लेने की स्थिति में नियंत्रण नहीं कर पा रही और न ही क्राइम कंट्रोल में आ पा रहा है। करप्शन के मामले में भी बहुत ही खराब स्थिति है और कार्रवाई नहीं हो रही है।

प्रदेश में चल रही तीन सी वाली सरकार
प्रदेश में तीन सी वाली सरकार चल रही है। यह तीन सी कर्ज, क्राइम और करप्शन के रूप में है। डॉ. मोहन यादव की सरकार इसी में जुटी है। पटवारी ने साढ़े पांच करोड़ पौधे रोपे जाने की तैयारी को लेकर कहा कि पर्यावरण की सुरक्षा सबका दायित्व है। पौधे करप्शन करने के लिए लगाएं तो यह गलत है। पिछली बार साढ़े छह करोड़ पौधे शिवराज सरकार ने अरबों रुपए कर्ज लेकर लगाए थे। आज एक भी पौधा नहीं है। पौधे अगर करप्शन करने के लिए लगाए जाने हैं तो यही कहूंगा कि ऐसे पौधे नहीं लगाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि अल्टीमेटली यह सरकार दलालों की सरकार है।

विधानसभा में सरकार को घेरेंगे कांग्रेसी विधायक
पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ने कहा है कि भ्रष्टाचार के मुद्दों को लेकर कांग्रेस के विधायक विधानसभा में सरकार को आईना दिखाने का काम करेंगे। इस सत्र में कांग्रेस जमकर विरोध करेगी। सागर में अहिरवार परिवार के यहां हुई हत्या के मामले में कांग्रेस विधानसभा सत्र के दौरान विरोध करेगी।

लक्ष्मण सिंह के सवाल का दिया जवाब
हाल ही में दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने पटवारी को लेकर सवाल खड़े किए थे। लक्ष्मण सिंह द्वारा कांग्रेस छोड़ने वालों को नहीं रोकने के मामले में पटवारी ने कहा कि उनकी समझाइश ऐसे है, जैसे पिता अपने पुत्र को, बड़ा भाई छोटे भाई को कहता है कि अपने पैरों पर खड़े हो जाओ। उन्होंने कहा कि संगठन की मजबूती के लिए जो भरसक प्रयास किए जाने हैं, वे किए जाएंगे। 29 लोकसभा सीट हारने के बाद सवाल नहीं होते हैं। सिर्फ काम दिखाई देना चाहिए और इसीलिए महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस समेत अन्य की बैठकें ले रहे हैं।

सागर को घटना में प्रशासन हत्यारों से मिला है
सागर जिले में हुई आपराधिक घटना के मामले पीसीसी चीफ ने कहा है कि कांग्रेस ने एक कमेटी का गठन किया था। जिसकी रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि प्रशासन हत्यारों से मिला है। मुख्यमंत्री सागर गए भी थे, लेकिन वहां जिनका विरोध हो रहा था उन्हें ही लेकर गए थे। इस मामले को विधानसभा सत्र के दौरान कांग्रेस पूरी ताकत से उठाएगी। पटवारी ने कहा कि आज युवा कांग्रेस की बैठक में लोकसभा चुनाव में हुई हार के कारणों की समीक्षा करेंगे। इसके बाद जिम्मेदारियां को लेकर टीम मजबूत करने का काम करेंगे। लोकसभा चुनाव में मिली हार मामले में समीक्षा करेंगे और उसे पर एक्शन भी लेंगे।

Read more

Local News