सीमा पार से फिर कश्मीर में आतंक फैलाने की साजिश में जुटा पाक, 30 लॉन्च पैड किए तैयार



नई दिल्ली। पाकिस्तान एक बार फिर सीमा पार से कश्मीर में आतंक फैलाने की साजिश में जुट गया है। सुरक्षाबलों के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बुधवार को बताया कि पाक ने 30 लॉन्च पैड तैयार किए हैं। इसके जरिए वह गुरेज, करन और गुलमर्ग सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश कर सकता है


सुरक्षा एजेंसियों को मिली जानकारी के मुताबिक, पाक सेना और आईएसआई भी इन्हीं लॉन्च पैड्स के जरिए लश्कर और जैश के आतंकियों की घुसपैठ में मदद करेगी। अफगानिस्तान के आतंकियों को भी एलओसी के नजदीक लाया गया है। इस दल में करीब 230-280 आतंकियों के शामिल होने की आशंका है।


पाक आतंकियों ने फल व्यापारी के परिवार पर गोली चलाई थी: भारत लगातार पाकिस्तान पर कश्मीरी नागरिकों को निशाना बनाने और घाटी में आतंक फैलाने का आरोप लगाता रहा है। पिछले सप्ताह दो पाकिस्तानी आतंकी फल व्यापारी हमीदुल्लाह के घर में घुस गए थे। इस दौरान उन्होंने घरवालों पर गोलीबारी भी की।


इसमें उनकी ढाई साल की बेटी उसमा और बेटा मोहम्मद इरशाद घायल हो गए थे। बुधवार को सुरक्षाबलों ने सोपोर इलाके में एक आतंकी का इनकाउंटर किया। उसकी पहचान आसिफ मकबूल भट के रूप में हुई। वह लश्कर का आतंकी था।


230 पाकिस्तानी आतंकियों को देखा गया: डोभाल: हाल ही में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कहा था कि पाकिस्तान लगातार मुश्किलें पैदा करने की कोशिश कर रहा है। 230 पाकिस्तानी आतंकियों को देखा गया है। कुछ गिरफ्तार हो गए हैं जबकि कुछ घुसपैठ कर चुके हैं। उन्होंने बताया था कि पाकिस्तान की कोशिश है कि वह भारतीय सीमा में हिंसा के जरिए अस्थिरता लाए। पाकिस्तान ने भारत में बैठे अपने लोगों को यही निर्देश दिए हैं। इस संबंध में हुई बातचीत को भी खुफिया एजेंसियों ने इंटरसेप्ट किया था।

loading...

रत्नाकर  त्रिपाठी

रत्नाकर त्रिपाठी

रत्नाकर त्रिपाठी की गिनती प्रदेश के उन वरिष्ठ पत्रकारों में होती है जिन्हें लेखनी का धनी माना जा सकता है। राष्ट्रीय सहारा, दैनिक जागरण, दैनिक भास्कर सहित कई अखबारों और ई टीवी तक अपनी विशिष्ट छाप छोड़ने वाले रत्नाकर प्रदेश के उन गिने चुने संपादकों में से एक है जिनकी अपनी विशिष्ट पहचान उनकी लेखनी से है।



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति