Life Styleहेल्थ

बेहद प्रभावशाली है सरसों तेल, स्किन और हेयर केयर के लिए है वरदान

खाने में सरसों के तेल के इस्तेमाल के साथ ही हमें ठंड में इससे मालिश भी करनी चाहिए। ताकि ये हमारी हड्डियों को मजबूती प्रदान कर सके। 

हेल्थ डेस्क : ठंड का मौसम आते ही हम लोग अपनी हेल्थ और फिटनेस को लेकर काफी सक्रिय हो जाते है। ऐसे में सरसों का तेल हमारे लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। खाने में सरसों के तेल के इस्तेमाल के साथ ही हमें ठंड में इससे मालिश भी करनी चाहिए। ताकि ये हमारी हड्डियों को मजबूती प्रदान कर सके। पहले के समय में सर्दी के मौसम में बच्‍चों और बुजुर्गों की मालिश सरसों के तेल से ही की जाती थी, लेकिन अब लोग जैतून के तेल का इस्‍तेमाल करने लगे हैं। सरसों के तेल में एंटी-बैक्‍टीरियल गुण होते हैं जो बैक्‍टीरिया और फंगस को रोकने का बखूबी काम करते है। सरसों का तेल देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी औषधीय गुणों के कारण प्रयोग किया जाता है। आइए जानते है इससे मिलने वाले हेल्‍थ बेनिफिट्स के बारे में।

स्किन और बालों के लिए हेल्‍दी
सरसों के तेल का प्रयोग बालों और स्किन की हेल्‍थ को सुधारने के लिए किया जा सकता है।  सरसों के तेल को होममेड फेस मास्‍क और बालों के उपचार में इस्‍तेमाल करने के साथ ही इसे वैक्‍स में मिलाकर फटी एड़ी को भी ठीक किया जा सकता है।

 

 

दर्द कम करता है
सरसों के तेल में एलिल आइसोथियोसाइनेट होता है। ये एक प्रकार का केमिकल है जो दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। जो गठिया के दर्द और सूजन को कम कर सकता है।

कैंसर में प्रभावी
सरसों का तेल कुछ प्रकार के कैंसर सेल्‍स के विकास और ग्रोथ को धीमा करने में मदद कर सकता है। सरसों का तेल कैंसर से प्रभावित सेल्‍स को खत्‍म करने की क्षमता रखता है।

 

हार्ट हेल्‍थ को करता है प्रमोट
सरसों के तेल में हाई मोनो अनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है जो अधिकतर नट्स, सीड्स और पौधों में पाया जाता है। इसके कई हेल्‍थ बेनिफिट्स हैं। ये हार्ट को हेल्‍दी रखता है। साथ ही हाई बीपी और ब्‍लड शुगर लेवल को कम करने में भी भूमिका निभाता है।

 

हड्डियों को बनाए मजबूत
सरसों का तेल हड्डियों के लिए भी फायदेमंद होता है। पैर में दर्द, ज्‍वाइंट्स पेन और अर्थराइटिस के दर्द में यदि सरसों के तेल को गर्म करके मालिश की जाए, तो इससे आराम मिल सकता है। इसके अलावा नियमित रूप से इससे छोटे बच्‍चे की मालिश की जाए तो उसकी हड्डियों को मजबूत बनाया जा सकता है।
सरसों का तेल सदियों से भारत में प्रयोग किया जा रहा है। ये खाने में जितना फायदेमंद होता है। उतना ही ये स्किन और हड्डियों की मालिश के भी काम आता है। इसका प्रयोग कई समस्‍याओं में किया जा सकता है।

अंजलि

2009 से लगातार जारी समाचार पोर्टल webkhabar.com अपनी विशिष्ट तथ्यात्मक खबरों और विश्लेषण के लिए अपने पाठकों के बीच जाना जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button