होम राम मंदिर
kaangres-ka-dharm-sankat

कांग्रेस का धर्म संकट

अयोध्या का रास्ता राज्य के उन 27 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगा, जहां जल्दी ही उपचुनाव होने हैं। शिवराज सरकार में मंत्री गोविंद राजपूत के विधानसभा क्षेत्र सुरखी से यह सिलसिला शुरू हो गया है। यह कांग्रेस के लिए उलझन की स्थिति है। उसने बीते दिनों राज्य में जो धार्मिक रूप प्रदर्शित किया है, उसके चलते वह भाजपा के इस आयोजन की निंदा नहीं कर सकती। खुद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने राम मंदिर के लिए पार्टी की तरफ से चांदी की ग्यारह ईंटें अयोध्या भेजने की घोषणा कर चुके हैं।  आगे पढ़ें

formalities-for-construction-of-ram-temple-fast

राम मंदिर निर्माण की औपचारिकताएं हुर्इं तेज: 70 एकड़ क्षेत्र का नक्शा पास कराने में जुटा ट्रस्ट, 2 करोड़ से ज्यादा का आएगा खर्च

दिल्ली में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और मंदिर निर्माण समिति की बैठक के बाद अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की औपचारिकताएं तेज हो गई है। ट्रस्ट 15 से 20 दिन के भीतर 70 एकड़ क्षेत्र का अयोध्या प्राधिकरण से नक्शा पास कराने की प्रक्रिया में जुट गया है। इस दौरान एलएंडटी के इंजीनियर मंदिर स्थल की जमीन और नींव के लिए तकनीकी परीक्षण करने के साथ मंदिर का नक्शा भी फाइनल कर लेंगे। वहीं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के मंत्रालय के सचिव ने मंदिर निर्माण के लिए तांबे की 8 पट्टियां भेजी हैं।  आगे पढ़ें

on-the-recitation-of-hanuman-chalisa

हनुमान चालीसा पाठ पर शिवराज ने कमलनाथ पर कसा तंज: कहा- जिस दिन राम मंदिर का शिलान्यास हो रहा था उस दिन पाठ करने बैठ गए, हनुमानजी भक्तों का संकट हरते हैं दुष्टों का नहीं

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के लिए हुए भूमिपूजन के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ किए जाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने तंज कसा है। शिवराज सिंह ने कहा कि जिस दिन शिलान्यास हो रहा था, उस दिन कमलनाथ हनुमान चालीसा करने बैठ गए- संकट कटे मिटे सब पीरा, जो सुमिरे हनुमत बलबीरा। शिवराज ने कहा कि हनुमान जी भक्तों के संकट हरते हैं, दुष्टों के नहीं।  आगे पढ़ें

scindia-targeted-the-ram-temple-issue-said-congres

सिंधिया ने राम मंदिर मुद्दे पर साधा निशाना: कहा- बावरी मस्जिद का ताला खुलवाने को लेकर अपने आप में ही उलझे हैं कांगे्रस नेता, उनको खुद नहीं पता उनके नेताओं ने क्या किया

भाजपा में शामिल होने के बाद राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार इंदौर आए। यहां एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में सिंधिया ने राम मंदिर मुद्दे पर कांग्रेस पर निशाना साधा। सिंधिया ने राम मंदिर मुद्दे पर कहा कि आप कांग्रेस से सवाल पूछिए, एक तरफ वो (पूर्व सीएम कमलनाथ) कह रहे हैं कि बाबरी मस्जिद के उन्होंने (पूर्व पीएम राजीव गांधी) ताले खुलवाए। दूसरी तरफ कांग्रेस नेता शशि थरूर कह रहे हैं ताला उन्होंने (पूर्व पीएम राजीव गांधी) नहीं खुलवाया। कांग्रेस अपने आप में ही उलझ रही है। कांग्रेसियों को खुद ही पता नहीं कि उनके नेताओं ने क्या किया, क्या नहीं किया।  आगे पढ़ें

in-the-by-election-the-congress-is-preparing-to-pl

उपचुनाव में कांग्रेस ने की हिंदू कार्ड खेलने की तैयारी, भाजपा ने कहा- उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि क्या करें, वो दिन में हनुमान चालीसा का पाठ और रात में मौलवियों से करते हैं मीटिंग

आगामी महीनों में प्रदेश में 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस ने हिंदू कार्ड खेलने की पूरी तैयारी कर ली है। इसका ताना-बाना भी कांग्रेस ने बुनना शुरू कर दिया है। अयोध्या में राम मंदिर के लिए हुए भूमिपूजन से पहले पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ भगवामय नजर आए। उन्होंने कांग्रेस की परंपराओं को तोड़ते हुए प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में राम दरबार की झांकी सज वाई तो कृष्ण जन्माष्टमी पर अपने घर पर धूमधाम से पूजन किया। इ  आगे पढ़ें

in-the-by-election-the-congress-is-preparing-to-pl

उपचुनाव में कांग्रेस ने की हिंदू कार्ड खेलने की तैयारी, भाजपा ने कहा- उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि क्या करें, वो दिन में हनुमान चालीसा का पाठ और रात में मौलवियों से करते हैं मीटिंग

आगामी महीनों में प्रदेश में 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस ने हिंदू कार्ड खेलने की पूरी तैयारी कर ली है। इसका ताना-बाना भी कांग्रेस ने बुनना शुरू कर दिया है। अयोध्या में राम मंदिर के लिए हुए भूमिपूजन से पहले पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ भगवामय नजर आए। उन्होंने कांग्रेस की परंपराओं को तोड़ते हुए प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में राम दरबार की झांकी सज वाई तो कृष्ण जन्माष्टमी पर अपने घर पर धूमधाम से पूजन किया। इ  आगे पढ़ें

after-the-bhoomipujan-modis-historical-address-sai

भूमिपूजन के बाद मोदी का ऐतिहासिक संबोधन, बोले- मेरा अयोध्या आना स्वाभाविक था, क्योंकि राम काज कीन्हे बिनु मोहि कहां विश्राम; भारत जितना ताकतवर होगा प्रीति उतनी ज्यादा बढ़ेगी

राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन के बाद सबसे ज्यादा इंतजार जिस बात का लोगों को था, वह था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण। मोदी ने ऐतिहासिक मौके पर ऐतिहासिक भाषण दिया। 35 मिनट के इस भाषण की शुरूआत सियावर राम चंद्र की जय के साथ की और खत्म भी सियापति रामचंद्र की जय के साथ किया। कहा- राम सबके हैं, राम सबमें हैं। कोरोना काल में राम की मर्यादा का महत्व बताया। मोदी ने राम की रीति बताई कि बिना भेदभाव के सभी के विश्वास से विकास करना है। तो, भय बिनु होय ना प्रीति से राम की नीति बताई। कहा- भारत जितना ताकतवर होगा प्रीति उतनी ज्यादा बढ़ेगी।  आगे पढ़ें

ayodhyaji-reversed-after-492-years-the-emerald-of-

अयोध्याजी ने 492 साल बाद फिर पलटा इतिहास का पन्ना, राम काज फिर हुआ शुरू, पीएम ने 31 साल पुरानी सिलाओं से रखी राम मंदिर की नींव

492 साल बाद अयोध्याजी ने अपने इतिहास का पन्ना फिर से पलट दिया है। साल 1528- में राम मंदिर को ढेर करके यहां बाबरी मस्जिद बना दी गई थी। आजादी के बाद लंबा मुकदमा चला। नौ महीने पहले सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया। झगड़े की जमीन रामलला की हुई और आज राम काज शुरू हो गया।  आगे पढ़ें

before-bhoomipujan-in-ayodhya-diggi-again-raised-t

अयोध्या में भूमिपूजन से पहले दिग्गी ने फिर उठाए सवाल, कहा- शिलान्यास ज्योतिष शास्त्र की स्थापित मान्यताओं के विपरीत, प्रभु मुझे क्षमा करना

अयोध्या में आज राम मंदिर का विधिवत भूमिपूजन होने जा रहा है। पूरे देश में उत्सव का माहौल है। लेकिन, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह भूमिपूजन के मुहूर्त को अशुभ बता रहे हैं। बीते पांच दिन में दिग्विजय ने इस मुद्दे को लेकर कई ट्वीट किए। बुधवार को भूमि पूजन से पहले उन्होंने ट्वीट कर कहा- आज अयोध्याजी में भगवान रामलला के मंदिर का शिलान्यास वेद द्वारा स्थापित ज्योतिष शास्त्र की स्थापित मान्यताओं के विपरीत हो रहा है, हे प्रभु हमें क्षमा करना। यह निर्माण निर्विघ्न रूप से पूरा हो यही हमारी आप से प्रार्थना है। जय सिया राम।  आगे पढ़ें

celebration-in-whole-of-madhya-pradesh-on-ram-temp

राम मंदिर भूमिपूजन पर पूरे मध्यप्रदेश में जश्न, लोगों ने की विशेष पूजा-अर्चना, श्रीराम के स्वागत में ढोल-नगाड़ों पर किया नृत्य

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के शिलान्यास कार्यक्रम का जश्न मध्यप्रदेश में भी जमकर मनाया जा रहा है। इसमें उज्जैन के महाकाल मंदिर से लेकर घर-घर में श्रीराम की विशेष पूजा और अर्चना के साथ राम दरबार सजाए गए हैं। भोपाल के गुफा मंदिर और बड़वाले महादेव मंदिर भी विशेष तैयारियां की गईं। प्रदेशभर में श्री राम के स्वागत में लोग रंग गुलाल उड़ाते और आतिशबाजी करते हुए ढोल-नगाड़ों पर नृत्य कर झूमते नजर आए।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति