तिरुपति बालाजी मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन कर लौटे मुख्यमंत्री शिवराज, कहा- भारत-चीन सीमा पर उपजे तनावों को खत्म करने की प्रार्थना



भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने परिवार के साथ शनिवार को तिरुपति बालाजी मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की। दर्शन के बाद पंडितों ने उन्हें रंगनायकुला मंडपम में वेदाशिर्वचनम दिया


उन्होंने तिरुमला में नदनीराजनम मंडपम में सुंदरकांड पाठ कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया। फिर उन्होंने अखिलंदम में नारियल चढ़ाया और मनोकामना पूरी होने का आशीर्वाद लिया।


इसके पहले शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने चिन्ना जियार स्वामीजी से परिवार समेत मुलाकात की थी।


मुख्यमंत्री ने बाद में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पूरा देश इस समय एक तरफ कोरोना से और दूसरी तरफ सीमा पर उपजे तनाव के बुरे दौर से गुजर रहा है।


उन्होंने कहा कि आज मैंने भगवान वेंकटेश्वर से राष्ट्र को कोरोना के चंगुल से बचाने और भारत-चीन सीमा पर उपजे तनावों को खत्म करने की प्रार्थना की और उनका आशीर्वाद लिया। शिवराज ने ट्वीट कर कहा- श्रीवेंकटेश्वर के दर्शन हुए : मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट किया कि, आज सपरिवार तिरुपति बालाजी मंदिर में सम्पूर्ण ब्रह्मांड के स्वामी भगवान श्रीवेंकटेश्वर के दर्शन करने का सौभाग्य मिला। धरती के सभी जीवों के जीवन में सभी तरह के दु:ख-दर्द और कठिनाइयां समाप्त हों, ईश्वर से यही प्रार्थना की।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति