ताज़ा ख़बरधर्म

पाकिस्तान से वीडियो जारी कर जल्द भारत लौटने का बोलीं अंजू,शादी से पहले कर चुकी थीं धर्म परिवर्तन

अंजू ने सोमवार (24 जुलाई) को पाकिस्तान से अपना वीडियो जारी करते हुए कहा कि मैं जल्द ही भारत वापस लौटूंगी। 

नई दिल्ली : पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर के भारत आने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब एक और ऐसे ही मामले ने पाकिस्तान की मीडिया में सुर्खियां बटोरी हुई है, लेकिन इस बार एक भारतीय महिला अपने प्रेमी से मिलने पाकिस्तान पहुंच गई है। राजस्थान की रहने वाली इस महिला का नाम अंजू है। 34 वर्षीय अंजू की पाकिस्तानी व्यक्ति नसरुल्ला से फेसबुक पर दोस्ती हुई और फिर उसे उससे प्यार हो गया।  अंजू शादीशुदा है और दो बच्चों की मां है। अंजू का जन्म उत्तर प्रदेश के कैलोर गांव में हुआ था और वह राजस्थान के अलवर जिले में रहती थी। वह अब अपने पाकिस्तानी दोस्त नसरुल्ला से मिलने के लिए पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा के ऊपरी दीर जिले में है। अंजू ने सोमवार (24 जुलाई) को पाकिस्तान से अपना वीडियो जारी करते हुए कहा कि मैं जल्द ही भारत वापस लौटूंगी। 

वीजा लेकर पाकिस्तान गई अंजू

अंजू ने वीडियो में कहा कि मैं वैध वीजा लेकर पाकिस्तान आई हूं। यहां मैं सुरक्षित हूं, मुझे कोई दिक्कत नहीं है। मैं कुछ ही दिन में वापस लौट आऊंगी। मेरी मीडिया से अपील है कि मेरे बच्चे और परिवार को परेशान न किया जाए। अंजू लीगल वीजा लेकर पाकिस्तान गई है। उसके वीजा की अवधि पूरी होने पर 20 अगस्त को स्वदेश लौट जाएगी। ये जानकारी अंजू के पाकिस्तानी मित्र नसरुल्ला ने भी सोमवार को दी। नसरुल्ला ने इसके साथ ही अंजू से प्रेम संबंध होने की दावों को भी खारिज कर दिया। 

नसरुल्ला ने कहा- शादी की योजना नहीं

एक रिपोर्ट के मुताबिक, नसरुल्ला (29) ने कहा कि उसकी अंजू से शादी करने की कोई योजना नहीं है। वहीं पाकिस्तान के दीर जिले के एसपी ने कहा कि 21 अगस्त को अंजू पाकिस्तान से वापस चली जाएगी। हमने उनकी सुरक्षा में पुलिस तैनात की है।

फेसबुक पर हुई थी दोस्ती

नसरुल्ला और अंजू की दोस्ती 2019 में फेसबुक के जरिए हुई थी। नसरुल्ला ने कहा कि अंजू पाकिस्तान आई हुई है और हमारी शादी करने की कोई प्लानिंग नहीं है। उन्होंने कहा कि अंजू मेरे घर में परिवार की अन्य महिलाओं के साथ दूसरे कमरे में रहती है।

पांच भाइयों में सबसे छोटा है नसरुल्ला

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग को भेजे गए आधिकारिक दस्तावेज के मुताबिक कार्यालय सूचित करता है कि उसने अंजू को केवल ऊपरी दीर जिले के लिए 30 दिनों का वीजा मंजूर करने का फैसला किया है। नसरुल्ला शेरिंगल स्थित विश्वविद्यालय से विज्ञान में स्नातक है और पांच भाइयों में सबसे छोटा है।  नसरुल्ला ने कहा कि जिला प्रशासन ने उन्हें पर्याप्त सुरक्षा प्रदान की है और अंजू उसके परिवार के साथ सुरक्षित है। पश्तून बहुल गांव के लोग चाहते हैं कि अंजू सुरक्षित भारत लौट जाए क्योंकि वे नहीं चाहते कि इस घटना से उनके समुदाय की बदनामी हो। अंजू के पति व राजस्थान निवासी अरविंद ने उम्मीद जताई है कि जल्द उसकी पत्नी वापस आ जाएगी। 

धर्म को लेकर परिवार ने किया बड़ा खुलासा 

धर्म को लेकर अंजू के परिवार वालों ने बड़ा दावा किया है। अंजू के चचेरे मामा रोशन लाल ने एक इंटरव्यू में बताया कि अंजू ने ईसाई धर्म अपना लिया था और अभी भी वो ईसाई ही है। अंजू की शादी अलवर में हुई थी। उनके दो बच्चे हैं। अंजू की 15 साल की बेटी और छह साल का बेटा है। उनके बच्चे अपने पिता के साथ भिवाड़ी में हैं। अंजू से हमारी मुलाकात अप्रैल में हुई थी।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button