कर्नाटक संकट: भाजपा और गठबंधन ने झोंकी ताकत, बहुमत परीक्षण हुआ तो आज गिर जाएगी सरकार



बेंगलुरु। कर्नाटक में राजनीतिक संकट जारी है और बहुमत परीक्षण से पहले कांग्रेस-जेडी(एस) और भारतीय जनता पार्टी कैंप पूरी ताकत झोंक रहे हैं। सत्ताधारी गठबंधन जहां नाराज विधायकों को मनाने की कोशिश तक कर चुका है, वहीं बीजेपी के नेता बिल्कुल आश्वस्त नजर आ रहे हैं कि बहुमत परीक्षण होता है तो कांग्रेस-जेडी(एस) सरकार गिर जाएगी। विधानसभा में सोमवार को बहुमत परीक्षण होने की संभावना भी है


   -सदन में सदस्यों की संख्या: स्पीकर और मनोनीत सदस्यों को मिलाकर सदन की कुल संख्या 225 है। इसमें से 17 सदस्यों के सदन में शामिल नहीं होने की संभावना है। 17 में से 12 कांग्रेस के, 3 जेडी(एस) के विधायक हैं और 2 कांग्रेसी विधायक अस्पताल में भर्ती हैं। इस तरह अब सदन की संख्या 208 रह जाती है। बहुमत साबित करने के लिए 105 वोटों की जरूरत होगी।


  -आंकड़े किस ओर: मौजूदा स्थिति देखें तो कांग्रेस-जेडी(एस) कैंप में 66 कांग्रेस, 34 जेडी(एस) और एक बीएसपी सदस्य मिलाकर कुल संख्या 101 है। उधर, विपक्षी खेमे में अकेले बीजेपी के विधायकों की संख्या 105 है और उसे निर्दलीय विधायकों का साथ भी मिला है जिससे विपक्ष की कुल संख्या 107 हो जाती है।


हालांकि, अगर निर्दलीय विधायक आर शंकर को बीजेपी के साथ बैठने की अनुमति नहीं मिलती है तो वे शायद सदन में आएं ही न।  -वोटिंग के बाद गिर सकती है सरकार: अगर मौजूदा गतिरोध जारी रहता है तो सरकार गिर सकती है। बता दें कि 15 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं और दो निर्दलीय बीजेपी को समर्थन दे चुके हैं।


अगर सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस-जेडी(एस) की विप जारी करने को लेकर की गई याचिकाओं पर फैसला टाल देता है, तो विश्वास मत होने पर कुमारस्वामी सरकार गिर सकती है।  -बिना वोटिंग सीएम का इस्तीफा ऐसा भी हो सकता है कि हार सामने देखकर कुमारस्वामी बिना वोटिंग हुए खुद इस्तीफा दे दें और बीजेपी सरकार बना ले।  सुप्रीम कोर्ट का फैसला अहम: सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस-जेडी(एस) को विप जारी करने की इजाजत भी दे सकती है। ऐसा हुआ तो बागी विधायक बैकफुट पर चले जाएंगे और उन्हें अपने इस्तीफे वापस लेने पड़ सकते हैं। ऐसा नहीं करने पर उनकी विधायकी खतरे में आ जाएगी। ऐसे हालात में सरकार बच सकती है। हालांकि, अगर विप जारी होने के बाद भी विधायक नहीं आए तो सरकार गिर जाएगी।  

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति