कर्नाटक संकट: कोर्ट के निर्देश के बाद अब अध्यक्ष रातभर करेंगे बागी विधायकों के इस्तीफे की जांच



नई दिल्ली। कर्नाटक में स्पीकर रमेश कुमार ने कहा कि वह रातभर बागी विधायकों के इस्तीफे का अवलोकन करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके इस्तीफे असली हैं कि नहीं। स्पीकर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने उनसे इस मामले में फैसला लेने के लिए कहा था। मैने सारे वाकये की वीडियोग्राफी की है और इसको सुप्रीम कोर्ट भेजा जाएगा


उन्होंने कहा कि बागी एमएलए ने उनसे कहा कि कुछ लोग उनको धमकी दे रहे थे इस वजह से वो मुंबई चले गए थे। तब मैने उन विधायकों से कहा कि आपको मेरे पास आना था मैं आपको सुरक्षा प्रदान करता। सिर्फ तीन दिनों में उनका व्यवहार ऐसा था जैसे कि भूकंप आ गया हो। गौरतलब है कर्नाटक में दिन पर दिन सियासी ड्रामा बढ़ता जा रहा है।


गठबंधन सरकार के बागी विधायकों द्वारा इस्तीफा देने के बाद से ही उन्हें मनाने का दौर जारी है। इस बीच गवर्नर को इस्तीफा दे चुके 10 विधायकों द्वारा इस्तीफा मंजूर किए जाने में हो रही देरी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर दी थी। इस याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी।


कोर्ट ने बागी विधायकों को स्पीकर से मिलकर इस्तीफा सौंपने का कहा था। विधायकों ने मुंबई से बेंगलुरू पहुंचकर स्पीकर को अपने इस्तीफे सौंप दिए हैं। वहीं दूसरी ओर कर्नाटक के स्पीकर के आर रमेश कुमार भी इस मामले के हल के लिए समय चाहने की मंशा से सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे, हालांकि कोर्ट ने इस मसले पर आज सुनवाई करने से इंकार कर दिया।


सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर कांग्रेस-जेडीएस के 10 बागी विधायक इस्तीफा देना चाहते हैं तो आज शाम स्पीकर को इस्तीफा सौंपे। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने सभी विधायकों को सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि बागी विधायकों के इस्तीफे पर कर्नाटक स्पीकर बाकी बचे वक्त में निर्णय लें। कोर्ट ने कर्नाटक ऊॠढ को सभी विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने के निर्देश दिए। अब इस याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई की जाएगी।

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति