होम सतना
vindhya-gives-bjp-along-with-lotus-feeding-on-four

विंध्य ने दिया भाजपा का साथ, चारों सीटों पर खिला कमल

सतना, शहडोल और सीधी में इस बार कांग्रेस की उम्मीदों पर मोदी फैक्टर ने कुठाराघात कर दिया। विधानसभा चुनाव 2018 में भी विंध्य ने यहां कांग्रेस के बड़े-बड़े दिग्गजों को हार का मुंह देखने को मजबूर कर दिया था। खास बात यह रही कि इस क्षेत्र की चार में से दो सीटों पर महिलाओं ने जीत दर्ज कराई है।  आगे पढ़ें

satna-lok-sabha-seat-electoral-atmosphere-at-the-p

सतना लोकसभा सीट: चुनावी माहौल चरम पर, प्रमुखता से उठा रोजगार का मुद्दा

1984 में कांग्रेस ने यहां से अजीज कुरैशी को मैदान में उतारा। 1989 में बीजेपी के सुखेंद्र सिंह यहां के सांसद बने। 1991 के चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता अर्जुन सिंह ने जीत हासिल की। 1996 में यहां से बसपा के सुखलाल कुशवाहा यहां से जीतने में सफल रहे। 1998, 99 में भाजपा के रामानंद सिंह यहां से सांसद चुने गए। 2004, 2009 में गणेश सिंह को जीत मिली थी। सतना लोकसभा सीट पर 6 बार बीजेपी को, 4 बार कांग्रेस को, 1 बार बसपा को और 1 बार भारतीय जनसंघ को जीत मिल चुकी है।  आगे पढ़ें

polling-begins-in-seven-seats-in-madhya-pradesh-mo

मध्यप्रदेश में सात सीटों पर मतदान शुरू, 1 करोड़ से ज्यादा मतदाता करेंगे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

सतना के वार्ड क्रमांक 44 के पूर्व पार्षद अशोक गुप्ता की माताजी शांति देवी गुप्ता का रविवार शाम 6:30 बजे निधन हो गया था, सोमवार सुबह उनका अंतिम संस्कार होना था, लेकिन इसके पहले पूरा परिवार वोट डालने पहुंचा और एक मिसाल कायम की। परिवार के सदस्य गोकुल प्रसाद गुप्ता(पति) और बेटे अशोक गुप्ता, कैलाश गुप्ता और ओम प्रकाश गुप्ता ने अपने पत्नी और बच्चों के साथ मतदान किया।  आगे पढ़ें

congress-land-in-vindhy-so-slipped

विंध्य में कांग्रेस की जमीन इसलिए खिसकी..!

राहुल गांधी का विधानसभा चुनाव के दौरान रीवा-सतना जिले में रोडशो हुआ था। इस शो का परिणाम फ्लाप रहा क्योंकि रीवा की सभी आठों सीटें भाजपा की झोली में जा गिरीं। राहुल गाँधी के दिमाग में यह सवाल जरूर कुलबुलाएगा कि ऐसा क्यों हुआ? तब उन्हें यह बात याद दिलाने की जरूरत पड़ेगी कि विधानसभा चुनाव की सिरमौर चौराहे कि उस नुक्कड़ सभा में आपने अपने पिता राजीव गांधी की प्रतिमा के आगे यह ऐलान किया था कि विधानसभा में पैराशूट कैंडिडेट लैंड नहीं करेंगे। लेकिन आपके दिल्ली लौटते ही मध्यप्रदेश कांग्रेस के दफ्तर में ऐसी खिचड़ी पकी कि पैराशूट लैंडर प्रत्याशियों का तांता सा लग गया। इसी रीवा जिले में रीवा, मनगँवा और देवतालाब विधानसभा क्षेत्र से वो प्रत्याशी उतारे गए जो तीन महीने पहले तक कांग्रेस का नाश मनाते रहे। सीधी के सिंगरौली से भी ऐसा ही प्रत्याशी उतारा गया। सिर्फ सतना विधानसभा क्षेत्र के पैराशूट लैंडर ने चुनाव जीतकर लाज रखी जो इस चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी की खुलेआम कब्र खोद रहा है। मुश्किल यह है कि कांग्रेस आलाकमान इस गाढ़े वक्त में भी ठकुरसुहाती से मुक्त नहीं है। read more  आगे पढ़ें

complain-to-the-commission-against-mp-ganesh-singh

सांसद गणेश सिंह के खिलाफ आयोग से शिकायत, कांग्रेस ने कहा- शादी में किया प्रचार

सतना लोकसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी और सांसद गणेश सिंह के खिलाफ कांग्रेस ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) कार्यालय से आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत की है। कांग्रेस के चुनाव आयोग कार्य प्रभारी जेपी धनोपिया ने बुधवार को लिखित शिकायत में सांसद गणेश सिंह पर नजदीकी रिश्तेदार और नगर पंचायत रामनगर के अध्यक्ष राम सुशील पटेल की बेटी की शादी में शामिल होने और इस समारोह का इस्तेमाल चुनावी प्रचार के लिए करने का आरोप लगाया है। वहीं पार्टी ने भाजपा नेताओं द्वारा राज्य सरकार के खिलाफ बयानबाजी को गलत बताते हुए आयोग से शिकायत की है।  आगे पढ़ें

before-the-announcement-of-the-candidate-rajendra-

प्रत्याशी घोषित होने के पहले राजेंद्र सिंह का जनता से वचन पत्र....?

कुछ सीटों पर कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने संकेतों के आधार पर अपना चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है। हालांकि अभी वे भी पूरी तरह से क्षेत्र में प्रत्याशी के तौर पर अपने आपको प्रचारित नहीं कर रहे हैं। मगर सतना लोकसभा सीट के संभावित प्रत्याशी पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ. राजेंद्र कुमार सिंह का एक परचा सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।  आगे पढ़ें

maoist-killed-in-abduction-in-satna-dead-body-thro

सतना में अगवा किए गए मासूम की हत्या कर नाले में फेंका शव

अपहरण का मामला सामने आने के बाद पुलिस की 12 टीमें अलग-अलग थाना क्षेत्रों में जाकर लोगों से पूछताछ कर रही थी। बच्चे का सुराग लगाने के लिए पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ भी की। अपहृत बच्चे की जानकारी नहीं मिलने पर पुलिस ने जिले की सीमाओं को भी सील कर दिया था। नागौद थाना के रहिकवारा गांव में रहने वाले राजेश प्रजापति का 6 साल का बेटा मंगलवार दोपहर 3.30 बजे तक घर के पास खेल रहा था। इसके बाद वह अचानक वहां से लापता हो गया। शाम 6 बजे मासूम के चाचा के पास अपहरणकर्ता ने कॉल कर 2 लाख की फिरौती मांगी थी।  आगे पढ़ें

maoist-killed-in-abduction-in-satna-dead-body-thro

सतना में अगवा किए गए मासूम की हत्या कर नाले में फेंका शव

अपहरण का मामला सामने आने के बाद पुलिस की 12 टीमें अलग-अलग थाना क्षेत्रों में जाकर लोगों से पूछताछ कर रही थी। बच्चे का सुराग लगाने के लिए पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ भी की। अपहृत बच्चे की जानकारी नहीं मिलने पर पुलिस ने जिले की सीमाओं को भी सील कर दिया था। नागौद थाना के रहिकवारा गांव में रहने वाले राजेश प्रजापति का 6 साल का बेटा मंगलवार दोपहर 3.30 बजे तक घर के पास खेल रहा था। इसके बाद वह अचानक वहां से लापता हो गया। शाम 6 बजे मासूम के चाचा के पास अपहरणकर्ता ने कॉल कर 2 लाख की फिरौती मांगी थी।  आगे पढ़ें

murdering-of-twins-in-chitrakoot-six-suspected-det

चित्रकूट से अपहत जुड़वां मासूमों की हत्या, छह संदिग्ध हिरासत में

बच्चों का हत्या की खबर के बाद चित्रकूट में तनाव का माहौल है। उग्र लोगों ने कई जगहों पर तोड़फोड़ और उपद्रव किया। मृत बच्चों की उम्र छह साल थी। उनका घर उत्तरप्रदेश के चित्रकूट धाम (कर्वी) के रामघाट में था। बच्चों के पिता बृजेश रावत तेल व्यवसायी हैं। दोनों बच्चे चित्रकूट (मप्र) के सद्गुरु पब्लिक स्कूल में पढ़ते थे। वे 12 फरवरी को दोपहर करीब एक बजे स्कूल की छुट्टी के बाद बस से घर लौट रहे थे। स्कूल परिसर में ही बाइक से आए दो नकाबपोश युवकों ने पिस्तौल दिखाकर बस को रोका और बच्चों को अगवा कर लिया था। यह वारदात सीसीटीवी में भी कैद हुई थी। read more  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति