इंदौर तीन दिन रहेगा पूरी तरह लॉकडाउन, एक अप्रैल तक दूध-सब्जी कुछ भी नहीं मिलेगा, घर से निकलने पर होगी जेल



इंदौर।कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ती संख्या के मद्देनजर इंदौर अब अगले तीन दिनों तक पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा। शहर में एक अप्रैल तक किराना, सब्जी, दूध डेयरी व अन्य किसी भी सामान की बिक्री नहीं होगी और न ही घर पहुंच सेवा (होम डिलेवरी) मिलेगी। पेट्रोल पंप भी सात जगह खुलेंगे और वह भी केवल अनिवार्य सेवा वाले वाहनों को ही पेट्रोल-डीजल देंगे। यह फैसला रविवार शाम कमिश्नर आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया। बैठक में ये फैसले लिए गए यह नहीं मिलेगा - किराना, खाद्य वस्तुएं, सामानों की होम डिलेवरी भी नहीं होगी


दूध - दो दिन तक बंद रहेगा, तीसरे दिन एक अप्रैल को दूध वितरण खोलेंगे। सब्जियां - सभी मंडी बंद, तीन दिन बाद आलू-प्याज की बिक्री ही सीमित समय के लिए खुलेगी। दवा दुकान - लेकिन वह भी सीमित संख्या में। अस्पताल और इनसे लगी दवा दुकानें भी खुली रहेंगी। पेट्रोल पंप - चुनिंदा पंप ही खुले रहेंगे और यह भी केवल सरकारी वाहनों और अनिवार्य सेवा में लगे वाहनों को ईंधन देंगे। वाहनों की स्थिति - सरकारी और अनिवार्य सेवा वाले वाहन छोड़कर तीन दिन तक कोई भी वाहन नहीं निकलेगा। किसी को दवा लेने भी जाना है तो पैदल ही जाना होगा।


उल्लंघन करने वालों को खुली जेल में भेजेंगे: कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि जो भी व्यक्ति इस लॉकडाउन का उल्लंघन करेगा, उस पर कानूनी कार्रवाई होगी और एक जगह चिन्हित कर उन्हें खुली जेल में बंद किया जाएगा। धार और मंदसौर में भी वाहन प्रतिबंधित: वहीं, धार में भी सोमवार से लोगों की सुरक्षा को देखते हुए सभी दो पहिया और चार पहिया वाहनों को बंद किए जाने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान यदि कोई भी वाहन में घूमता पाया गया तो वाहन जब्त करने के बाद कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।


इसी प्रकार मंदसौर में भी प्रशासन ने शहर को नो व्हीकल जोन घोषित कर दिया है। इस दौरान दो पहिया और चार पहिया वाहन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। वाहनों से घूमने वालों पर दर्ज होगा। कोरोना पॉजिटिव की संख्या इंदौर में 24 हुई: शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा रोजाना तेजी से बढ़ रहा है। शनिवार देर रात एमजीएम मेडिकल कॉलेज ने 5 और मरीजों में संक्रमण की पुष्टि की। इसके साथ ही शहर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 24 हो गई है। शनिवार को लिए गए 98 सैंपल सहित अब तक कुल 297 मरीजों के सैंपल लिए जा चुके हैं।


175 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। यह बेहद गंभीर स्थिति है। क्योंकि, औसत रोजाना पांच नए मरीज सामने आ रहे हैं। अभी तक दो मरीजों की मौत हो चुकी है। औसत रोजाना 49 मरीजों के सैंपल की जांच हो रही है। 17 वर्षीय युवती भी पॉजिटिव: शनिवार रात जिन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें चार पुरुष और एक महिला है। दौलतगंज रानीपुरा निवासी 40 वर्षीय युवक पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आया था। चंद्रपुरी कॉलोनी मूसाखेड़ी निवासी 48 वर्षीय व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आया था। दौलतगंज हाथीपाला निवासी 21 वर्षीय युवक और दौलतगंज रानीपुरा निवासी 38 वर्षीय युवक भी पॉजिटिव के संपर्क में थे। पांचवी मरीज माधव नगर उज्जैन की है। 17 वर्षीय यह युवती भी किसी पॉजिटिव मरीज के संंपर्क में आई है।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति