ताज़ा ख़बर

NIA ने खालिस्तानी आतंकियों और गैंगस्टर के गठजोड़ के खिलाफ लिया बड़ा एक्शन,51 ठिकानों पर बड़ी छापेमारी…

गोल्डी बरार NIA द्वारा नामित सर्वाधिक वांछित गैंगस्टरों में से एक है। उस पर हाल ही में एक अन्य गैंगस्टर सुक्खा दुनीके की हत्या के पीछे भी होने का संदेह है, जिसकी कनाडाई शहर विन्निपेग में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

नई दिल्ली : NIA ने खालिस्तानी आतंकियों और गैंगस्टर के गठजोड़ के खिलाफ बड़ा एक्शन लिया है। राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (NIA) ने बुधवार को 6 राज्यों में 3 मामलों में लॉरेंस, बंबीहा और अर्श दल्ला गैंग के सहयोगियों के 51 ठिकानों पर बड़ी छापेमारी कर रही है। बुधवार तड़के NIA ने पंजाब के मोगा जिले के गांव तख्तूपुरा में एक शराब ठेकेदार के घर पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस ठेकेदार से गैंगस्टर अर्श डाला ने फिरौती मांगी थी और इस ठेकेदार ने फिरौती का कुछ हिस्सा अर्श डाला को दिया था। सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में NIA जांच कर रही है।

गन हाउस पर भी मारा छापा

एनआईए ने उत्तराखंड के उधम सिंह नगर के बाजपुर थाना क्षेत्र में एक गन हाउस पर भी छापा मारा। उत्तराखंड के देहरादून जिले के क्लेमेनटाउन थाना क्षेत्र में NIA ने एक और घर पर छापा मारा है। देहरादून पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक NIA की टीम आज सुबह से ही छापेमारी कर रही है। राज्य पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक NIA की टीम गन हाउस में हथियारों की जांच कर रही है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने कनाडा से संबंध रखने वाले आतंकी गैंगस्टर नेटवर्क से जुड़े 43 व्यक्तियों का डिटेल भी जारी किया था। NIA ने जनता से अपनी संपत्तियों और परिसंपत्तियों का डिटेल शेयर करने के लिए कहा। जिन्हें केंद्र सरकार अपने कब्जे में ले सकती है।

कनाडा में है कई गैंगस्टर

NIA ने उनके स्वयं के नाम पर या उनके सहयोगियों, दोस्तों और रिश्तेदारों के नाम पर स्वामित्व वाली संपत्तियों/परिसंपत्तियों/व्यवसायों के बारे में डिटेल शेयर करने का भी अनुरोध किया। इसमें अपने व्यापारिक साझेदारों, श्रमिकों, कर्मचारियों और संग्रह एजेंटों का डिटेल शेयर करने के लिए भी कहा गया है। NIA ने अपने पोस्ट में लॉरेंस बिश्नोई, जसदीप सिंह, काला जठेरी उर्फ संदीप, वीरेंद्र प्रताप उर्फ काला राणा और जोगिंदर सिंह की तस्वीरें उनके नाम के साथ जारी कीं। इसमें इस बात पर प्रकाश डाला गया कि इनमें से कई गैंगस्टर कनाडा में हैं।

1000 ठिकानों पर की जा चुकी है छापेमारी

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने पहले गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम के तहत चंडीगढ़ और अमृतसर में नामित खालिस्तानी आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नून के स्वामित्व वाली संपत्तियों को जब्त कर लिया था। चंडीगढ़ में सेक्टर 15 स्थित पन्नून के आवास के बाहर संपत्ति जब्ती का नोटिस चिपका हुआ देखा गया। इससे पहले 21 सितंबर को एजेंसी ने भगोड़े गैंगस्टर गोल्डी बरार से जुड़े पंजाब और हरियाणा में 1000 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की थी। पंजाब पुलिस के अधिकारियों ने NIA के साथ मिलकर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था।

वांछित गैंगस्टर में से एक है गोल्डी बरार

गोल्डी बरार NIA द्वारा नामित सर्वाधिक वांछित गैंगस्टरों में से एक है। उस पर हाल ही में एक अन्य गैंगस्टर सुक्खा दुनीके की हत्या के पीछे भी होने का संदेह है, जिसकी कनाडाई शहर विन्निपेग में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। ऐसा कहा जाता है कि इनमें से कई वांछित गैंगस्टर कनाडा से संचालित हो रहे हैं, जिनके खालिस्तान समर्थकों और गैंगस्टरों के बीच घनिष्ठ संबंध हैं। 2018 में, कनाडाई प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो की अमृतसर यात्रा के दौरान, भारत ने उन्हें नौ खालिस्तानी गुर्गों की एक सूची सौंपी थी, जिनके कनाडा में होने की बात कही गई थी।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button