चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा, कहा- डीसीपी देव को चुनाव से संबंधित कोई काम न दें



नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने बुधवार को दिल्ली पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा। आयोग ने क्राइम ब्रांच के डीसीपी राजेश देव को दिल्ली विधानसभा चुनाव में किसी भी तरह का कार्य न दिए जाने की बात कही। दरअसल, डीसीपी देव ने मंगलवार को मीडिया के सामने शाहीन बाग में गोली चलाने वाले आरोपी युवक का आम आदमी पार्टी (आप) से संबंध होने को लेकर खुलासा किया था। इस पर आयोग ने कहा- देव का बयान अनावश्यक था। उनका व्यवहार दिल्ली में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने के खिलाफ था


हम चाहते हैं कि यह सुनिश्चित किया जाए कि डीसीपी देव को चुनाव से संबंधित कोई काम न दिया जाए। इससे पहले भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट किया- कमाल का मुख्यमंत्री है ये। पहले अन्ना हजारे का झूठ बोला। फिर अपने यारों को झूठ बोला। सारी सरकारों को झूठ बोला और फिर दिल्ली के हजारों को झूठ बोला।


वे मुख्यमंत्री हैं या ढोंगी? गंभीर ने दूसरे ट्वीट में कहा- आप का संदेश है- बहला दो या दहला दो, पर सत्ता हथिया लो। मैं दिल्ली के युवाओं से अपील करता हूं कि 8 फरवरी को अब सिर्फ दिल्ली का चुनाव नहीं, भविष्य बचाने की लड़ाई है। ये लड़ाई हम मिलकर लड़ेंगे और दिल्ली को दिल्ली बनाएंगे। भाजपा अपना सीएम कैंडिडेट तय करें: केजरीवाल: दिल्ली विधानसभा चुनाव से चार दिन पहले आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को घोषणा-पत्र जारी किया।


आप ने घोषणापत्र में साफ-सुथरी दिल्ली और स्वच्छ यमुना की गारंटी ली है। केजरीवाल ने कहा- जनतंत्र में जरूरी है बहस। जनता को जानना चाहिए कि हम क्या वादे कर रहे हैं और वो क्या वादे कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि भाजपा अपना सीएम कैंडिडेट तय करें। ताकि मैं उनसे ठीक तरह से बहस कर सकूं। केजरीवाल ने कहा- बहस में दो एंकर होने चाहिए। यह जनता के सामने होनी चाहिए। अगर जनता को यह नहीं पता कि उनका सीएम फेस कौन है तो वो वोट किसे देंगे।


जनतंत्र में सीएम जनता तय करती है। अमित शाह इसका फैसला नहीं करेंगे। अमित शाह कह रहे हैं कि दिल्ली की जनता उन्हें ब्लैंक चेक दे दे, बाद में वो सीएम का फैसला करेंगे। केजरीवाल देश के विकास को पचा नहीं पा रहे: योगी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा था कि वे (केजरीवाल) और विपक्ष इस तथ्य को पचा नहीं पा रहा है कि देश की समस्याओं का समाधान हो रहा है। इससे पहले योगी ने कहा था- पाकिस्तान के मंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन में बयान क्यों दे रहे हैं, क्योंकि वे अच्छी तरह जानते हैं कि केवल केजरीवाल ही हैं जो शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों को मुफ्त में बिरयानी खिला सकते हैं।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति