मुख्यमंत्री ने किया एकलव्य राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ, कहा- बाल खिलाड़ी बढ़ाएंगे देश की शान



भोपाल। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने सोमवार को यहाँ टी.टी. नगर स्टेडियम में एकलव्य आवासीय विद्यालयों की राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता 2019-20 का शुभारंभ करते हुए बाल खिलाड़ियों का आव्हान किया कि वे खेल की भावना से देश के भविष्य का निर्माण करें और इसकी शान बढ़ायें। उन्होंने कहा कि विविध संस्कृतियों, सभ्यताओं, भाषाओं और धर्मों के भारत देश की विशेषता को आत्मसात करें। अपनी उत्कृष्ट खेल प्रतिभा से दुनिया में भारत का नाम रोशन करें


मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि यह राष्ट्रीय आयोजन केवल खेल प्रतियोगिता नहीं है बल्कि हमारे देश की विविध संस्कृतियों, भाषाओं और धर्मों से जुड़े बच्चों के आपसी मेल-जोल का आयोजन हैं। इससे हमारे बच्चे अपने देश की विविधता को न केवल पहचानेंगे बल्कि आपसी संबंधों से देश की एकता को मजबूत बनायेंगे। मुख्यमंत्री ने देश के 23 राज्यों से आए 4000 प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने की शुभकामनाएँ दीं।


खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने एकलव्य आवासीय विद्यालयों की राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में भाग ले रहे सभी प्रतिभागियों को मध्यप्रदेश सरकार की ओर से ट्रेक सूट देने की घोषणा करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश पहला राज्य है, जहाँ राज्य के विभिन्न विधाओं के खिलाड़ियों के लिए बीमा योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा कि कमल नाथ ने मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद पूरे प्रदेश में खेलकूद का एक नया वातावरण बनाया है। गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर प्रदेश के हर ब्लाक में खेल प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है।


उन्होंने कहा कि हम प्रयास कर रहे हैं कि अगले राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं की मेजबानी मध्यप्रदेश करे। उन्होंने केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय से आग्रह किया कि वे प्रदेश के आदिवासी खिलाड़ियों को बेहतर शिक्षण, प्रशिक्षण देने के लिए मदद करें। आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम ने कहा कि मध्यप्रदेश में आदिवासी क्षेत्रों की खेल प्रतियोगिताओं को आगे बढ़ाने और उन्हें अवसर प्रदान करने के प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि आदिवासी बच्चों में प्रतिभाओं की कमी नहीं है।


वे एकलव्य के वंशज हैं, जिनमें एक निष्ठा और मेहनत करने की भरपूर क्षमता है। मरकाम ने कहा कि भोपाल में हो रही खेल प्रतियोगिता का यह राष्ट्रीय आयोजन मुख्यमंत्री कमल नाथ की पहल का परिणाम है। प्रारंभ में मुख्यमंत्री कमल नाथ ने महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण किया। एकलव्य राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में भाग ले रहे 23 राज्यों के बाल खिलाड़ियों ने मार्च पास्ट कर मुख्यमंत्री को सलामी दी। मुख्यमंत्री ने खेल प्रतियोगिता के शुभारंभ की घोषणा की। विभिन्न विधाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों ने खेल मशाल प्रज्जवलित की। मध्यप्रदेश की बाक्सिंग में गोल्ड मैडल प्राप्त करने वाली खिलाड़ी सुपूजा कुशवाहा ने प्रतिभागी खिलाड़ियों को खेल भावना की शपथ दिलवाई। इस मौके पर मध्यप्रदेश के लोकप्रिय आदिवासी लोक नृत्यों का प्रदर्शन किया गया। समारोह में केन्द्रीय जनजातीय मंत्रालय के सचिव दीपक खांडेकर, प्रमुख सचिव आदिम जाति कल्याण श्रीमती दीपाली रस्तोगी और बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे।

loading...

रत्नाकर  त्रिपाठी

रत्नाकर त्रिपाठी

रत्नाकर त्रिपाठी की गिनती प्रदेश के उन वरिष्ठ पत्रकारों में होती है जिन्हें लेखनी का धनी माना जा सकता है। राष्ट्रीय सहारा, दैनिक जागरण, दैनिक भास्कर सहित कई अखबारों और ई टीवी तक अपनी विशिष्ट छाप छोड़ने वाले रत्नाकर प्रदेश के उन गिने चुने संपादकों में से एक है जिनकी अपनी विशिष्ट पहचान उनकी लेखनी से है।



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति