भारी बारिश से नर्मदा का बढ़ा जलस्तर, तीन साल बाद खतरे के निशान के ऊपर, निचली बस्तियों को कराया खाली



होशंगाबाद। तीन साल बाद नर्मदा नदी खतरे के निशान 964 फीट को पार कर गई। सेठानी घाट पर जलस्तर मंगलवार रात 12 बजे 966.5 फीट पर पहुंच गया। नर्मदा के खतरे का निशान पार करते ही सायरन बजाया गया। रात को निचली बस्तियां खाली कराई जाने लगी


कमिश्नर आरके मिश्रा ने बताया कि सेना और एनडीआरएफ के भी संपर्क में हैं। होशंगाबाद का बांद्राभान से संपर्क कट गया है। हथेड़ नदी पर पानी से हरदा मार्ग अवरुद्ध है। देररात महिमा नगर के चार परिवार राहत शिविर में पहुंच गए।


खंडवा : इंदौर के बाद भोपाल से भी सड़क संपर्क टूटा: खंडवा का भोपाल से भी सड़क संपर्क टूट गया है। मंगलवार को इंदिरा सागर बांध के 12 गेट खुलने से आष्टा-देवास होकर भोपाल जाने वाले मार्ग में आने वाले नर्मदानगर पुल से आवागमन बंद कर दिया है।


इंदौर-इच्छापुर हाईवे स्थित मोरटक्का पुल पर पहले से ट्रैफिक बंद है। नागदा: बिजली गिरने से दो लोगों की मौत: बिजली गिरने से कृषि उपज मंडी के पूर्व अध्यक्ष हरिसिंह गुर्जर के इकलौते बेटे करण सिंह (23) व भतीजे अर्जुनसिंह (32) की मौत हो गई।


दोनों चचेरे भाई खेत से लौट रहे थे, तभी यह हादसा हुआ। रायसेन : टिक टॉक वीडियो के चक्कर में किशोर की मौत: 16 वर्षीय शमीम की किले की पहाड़ी पर स्थित तालाब में डूबने से मौत हो गई। वह स्टंट करते हुए तालाब में कूद कर नहाने वाला टिक टॉक वीडियो बनवा रहा था। साथ चार-पांच बच्चे और थे। विदिशा : बेतवा का जलस्तर 1370 फीट, अशोकनगर मार्ग 3 दिन से बंद: बेतवा नदी तीसरे दिन भी खतरे के निशान से ऊपर रही। इसका जलस्तर मंगलवार को 1370 फीट रहा। विदिशा-अशोकनगर तीन दिन से और विदिशा-रायसेन मार्ग 9 दिन से बंद है।

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति