गृहमंत्री नरोत्तम का तंज: कांग्रेस शासन में हर काम पैसे से होता था, यही कारण बना हार का कारण



दतिया। प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने रविवार को फिर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में हर काम पैसे से होता था, यही कारण है कि वह बुरी तरह हारी। उसके कार्यकर्ता आखिरी तक एक नहीं हो पाए, जबकि हमारे कार्यकर्ता अंत तक एक रहे। इससे हम भांडेर छोड़कर सभी सीटें बड़े अंतर से जीते


मंत्री नरोत्तम मिश्रा रविवार सुबह दतिया पहुंचे और कार्यकतार्ओं की बैठक ली। भारतीयम विद्या पीठ में आयोजित इस बैठक में उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा जीवन में हमें विनम्र रहना चाहिए, इससे हमारे काम का विस्तार होता है। बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं ने देव ढाबे पर उनका जोरदार स्वागत किया। इसस पहले मिश्रा राजघाट कॉलोनी स्थित निवास पर गए।


यहां उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनी। बंगाल को लेकर दिया था ये बयान: नरोत्तम मिश्रा हाल ही में पश्चिम बंगाल गए थे। उन्हें पार्टी हाईकमान द्वारा यहां होने वाले विधानसभा चुनाव की जिम्मेदारी दी गई है।


गौरतलब है कि बंगाल जाने से पहले मिश्रा ने भोपाल में महानायक अमिताभ बच्चन की सास और अभिनेत्री जया भादुड़ी की मां से मुलाकात की थी और उन्हें बंगाल के हालात की जानकारी दी। उस वक्त मंत्री ने कहा था कि हमारी कोशिश है कि बंगाल से बाहर रहने वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों को बंगाल में इखढ से जोड़ें।


जल्द ही मध्य प्रदेश में रहने वाले बंगाली समुदाय के और भी लोगों को इस अभियान से जोड़ा जाएगा। नरोत्तम मिश्रा के मुताबिक, पश्चिम बंगाल के ढाई लाख लोग मध्य प्रदेश में रहते हैं। उनसे अपील करेंगे वो बंगाल के लोगों को राष्ट्रवाद के मुद्दे पर मोदीजी के नेतृत्व में मुख्यधारा में जोड़ें। ममता सरकार ने बुरा हाल कर रखा है। वर्ष 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान बुंदेलखंड इलाके में और फिर गुजरात में काफी सक्रिय रहे नरोत्तम मिश्रा मध्य प्रदेश के तीसरे नेता हैं, जिन्हें बंगाल का दायित्व सौंपा गया है। उनसे पहले कैलाश विजयवर्गीय को पश्चिम बंगाल का प्रभारी बनाया गया था, और पूर्व संगठन महासचिव अरविंद मेनन को भी अहम जिम्मेदारी सौंपी गई थी।


वेब खबर

वेब खबर



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति