अयोध्या पहुंचकर मोदी को यह चुनौती दी उद्धव ठाकरे ने



अयोध्या। शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्ण बहुमत की सरकार अब अयोध्या में कानून बनाकर राम मंदिर का निर्माण करवाये, जिसका शिवसेना पूरा समर्थन करेगी


  ठाकरे ने रविवार को अपने परिवार एवं शिवसेना के 18 सांसदों के साथ विवादित श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला के दर्शन किये जिसके बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि पिछले कई वर्षों से रामजन्मभूमि पर राम मंदिर का मामला उच्चतम न्यायालय में लम्बित है लेकिन अब देश में एक मजबूत सरकार आयी है जो मंदिर का निर्माण करायेगी।


उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी में हिम्मत है कि संसद में कानून बनाकर राम मंदिर का रास्ता साफ करें। शिवसेना कदम से कदम मिलाकर सरकार के साथ है। शिवसेना ने हमेशा हिन्दुत्व की आवाज उठायी है और भाजपा भी हिन्दुत्व की बात करती है। जिसका परिणाम है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज किया है।


ठाकरे ने कहा कि पिछले साल नवम्बर में हम अयोध्या में आये थे और रामलला से यह वादा किया था कि चुनाव के बाद हम आयेंगे और उस समय हमने कहा था कि पहले मंदिर फिर सरकार जो आज भी कायम है कि कानून बनाओ और राम मंदिर बनाओ। कल से लोकसभा का सत्र शुरू हो रहा है, इसलिये शिवसेना के सांसद रामलला के दर्शन व आशीर्वाद लेकर लोकसभा सत्र में सच्चे रामभक्त के रूप में भाग लेंगे।


  ‘करें अदालत के फैसले का इंतजार’ राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद के पक्षकार मोहम्मद इकबाल अंसारी ने ठाकरे के अयोध्या दौरे पर नाराजगी जताते हुये कहा कि यह एक राजनेता की धर्म यात्रा नहीं बल्कि विशुद्ध रूप से राजनीति है। अंसारी ने कहा कि रामजन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद उच्चतम न्यायालय में विचाराधीन है। इसलिये दोनों पक्षों को अदालत के फैसले का इंतजार करना चाहिये। उन्होंने कहा कि ठाकरे की  अयोध्या यात्रा पूर्ण रूप से राजनीति से प्रेरित है। अयोध्या धर्मनगरी है। यहां  सरयू स्नान, हनुमानगढ़ी और  रामलला का दर्शन करना अच्छी बात है, लेकिन 18 सांसदों के साथ अयोध्या  आना, यह धर्म नहीं, बल्कि राजनीति है। उन्होंने कहा कि बाबरी  मस्जिद एवं रामजन्मभूमि की राजनीति न करें तो बेहतर है। इस  मामले को हल करने के लिये उच्चतम न्यायालय ने पैनल बनाया है। वही पैनल हिन्दू  और मुसलमान पक्षकारों को बुला रहे हैं। 

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति