होम सियासी हलचल
after-the-political-stir-the-governor-approved-the

सियासी हलचल के बाद राज्यपाल ने दी अध्यादेश को मंजूरी, अब पार्षद चुनेंगे महापौर और अध्यक्ष

चार दिन की सियासी हलचल के बाद मंगलवार को राज्यपाल लालजी टंडन ने मप्र नगर पालिक विधि संशोधन अध्यादेश-2019 का अनुमोदन कर दिया। अध्यादेश लागू होने पर नगरीय निकायों में अब करीब 20 साल बाद फिर से जनता के बजाय पार्षद महापौर व अध्यक्ष को चुनेंगे। सरकार का ऐसा मानना है कि महापौर के चुनाव सीधे नहीं होने से करीब 30-35 करोड़ रु. बचेंगे। भोपाल में ही करीब 3 करोड़ रुपए चुनाव में खर्च होने का अनुमान रहता है। उधर, राजनीतिक दलों के खर्चों को भी जोड़ा जाए तो अप्रत्यक्ष तौर पर महापौर के चुनाव में खर्च होने वाली राशि शासकीय खर्च का 5 से 6 गुना होती है। सरकार ने नगरीय निकाय चुनाव से संबंधित दो बिल राज्यपाल की मंजूरी के लिए भेजे थे।  आगे पढ़ें

28000-jawans-deployed-in-kashmir-valley-in-the-mid

सियासी हलचल के बीच कश्मीर घाटी में अचनाक तैनात किए गए 28 हजार जवान

जम्मू-कश्मीर में जारी सियासी हलचल के बीच घाटी में सुरक्षा बलों की 280 से अधिक कंपनियां (28 हजार जवान) तैनात की जा रही हैं। आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। सूत्रों ने कहा कि सुरक्षा बलों को श्रीनगर शहर के अतिसंवेदनशील इलाकों तथा घाटी की अन्य जगहों पर तैनात किया जा रहा है। इनमें अधिकतर सीआरपीएफ के जवान हैं। सूत्रों ने कहा कि इस तरह अचानक 280 से अधिक कंपनियों (28,000 सुरक्षाकर्मियों) को देर शाम तैनात किए जाने का कोई कारण नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि शहर में प्रवेश और बाहर निकलने के सभी रास्तों को केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों को सौंप दिया गया है। स्थानीय पुलिस की महज प्रतीकात्मक उपस्थिति है। स्थानीय निवासी घबराए हुए हैं और उन्होंने जरूरी सामान खरीदना शुरू कर दिया है।  आगे पढ़ें

political-stir-up-after-exit-poll-enthusiasm-in-nd

एग्जिट पोल के बाद बढ़ी सियासी हलचल, एनडीए में उत्साह तो विपक्ष ने ईवीएम पर उठाए सवाल

एग्जिट पोल जारी होने के बाद एक तरफ जहां एनडीए खेमे में उत्साह है, वहीं विपक्षी दल एग्जिट पोल को खारिज कर रहे हैं। इस बीच, सियासी हलचल बढ़ गई है। सोमवार को अखिलेश यादव ने मायावती से मुलाकात की। इस बीच, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह 21 मई को एनडीए नेताओं के साथ मुलाकात कर सकते हैं और उनके साथ भोज का आयोजन भी कर सकते हैं। वहीं, चुनाव प्रचार के समय से गैर-भाजपाई दलों को एक जुट करने में जुटे आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू का अलग-अलग नेताओं से मिलने का क्रम जारी है। वे नतीजों से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात कर सकते हैं। नायडू इससे पहले राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, मायावती और अखिलेश यादव से मिल चुके हैं। इस बीच, नाडयू ने मतगणना का प्रक्रिया और ईवीएम पर सवाल उठाया है।  आगे पढ़ें

political-stir-in-up-increased-congress-candidate-

यूपी में सियासी हलचल बढ़ी, कांग्रेस प्रत्याशी ने मायावती और अखिलेश के फैसले पर उठाए सवाल

मसूद ने बताया, 'एसपी-बीएसपी के नेताओं के फैसले से मुस्लिम समुदाय नाराज है। यूपी के मुस्लिम इस बात पर हैरानी जता रहे हैं कि क्या गठबंधन कांग्रेस के साथ नहीं खड़ा होकर बीजेपी का पक्ष ले रहा है?' उन्होंने दावा किया कि भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद की रिहाई में अहम भूमिका निभाने के चलते भीम आर्मी भी उनका समर्थन कर रही है और वह इस लोकसभा चुनाव में 5 लाख से ज्यादा वोट पाएंगे।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति