Monday, May 27, 2024
Tag:

राहुल गांधी

करोड़पति नेताओं की बेचारी कंगाल कांग्रेस

राहुल गांधी के प्रभाव वाले इस पूरे कालखंड में कांग्रेस जनमत से लेकर धन के मामले में ठन-ठन गोपाल वाला सफर बड़ी दयनीय अवस्था में घिसट-घिसटकर तय कर पा रही है। वैसे तो यह सारा मामला ही किसी लतीफे जैसा है, फिर भी एक और लतीफा याद आ गया। सेना के अफसर ने नाश्ते के लिए बैठी टुकड़ी के जवानों से कहा, 'खाने पर दुश्मन की तरह टूट पड़ो।' टुकड़ी कई दिन की भूखी थी।

मनोभंजन न सही, मनोरंजन में तो परिपक्व हैं राहुल गांधी

फिरोज खान के पोते राहुल भले ही मूलत: गांधी न हों, लेकिन प्रचार तंत्र तो उन्हें महात्मा गांधी के समकक्ष ही रखता है। खैर, कांग्रेस के अघोषित माई-बाप और देश के घोषित बापू के बीच तुलना नहीं की जा सकती। गांधी जी की आवाज पर देश एकजुट हो गया था और राहुल की सियासी परवाज का आलम यह कि कांग्रेस टुकड़े-टुकड़े होने की कगार पर आ गई है।

कांग्रेस ने दिल से हटकर दिमाग की सुध ली

पटवारी, सिंघार और कटारे को उनके कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं। बरसों बरस बाद पंजे ने दिमाग को टटोला है। कांग्रेस के सच्चे शुभचिंतक यही चाहेंगे कि यह क्रम बना रहे। बाकी उनके भीतर यह आशंका कायम रहना भी स्वाभाविक है कि पंजा एक बार फिर दिमाग से फिसलकर दिल की तरह न चला जाए।

भाजपा का सयानापन और कांग्रेस का बचपना

कांग्रेस व्यवहारिकता के हिसाब से मुद्दों के टोटो और उनके नाम पर तोता रटंत की शिकार होकर रह गयी। जबकि भाजपा ने एक बार फिर दिखा दिया कि वह अपने सामाजिक समरसता वाले वाक्य के अनुरूप आगे बढ़ने में ही यकीन रखती है।

तमाशाई बन जाएंगे खुद तमाशा !

विषय अलग-अलग हैं, लेकिन उनमें गजब का साम्य है। फ़िल्मी गीत 'गजर ने किया है इशारा…' काफी लोकप्रिय रहा। गजर यानी घड़ी का वह...

कर्नाटक से मप्र के बीच तक कांग्रेस की ये उलटबासी

एक लघुकथा याद आ गई। सुबह के समय मुसाफिरों की वह बस एक मंदिर की तरफ जा रही थी। उसमें बुजुर्गों की खासी भीड़...

विपक्षी एकता और पर कटे पक्षी जैसी कांग्रेस

यह दो समाचार गौर करने लायक हैं। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सेवा में एक पेशकश...

आम चुनाव के लिए भाजपा का ये कदम….

मुझे राहुल गांधी से सहानुभूति है। मानहानि के मामले में अदालत ने गुरूवार को राहुल को दो साल की सजा सुनाई। और एक दिन...