कोरोना महामारी का असर त्योहार पर: ब्रज में मची जन्माष्टमी की धूम, पर श्रद्धालुओं के मंदिर में प्रवेश पर प्रतिबंध, नहीं कर पाएंगे दर्शन, कान्हा रात 12 बजे देंगे दर्शन



मथुरा। आज जन्माष्टमी है, भगवान श्रीकृष्ण का प्राकट्य उत्सव का दिन। महामारी का असर इस त्योहार पर भी पड़ा है। ब्रज में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की धूम तो है, लेकिन मंदिरों में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध भी है। मथुरा में भक्त जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण के दर्शन नहीं कर पा रहे हैं


नंदगांव में भी धूमधाम से पर्व मनाया जा रहा है। कान्हा के जन्म की खुशी में ब्रज मंडल सराबोर है। लेकिन, सावधानियां हर जगह अपनाई जा रही हैं। हर मंदिर में भगवान के प्राकट्य को लेकर उत्साह है। वृन्दावन के राधाकांत देव मंदिर में मंत्रोच्चारण के साथ अभिषेक शुरू हो गया है।


यह रात्रि 12 बजे तक चलेगा। ब्रज का परम्परागत दीपक नृत्य भी चल रहा है। मान्यता है कि भगवान के जन्म की खबर सुन ब्रजवासी इतने खुश हुए कि उन्होंने दीपक हाथ में लेकर नृत्य किया।


मंदिर बंद लेकिन, टीवी पर लाइव टेलिकास्ट: यूपी ब्रज तीर्थ विकास परिषद के सीईओ नागेन्द्र प्रताप ने बताया- मथुरा के सभी मंदिरों को भक्तों के लिए बन्द किया गया है। लेकिन, श्री कृष्ण जन्मस्थान से जन्मोत्सव का लाइव टेलिकास्ट किया जाएगा।


इसके लिए सभी चैनलों को सिटी मजिस्ट्रेट की तरफ से मंजूरी लेनी होगी। श्री कृष्णा जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा ने बताया- जन्मोत्सव में कमेटी के चुनिंदा लोग ही शामिल होंगे। साथ ही जो पुजारी है, वह रहेंगे। राधाकृष्ण का दूध से अभिषेक हुआ: मथुरा के विभिन्न मंदिरों में जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण के साथ राधा रानी की भी पूजा की गई। मंदिरों में भगवान कृष्ण और राधा के विग्रह का दूध से अभिषेक कर विधिविधान से पूजा की गई।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति