राजस्थान की राजनीति: कांग्रेस में गए 6 बसपा विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई अर्जी, कहा-मर्जर को चैलेंज करने वाली पिटीशन हाईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट में कर दी जाए ट्रांसफर



जयपुर। बसपा से कांग्रेस में गए 6 विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई है। उनकी अपील है कि कांग्रेस में उनके मर्जर को चैलेंज करने वाली पिटीशन हाईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर कर दी जाएं


ट्रांसफर पिटीशन में बसपा विधायकों ने कहा है कि गोवा के ऐसे ही एक मामले की सुप्रीम कोर्ट में पहले से सुनवाई चल रही है। दोनों मामलों में एक जैसे ही सवाल हैं, इसलिए राजस्थान के मामले की सुनवाई भी सुप्रीम कोर्ट करे।


पिटीशन में यह भी कहा है कि राजनीतिक पार्टी के मर्जर होने के मामले में हाईकोर्ट कुछ तय नहीं कर सकता।


हाईकोर्ट की सिंगल बेंच 11 अगस्त को फैसला सुनाएगी: बसपा के 6 विधायकों के 9 महीने पहले कांग्रेस में शामिल होने को भाजपा विधायक मदन दिलावर और बसपा ने चुनौती दी है। मर्जर पर स्टे मिलेगा या नहीं, इस पर 11 अगस्त को फैसला होगा।


बसपा ने अपील की है कि उसके विधायकों को फ्लोर टेस्ट में किसी भी पार्टी के पक्ष में वोट डालने से रोका जाए। आखिरी फैसला होने तक विधायकों को विधानसभा की कार्यवाही में भी शामिल नहीं होने दिया जाए। गोवा के विधायकों का मामला क्या है?: जुलाई 2019 में गोवा में कांग्रेस के 15 में से 10 विधायक भाजपा में चले गए थे। कांग्रेस ने उन विधायकों को अयोग्य घोषित करने के लिए विधानसभा स्पीकर से अपील की, लेकिन स्पीकर ने कोई कार्यवाही नहीं की। ऐसे में गोवा कांग्रेस के अध्यक्ष गिरीश चोडणकर ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाकर स्पीकर की तरफ से जल्द फैसला करवाने की अपील की।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति