कोरोना का कहर: मंडीदीप में शादी के तीसरे दिन कोरोना पॉजिटिव हुई युवती, दूल्हे सहित परिवार के 32 लोगों को किया क्वारेंटाइन



भोपाल। जाटखेड़ी की एक युवती में शादी के तीसरे दिन कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके बाद मंडीदीप निवासी दूल्हे सहित परिवार के 32 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। युवती एम्स में भर्ती है। उसकी सोमवार को सतलापुर निवासी युवक से शादी हुई थी। युवती ने बताया कि उसे सात दिन पहले बुखार आया था। पड़ोसी डॉक्टर से दवा लेकर उसे आराम मिला। फिर भी परिजनों ने शनिवार को उसका सैंपल जांच के लिए दिया था। सोमवार को उसकी शादी हो गई


बुधवार को परिजनों ने उसे फोन कर बताया कि रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। औबेदुल्लागंज बीएमओ डॉ. अरविंद सिंह चौहान ने कहा कि परिवार के कुछ लोगों के सैंपल लिए गए हैं। भोपाल में 39, उज्जैन में 61 नए पॉजिटिव: भोपाल में बुधवार को कोरोना के 39 नए मरीज मिले हैं। इनमें 7 जाटखेड़ी क्षेत्र के हैं, जिनमें एक साल का बच्चा भी शामिल है। यहां अब पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है।


वहीं, उज्जैन में 61 नए मरीज मिले, जबकि एक की मौत हो गई। खंडवा में 22, बुरहानपुर में 12 मरीज मिले। इंदौर: दस दिन में 62 नए इलाकों में कोरोना: बीते दस दिनों में करीब 62 नए क्षेत्रों में कोरोना के मरीज मिले हैं। यानी बीमारी का फैलाव नए एरिया में भी हो रहा है। लॉकडाउन के बाद माना जा रहा था कि नए केस अब सामने नहीं आएंगे, लेकिन दो महीने बाद भी केस मिल रहे हैं। खास बात यह है कि यह नए केस नए इलाकों में मिल रहे हैं।


गंगा नगर, पंचम की फेल, लोहा गेट, लालबाग गेट, यशवंत नगर, बीएसएनएल आॅफिस नेहरू नगर, न्यू पलासिया, पागनीस पागा आदि इलाकों में मरीज मिले हैं। वहीं, शहर के 145 एरिया ऐसे हैं, जो पिछले तीन हफ्ते से एक तरह से स्थिर बने हैं। यहां न तो मरीजों की संख्या घटी है और न बढ़ी है। लॉकडाउन की सख्ती रहे तो यह एरिया भी कंटेनमेंट फ्री घोषित हो जाएं ऐसी उम्मीद जरूर हम कर सकते हैं।


हालांकि नए पॉजिटिव मरीजों का मिलना फिलहाल ज्यों का त्यों जारी है। बुधवार को 59 नए केस सामने आए। 644 सैंपल्स की जांच में 581 निगेटिव मिले। दो मरीजों की मौत भी हुई। वहीं, देवास में एक ही दिन में 10 लोग ठीक होकर अपने घरों को लौटे। इनमें 2 साल की बच्ची से लेकर 70 साल की बुजुर्ग शामिल थी। यह पहली बार है जब एक ही दिन में इतने मरीज ठीक होकर घर लौट रहे हैं। 2 वर्षीय बच्ची का नाम डेलिशा है। सभी ठीक दस मरीजों को डॉक्टरों ने फूलमाला पहनाकर कोरोना से जंग जीतने पर स्वागत किया। अधिकारियों और कर्मचारियों ने ताली बजाकर उनको विदा किया। अस्पताल के चेयरमैन मयंकराज सिंह भदौरिया ने आभार माना।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति