होम सर्वोच्च न्यायालय
home-minister-gave-instructions-to-police-officers

गृहमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को दिया निर्देश, कहा- अयोध्या फैसले को ध्यान में रखकर करें सुरक्षा के इंतजाम

गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन ने आज मंत्रालय में गृह विभाग तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक में निर्देश दिये कि अयोध्या पर सर्वोच्च न्यायालय के आने वाले फैसले को ध्यान में रखकर प्रदेश में शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जायें। बैठक में प्रमुख सचिव गृह एस.एन. मिश्रा एवं पुलिस महानिदेशक विजय कुमार सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  आगे पढ़ें

sangh-said-all-should-accept-the-decision-of-the-c

संघ ने कहा- अयोध्या विवाद पर न्यायालय का फैसला सभी को मन स्वीकार करना चाहिए

हिंदू संगठन ने एक अन्य ट्वीट में कहा, अयोध्या विवाद पर अदालत के फैसले के बाद बनने वाले हालात पर चर्चा के लिए, राजधानी में वरिष्ठ पदाधिकारियों की 2 दिवसीय बैठक बुलाई गई है। आरएसएस के प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने कहा, राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के बारे में सुप्रीम कोर्ट का फैसला कुछ दिनों में आने की उम्मीद है। जो भी फैसला हो, सभी को उसे खुले मन से स्वीकार करना चाहिए। देश में सामाजिक समरसता बनी रहे, ये सभी की जिम्मेदारी है। बैठक में भी इस मुद्दे पर विचार किया जा रहा है।  आगे पढ़ें

supreme-court-order-on-nrc-process-to-be-completed

एनआरसी पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश, 31 अगस्त तक पूरी हो प्रक्रिया

चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा कि नामों को शामिल करने और हटाने वाली लिस्ट की केवल हार्ड कॉपी ही जिला कार्यालय पर उपलब्ध कराई जाए। सेक्शन 66ए पर दिए गए फैसले के आधार पर एनआरसी को अपडेट किया जाए। बता दें कि इस मामले में आज फिर सुनवाई हुई है। इससे पहले 23 जुलाई को हुई सुनवाई में सरकार की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने एनआरसी की फाइनल लिस्ट जारी करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई से बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी थी।  आगे पढ़ें

when-will-it-come-thursday

अब कब आएगा ऐसा गुरूवार ?

श्रीलाल शुक्ल से वाक्य उधार लेकर एक बात लिखी जा सकती है। वह यह कि बांग्लादेशी घुसपैठियों की बांछें, वो जिस्म में जहां कहीं भी होती हों, खिल गई होंगी। यह जानकर कि ममतामयी आंचल अब भी उन पर छाया हुआ है। उन्हें उनके सारे दुर्गुण और पापों के साथ इसी देश में सुरक्षित रखने वाला आंचल। आंचल कपड़े का होता है और इसी कपड़े से कफन भी बनता है। जिसके नीचे देश की सुरक्षा और इसके वास्तविक नागरिकों के अधिकारों को शव की तरह ढंकने का जतन चल रहा है।read more  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति