पाक पीएम की मुश्किलें नहीं हो रहीं कम, इमरान का अमेरिका में भी विरोध, शर्मिंदगी का करना पड़ा सामना



वाशिंगटन। दुनियाभर में चौतरफा घिरे पाकिस्तान पीएम इमरान खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। अमेरिका दौरे पर पहुंचे पाक पीएम को एक सामाजिक कार्यक्रम के दौरान शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है। जब वे कार्यक्रम में स्पीच दे रहे थे, उसी दौरान कुछ बलूच कार्यकर्ताओं द्वारा पाक सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की गई है


इसके पहले पाक पीएम अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी में कई बार विवादों की वजह से घिर चुके हैं। ऐसे में अमेरिका यात्रा के जरिये अपने हालात सुधारने की उम्मीद लेकर पहुंचे पाक पीएम को मुश्किलों का सामना करना पड़ा रहा है।


एक न्यूज एजेंसी के अनुसार पाक प्रधानमंत्री इमरान जब वाशिंगटन डीसी में एक कम्यूनिटी प्रोग्राम में अपना भाषण दे रहे थे उसी दौरान बलूच कार्यकर्ता पाक सरकार द्वारा बलूचिस्तान में बलूच लोगों के साथ हो रहे अत्याचारों के खिलाफ आवाज बुलंद करने लगे। इसके बाद उन्होंने पाक सरकार और पीएम इमरान के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की।


उल्लेखनीय है कि पाक पीएम के अमेरिका दौरे के पहले ही उनकी मुश्किलें उस वक्त बढ़ गईं थी, जब यूएस कांग्रेस के 10 सदस्यों ने प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप को पत्र लिखकर पाक पीएम से मुलाकात के वक्त सिंध प्रांत में हो रहे मानव अधिकार उल्लंघन का मामला उठाने का कहा था।


इतना ही नहीं बलूच स्वतंत्रता समर्थक नेता अल्लाह निजर बलूच ने भी ट्रंप को पत्र लिखकर बलूचिस्तान में पाक सरकार द्वारा किए जा रहे अत्याचारों पर रोक लगवाने की मांग उठाई है। पत्र में बलूच नेता ने लिखा कि 'हम बलूच सात दशकों से पाक के चाकुओं और क्लाशिनकोव से लैस सरकारी आतंकवाद का प्रतिरोध कर रहे हैं। अमेरिकी सैन्य सहायता की वजह से अत्यंत आधुनिक हथियारों से लैस पाकिस्तानी सेना ने हजारों बलूचों का अपहरण किया है, प्रताड़ित किया और हत्या की है। उन्होंने हमारे मृत लोगों के अंगों का व्यापार किया है, हमारी महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया है और हमारे गांव जलाए हैं।' 

loading...

वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति