होम सरकार
cm-of-delhi-expressed-willingness-to-work-and-coop

दिल्ली के सीएम ने मंदी से निपटने केन्द्र सरकार के साथ काम करने और सहयोग की जताई इच्छा

देश में इन दिनों आर्थिक मंदी का दौर चल रहा है। इसके चलते जहां केंद्र सरकार ने शुक्रवार को बिजनेस सेक्टर को बड़ी राहत देने की घोषणा की है, वहीं इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का भी बयान सामने आया है। केजरीवाल ने मंदी से निपटने के लिए केंद्र सरकार के साथ काम करने और उसे सहयोग करने की इच्छा जताई है। केजरीवाल ने कहा कि 'मुझे पूरा विश्वास है कि आर्थिक मंदी के इस दौर से निपटने के लिए केंद्र सरकार कड़े कदम उठाएगी। केंद्र द्वारा जो भी कदम उठाए जाएंगे दिल्ली सरकार मंदी से उबरने के लिए उसमें सहयोग करेगी।'  आगे पढ़ें

inx-media-gets-chidambarams-approval-for-foreign-i

आईएनक्स मीडिया को मिली विदेशी निवेश की मंजूरी चिदंबरम को पड़ा भारी, इंद्राणी के एक बयान ने पहुंचाया जेल

इंद्राणी और पीटर मुखर्जी ने 2006 में आईएनएक्स मीडिया की स्थापना की थी। एक साल बाद 13 मार्च 2007 को कंपनी ने विदेशी निवेश के प्रस्ताव की अर्जी विदेशी निवेश प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) के पास भेजी। उस वक्त यही बोर्ड कंपनियों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के प्रस्तावों को मंजूरी देता था। आर्थिक मामलों के सचिव इस बोर्ड के अध्यक्ष हुआ करते थे।  आगे पढ़ें

on-cbi-action-rahul-said-central-government-is-con

सीबीआई की कार्रवाई पर राहुल ने कहा- चिदंबरम की छबि खराब करने केन्द्र सरकार कर रही साजिश

आईएनएक्स मीडिया केस में पी चिदंबरम के खिलाफ ईडी और सीबीआई की कार्रवाई को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की साजिश बताया है। राहुल ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार चिदंबरम की छवि खराब करने के लिए एजेंसियों और बिना रीढ़ की मीडिया के एक वर्ग का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि मैं ताकत के इस गलत इस्तेमाल की निंदा करता हूं। दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। इसके बाद देर रात ईडी और सीबीआई चिदंबरम के घर पहुंची थी, लेकिन वे नहीं मिले।  आगे पढ़ें

dard-gaur-jaise-birale-ko-khone-ka

दर्द गौर जैसे बिरले को खोने का

गौर साहब बहुत याद आएंगे। भोपाल को राजधानी का स्वरूप देने का श्रेय वाकई गौर साहब के खाते में दर्ज है। भोपाल शहर के सौंदर्यीकरण की तमाम सौगातों में उनकी स्मृति अक्षुण्ण रहेगी। राज्य विधानसभा से लेकर चौहत्तर बंगला स्थित सरकारी आवास के जर्रे-जर्रे में उनके ठहाकों की गूंज हमेशा सुनायी देती रहेगी। मैं उन्हें हमेशा कहता था कि इस शहर में सबसे बड़ी मूर्ति आपकी ही लगनी चाहिए। मैं अब भी अपनी बात पर कायम हूं। यह भी स्मृति से कभी विलुप्त नहीं होगा कि वह ऐसे इकलौते राजनीतिज्ञ रहे, जिन्होंने अपने विरुद्ध प्रकाशित/प्रसारित किसी समाचार पर कभी गुस्सा नहीं किया। ना कभी शासक सी प्रतिक्रिया भी व्यक्त की। मुझे याद है जब वे मुख्यमंत्री थे तब दैनिक जागरण ने उनका नाम अखबार में छपना प्रतिबंधित कर दिया था। किसी ने उन्हें दैनिक जागरण कार्यालय से संबंधित कोई कमी बता कर हिसाब चुकता करने का सुझाव दिया, गौर साहब ने तुरंत अपने दोनों हाथ सामने वाले के सामने जोड़ लिए, ऐसे मौकों पर जय हो आपकी, उनका तकिया कलाम सा था। मैं जब कभी उनके बारे में कुछ लिखता था, चाहे वो अच्छा लिखा हो या आलोचना, फोन लगा कर वे धन्यवाद जरूर देते थे। read more  आगे पढ़ें

imran-government-preparing-to-take-kashmir-case-to

कश्मीर मामले को अंरराष्ट्रीय अदालत में ले जाने की तैयारी कर रही इमरान सरकार

हाल ही में कश्मीर मसले को लेकर सुरक्षा परिषद में हुई गुप्त बैठक बिना किसी नतीजे के समाप्त हो गई थी। संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान और उसके सहयोगी चीन द्वार इस मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश नाकाम रही। सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया था कि बैठक के बाद चीन अगस्त महीने के सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष पोलैंड द्वारा एक प्रेस बयान के लिए जोर दे रहा था। यूनाइटेड किंगडम (यूके) ने भी चीन का समर्थन किया था। हालांकि, बैठक के बाद पोलैंड की ओर से कोई बयान नहीं आया है।  आगे पढ़ें

after-two-years-yogi-governments-first-cabinet-exp

दो साल बाद योगी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार आज, नए मंत्रियों को आनंदी बेन दिलाएंगी शपथ

उत्तर प्रदेश सरकार का बुधवार को कैबिनेट विस्तार होगा। सुबह 11 बजे राजभवन में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल नए मंत्रियों को शपथ दिलाएंगी। इससे पहले मंगलवार को पांच मंत्रियों ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। लेकिन चार का मंजूर किया गया है। 2017 में उप्र की सत्ता में आने के बाद यह पहला कैबिनेट विस्तार है। पांच मंत्रियों के इस्तीफे के बाद सरकार में 20 कैबिनेट, 9 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 13 राज्यमंत्री हैं।  आगे पढ़ें

high-speed-of-bhopal-indore-metro-train-delhi-mou-

भोपाल-इंदौर मेट्रो ट्रेन की बढ़ी रफ्तार, महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के लिए दिल्ली हुआ एमओयू

भोपाल और इंदौर मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन मध्यप्रदेश मेट्रो रेल कापोर्रेशन द्वारा किया जायेगा। यह कंपनी अब भारत सरकार और मध्यप्रदेश सरकार की 50:50 ज्वाइंट वेंचर कंपनी में परिवर्तित होगी। कंपनी प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए स्पेशल पर्पज व्हीकल के रूप में कार्य करेगी। कंपनी का एक बोर्ड आफ डायरेक्टर्स होगा। इसमें 10 डायरेक्टर होंगे। भारत सरकार बोर्ड के चेयरमेन सहित 5 डायरेक्टर नामित करेगी। प्रदेश सरकार मैनेजिंग डायरेक्टर सहित 5 डायरेक्टर नामित करेगी।  आगे पढ़ें

on-the-demand-of-acharya-the-yogi-government-incre

आचार्य की मांग पर योगी सरकार ने राम मंदिर के प्रधान पुजारी बढ़ाया वेतन, सहयोगी स्टाफ के भत्ते में भी इजाफा

योगी सरकार ने अस्थाई राम मंदिर के प्रधान पुजारी और कर्मियों का भत्ता बढ़ाने का निर्णय लिया है। अयोध्या के मंडलायुक्त मनोज मिश्रा ने मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास को इस बात की जानकारी दी। आचार्य सतेंद्र दास हाल ही में भत्ते में बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर मंडलायुक्त से मुलाकात भी की थी। अभी प्रधान पुजारी को 12 हजार रुपए मासिक पारिश्रमिक मिलता है। यह कमिश्नर द्वारा दिया जाता है।  आगे पढ़ें

nsa-doval-who-went-to-the-valley-to-take-stock-of-

घाटी में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने गए एनएसए डोभाल 11 दिन बाद लौटे, 6 अगस्त को सरकार ने भेजा था

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शुक्रवार को दिल्ली लौट आए। वे पिछले 11 दिनों से कश्मीर घाटी के दौरे पर थे। अधिकारियों ने बताया कि डोभाल अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी के सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम देखने गए थे। 6 अगस्त को केंद्र सरकार ने उन्हें भेजा था। डोभाल ने दौरे के दौरान यह सुनिश्चित किया कि घाटी में जानमाल की कोई हानि न हो। उन्होंने शोपियां में स्थानीय लोगों से बातचीत भी की। उनके साथ खाना भी खाया। यह इलाका एक समय में आतंकी गतिविधियों के लिए कुख्यात था।  आगे पढ़ें

kamal-nath-again-took-a-loan-of-one-thousand-crore

प्रदेश की माली हालत को पटरी में लाने कमलनाथ ने फिर लिया एक हजार करोड का कर्ज

कर्जमाफी से गड़बड़ाई प्रदेश की माली हालत को पटरी पर लाने के लिए सरकार बाजार से लगातार कर्ज ले रही है। इसी महीने सरकार ने फिर एक हजार करोड़ रुपए उधार लिया है, ताकि विकास परियोजनाओं का काम न रुके। वर्ष 2019 में ऐसा कोई महीना नहीं बीता, जब सरकार ने भारतीय रिजर्व बैंक के माध्यम से कर्ज न लिया हो। जनवरी से अगस्त तक सरकार 12 हजार 600 करोड़ रुपए का कर्ज ले चुकी है। चालू वित्तीय वर्ष (अप्रैल से अब तक) में छह हजार करोड़ रुपए लिए गए हैं। हालांकि अभी सरकार 18 हजार करोड़ रुपए तक और कर्ज ले सकती है।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10  ... Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति