गैंग रेप के विरोध में रतलाम में निकली विशाल रैली, पुलिस ने किया लाठीचार्ज ओर आंसू गैस का प्रयोग



रतलाम। कान्वेन्ट स्कूल की बालिका के साथ हुए गैंग रैप के विरोध में गुरुवार को हिन्दूवादी संगठनों के आव्हान पर रैली निकाली गई। रैली में शामिल युवकों ने जहां कान्वेन्ट स्कूल पर पंहुचकर पथराव किया, वहीं रैली के समापन के बाद प्रदर्शनकारियों का एक ग्रुप स्टेशनरोड स्थित आशीर्वाद होटल पर तोडफोड करने जा पंहुचा। इस उत्तेजित भीड को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज और आंसू गैस का सहारा लेना पडा। बुधवार को गैंग रैप की वारदात सामने आने के बाद शहर में जबर्दस्त आक्रोश फैला


हिन्दूवादी संगठनों ने गुरुवार को घटना के विरोध रैली निकालने का आव्हान किया। सुबह ग्यारह बजे पैलेस रोड से प्रारंभ हुई इस रैली में हजारों की तादाद में युवा शामिल हुए। यह विशाल रैली शहर के प्रमुख मार्गों से होती हुई सेंट जोसेफ कान्वेन्ट स्कूल पंहुची। यहां पंहुचने के बाद रैली में शामिल युवक उत्तेजित हो गए और स्कूल के गेट पर पथराव करने लगे। कुछ उत्तेजित युवकों ने स्कूल की बाउन्ड्री वाल पर लगी लोहे की जालियां उखाड कर फेंक दी।


युवाओं के पथराव के दौरान रैली में शामिल कुछ युवकों को चोटें आई वहीं एक पुलिसकर्मी को भी पत्थर लगा। करीब आधे घंटे तक कान्वेन्ट स्कूल के सामने विरोध प्रदर्शन और ज्ञापन देने के बाद यह रैली समाप्त हो गई। लेकिन, प्रदर्शनकारियों का एक ग्रुप स्टेशन रोड स्थित आशीर्वाद होटल पंहुचा गया। स्टेशन रोड पंहुची आक्रोशित भीड ने आशीर्वाद होटल पर पथराव और तोडफोड की कोशिश शुरु कर दी। इस प्रदर्शन में महिलाएं भी शामिल थी। आक्रोशित भीड को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पडा।


पुलिस जवानों ने लाठियां भांजी ,लेकिन आक्रोशित प्रदर्शनकारी काबू में नहीं आ रहे थे। भीड को काबू में करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोडे। पुलिस द्वारा आंसू गैस के गोले छोडे जाने से जहां प्रदर्शनकारी प्रभावित हुए, वहीं स्टेशन रोड थाना प्रभारी राजेन्द्र वर्मा भी आंसू गैस की चपेट में आ गए। एक मीडीयाकर्मी को भी आंसूगैस लगी। स्थिति बिगड़ती देख कप्तान गौरव तिवारी खुद लाठी लेकर सडक़ पर उतर गए। कुछ देर की मशक्कत के बाद यहां स्थिति नियंत्रण में आ पाई।


विरोध रैली निकालकर कान्वेन्ट स्कूल पंहुचे प्रदर्शनकारियों ने कान्वेन्ट स्कूल के गेट पर एसपी गौरव तिवारी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि कान्वेन्ट स्कूल प्रशासन द्वारा हिन्दू बच्चों को मेहन्दी या बिन्दी आदि लगाने पर प्रताडित किया जाता है और कई तरह से उनका शोषण किया जाता है। ज्ञापन में मांग की गई है कि कान्वेन्ट स्कूल के खिलाफ कडी से कडी कार्यवाही की जाए। हिन्दूवादी संगठनों के इस विरोध प्रदर्शन में आरएसएस, भाजपा और अन्य संगठनों के पदाधिकारी शामिल हुए। नगर विधायक चैतन्य काश्यप, ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह लुनेरा, महामंत्री प्रदीप उपाध्याय, आरएसएस के संघचालक वीरेन्द्र वाफगांवकर, गोविन्द काकानी, डॉ.रत्नदीप निगम, समेत अनेक संगठनों के पदाधिकारी प्रदर्शन में शामिल हुए।

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति