शिवराज के मंत्री फिसली जुबान: अपनी ही पार्टी के खिलाफ बोल गए परिवहन मंत्री, कहा- भाजपा को नकली राम और नकली भगवा का सहारा लेना पड़ रहा है, जनता सब जानती है



भोपाल। सागर की सुरखी विधानसभा सीट से विधायक और प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत अपनी ही पार्टी यानी भाजपा के खिलाफ बोल गए। उन्होंने कहा- भाजपा को नकली राम और नकली भगवा का सहारा लेना पड़ रहा है। जनता सब जानती है


ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के विधायक राजपूत पांच महीने पहले ही कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं। वह यह बयान कांग्रेस के लिए देना चाहते थे, लेकिन उनकी जुबान शायद अभी इसके लिए पूरी तरह से अभ्यस्त नहीं हो सकी है।


परिवहन मंत्री अपनी विधानसभा क्षेत्र में राम शिला यात्रा निकाल रहे थे। सोमवार को इसके समापन पर उन्होंने पत्रकारों से चर्चा की।


जिस पार्टी के सिंबल पर वह सुरखी विधानसभा से उपचुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं, उसके खिलाफ ही बयान देने का एहसास होने पर उन्होंने खुद को संभालते हुए आगे कहा- मुंह में राम, बगल में दुरी हमेशा कांग्रेस की नीति रही है।


उपचुनाव में राजपूत भगवान राम के सहारे: उप चुनाव में जहां कांग्रेस दल-बदल को बड़ा मुद्दा बनाए हुए है, वहीं भाजपा पूर्ववर्ती सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर हमले कर रही है। सागर जिले के सुरखी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के संभावित उम्मीदवार गोविंद सिंह राजपूत ने उपचुनाव में भगवान राम का सहारा लिया है। वे अपनी विधानसभा में पांच राम शिला पूजन यात्राएं निकाल रहे हैं। इस यात्रा को लगभग 300 गांवों तक पहुंचाने का दावा किया गया है। हालांकि, राजपूत इन यात्राओं का राजनीतिक होने से इनकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि अयोध्या में राम मंदिर बनना है और इन शिलाओं को शिला पूजन के बाद राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या भेजा जाएगा।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति