साधु और शैतान की फेसबुक पोस्ट से गरमाई सांवेर की राजनीति, कंग्रेस पहुंची निर्वाचन आयोग, भाजपा ने कहा- कांग्रेस ने खुद ही शैतान की शिनाख्ती कर दी



इंदौर। सांवेर विधानसभा उपचुनाव में साधु और शैतान की एंट्री हो गई है। भाजपा प्रवक्ता के ये घड़ी है सांवेर के इम्तिहान की, ये लड़ाई है साधु और शैतान की.. वाले पोस्ट से राजनीति गरमा गई है। इसकी शिकायत लेकर कांग्रेस जिला निर्वाचन आयोग पहुंच गई है। कांग्रेस जिला अध्यक्ष सदाशिव यादव ने एसटी एससी एक्ट के तहत उमेश शर्मा पर कार्रवाई करने की मांग की। मामले में शनिवार को भाजपा ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस को हार का डर इस कदर सता रहा है कि खुद में इनको शैतान नजर आ रहा है


कांग्रेस को डिप्रेशन से बाहर आने के लिए ब्लॉक स्तर तक एक मनोचिकित्सक रखना चाहिए। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा और भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. राजेश सोनकर ने मीडिया से चर्चा में कहा कि गांव की गलियों से लेकर देश की राजधानी तक कांग्रेस पार्टी डिप्रेशन में है, ये तो सब जानते हैं। लेकिन इतने गहरे डिप्रेशन में हैं कि ये लोग खुद को शैतान समझ कर खुद को शैतान मान लेंगे, ये हमने सोचा भी नहीं था। उन्होंने कहा कि मानव समाज में हमेशा से सज्जन और दुर्जन, साधु और शैतान प्रवृत्ति रही है। ये सिलसिला त्रेता युग से चला आ रहा है।


मनुष्य को इनकी पहचान करके सज्जन और साधु प्रवृत्ति को अपनाना चाहिए। ये मनुष्य जीवन की सबसे बड़ी परीक्षा है। यह संदेश हर धर्म, हर पंथ, हर मजहब देता है। इससे कोई इनकार नहीं कर सकता। हमने कल विज्ञापन में भी यही कहा था कि ये घड़ी सांवेर के इम्तिहान की है। इसमें ना किसी व्यक्ति का नाम था ना किसी पार्टी का पर सुप्रीम कोर्ट में भगवान राम को काल्पनिक मानने का शपथ पत्र देने वाली कांग्रेस खुद को शैतान मानते हुए इसकी शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंच गई।


उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत करके कांग्रेस ने खुद साबित कर दिया कि वो खुद को और अपने कार्यकतार्ओं को शैतान प्रवृत्ति का मानती है। ये पूरा विज्ञापन भारतीय समाज की चिर पुरातन मानसिक, वैचारिक और आध्यात्मिक परंपरा पर आधारित है। इसके आइने में खुद को देखकर कांग्रेस यदि अपनी प्रवृत्ति को शैतान मानती है तो इसमें ना हम कुछ कर सकते हैं ना चुनाव आयोग। हम सिर्फ भगवान से प्रार्थना कर सकते हैं, पर ऐसा ना हो कि ये उसमें भी हमारी शिकायत कर दें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वाकई चिंताजनक स्थिति में है।


चुनाव तो आते-जाते रहेंगे पर डिप्रेशन आसानी से नहीं जाता। सोनियाजी और राहुलजी को अब सब कुछ छोड़कर ब्लॉक लेबल तक अपने संगठन में मनोचिकित्सक की नियुक्ति करना चाहिए, ताकि उनके कार्यकर्ता डिप्रेशन से बाहर निकल सकें। भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर ने कहा कि कांग्रेस हार के डर से बौखलाई है। सांवेर के विकास में कांग्रेस लगातार बाधा डाल रही है। जीतू पटवारी लगातार अभद्र भाषा बोल रहे हैं, मतदाताओं को धमका रहे हैं। सांवेर की जनता विकास चाहती है। वहीं, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा ने कहा कि कांग्रेस कांग्रेस जिला अध्यक्ष सदाशिव यादव ने निर्वाचन आयोग में शिकायत करते हुए एसटी एससी एक्ट को लेकर मुझ पर कार्रवाई करने की मांग की, हमने विज्ञापन में किसी का नाम अंकित नही किया, लेकिन सदाशिव यादव ने खुद की और कांग्रेस की शैतान के रूप में शिनाख्ती कर दी।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति