होम श्रीलंका
10-sri-lankan-players-withdraw-from-pak-tour-due-t

आतंकी गतिविधियों और सुरक्षा कारणों से श्रीलंका के 10 खिलाड़ियों ने पाक दौरे से नाम लिया वापस

पाकिस्तान और श्रीलंका को कराची के नेशनल स्टेडियम में 27 सितंबर, 29 सितंबर और दो अक्टूबर को तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है। इसके बाद दोनों टीमें लाहौर के गद्याफी स्टेडियम में पांच, सात और नौ अक्टूबर को तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेलेगी। श्रीलंका भी दिसंबर में दो मैचों की वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए पाकिस्तान की मेजबानी करेगी।  आगे पढ़ें

on-article-370-now-maldives-showed-pakistan-low-sa

अनुच्छेद 370 पर अब मालदीव ने पाक को दिखाया नीचा, कहा- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत का आंतरिक मामला

मालदीव के विदेश मंत्री ने फोन पर शाह महमूद कुरैशी को फोन करने के लिए धन्यवाद दिया। इसके बाद उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान दोनों ही मालदीव के करीबी दोस्त और द्विपक्षीय साझेदार हैं। अब्दुल्ला ने कहा कि पड़ोसी देशों के उपजे जितने भी विवाद हैं, उनको शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाना चाहिए।  आगे पढ़ें

bjps-allegation-insult-of-hindus-doing-government-

भाजपा का आरोप: श्रीलंका में सीता मंदिर निर्माण से पहले तथ्यों की जांच कराकर सरकार कर रही हिन्दुओं का अपमान

श्रीलंका में प्रस्तावित सीता मंदिर के निर्माण से पहले उसके तथ्यों की जांच कराकर कमलनाथ सरकार हिंदुओं का अपमान कर रही है। ये आरोप भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने लगाए। मंगलवार को भोपाल में मीडिया से बातचीत में चौहान ने कहा कि सारा देश और दुनिया जानती है कि सीताजी को श्रीलंका की अशोक वाटिका में रखा गया था। यह करोड़ों हिंदुओं की आस्था और विश्वास से जुड़ा मामला है, लेकिन प्रदेश सरकार इस तथ्य की जांच की बात कह रही है कि सीताजी लंका गई भी थीं या नहीं।  आगे पढ़ें

china-tries-to-lure-sri-lankan-warships-to-influen

चीन ने हिंद महासागर में प्रभाव बढ़ाने श्रीलंका को युद्धपोत गिफ्ट कर की लुभाने की कोशिश

श्रीलंका की नौसेना ने लिट्टे के खिलाफ संघर्ष में अहम भूमिका निभाई थी। उसके पास करीब 50 लड़ाकू, सपॉर्ट शिप और तटीय इलाकों की निगरानी के लिए गश्ती प्लेन हैं जो मुख्य रूप से भारत, अमेरिका, चीन और इजरायल से मिले हैं। भारत ने पिछले साल अपने इस अहम पड़ोसी की नौसेना को एक गश्ती जहाज गिफ्ट में दिया था। इससे पहले भी भारत ने 2006 और 2008 में 2 गश्ती जहाज दिए थे। शिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक श्रीलंका नेवी के कमांडर वाइस ऐडमिरल पियल डीसिल्वा ने युद्धपोत के लिए चीन को धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कि उनकी सेनाएं इस गिफ्ट को दोनों देशों के बीच अच्छी मित्रता के संकेत के तौर पर लेंगी।  आगे पढ़ें

world-cup-2019-sri-lanka-make-big-reversal-england

विश्व कप 2019: श्रीलंका ने किया बड़ा उलटफेर, इंग्लैंड को 20 रन से दी मात

विश्व कप इतिहास में श्रीलंकाई टीम की इंग्लैंड पर यह लगातार चौथी जीत हैं। वह पिछली बार 1999 में हारी थी। तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा (43/4) मैन आॅफ द मैच बने। श्रीलंका ने पहले खेलते हुए निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 232 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड की टीम 47वें ओवर में 9 विकेट पर 212 रन पर आउट हो गई। जीत के हीरो मलिंगा रहे, जिन्होंने जेम्स विंस (14), जॉनी बेयरस्टो (0), जोए रूट (57) , जोस बटलर (10) को आउट किया। अपना 33वां अर्धशतक लगाने वाले रूट ने बेन स्टोक्स (82*) के साथ सर्वाधिक 54 रन की साझेदारी की। अपना 17वां अर्धशतक लगाने वाले स्टोक्स ने अंत तक किला लड़ाया लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। मलिंगा के अलावा धनंजय डी सिल्वा ने 3, इसुरु उदाना ने 2 विकेट लिए।  आगे पढ़ें

us-secretary-of-state-pompeo-hind-pacific-region-w

भारत दौरे पर आएंगे अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो, हिंद प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा रहेगा मुख्य मुद्दा

पोम्पियो ने कहा,यह अहम मौका होगा जब मैं इस बारे में बात कर पाउंगा कि दोनों देश किस तरह आर्थिक रूप से आपस में जुड़े हैं। इसके अलावा आने वाले समय में दोनों देश इन संबंधों को मजबूत करने के लिए क्या कर सकते हैं। दरअसल, हिंद-प्रशांत में चीन की बढ़ती चहलकदमी के चलते अमेरिका भी इस क्षेत्र में अपना वर्चस्व बनाना चाहता है। इसी के चलते भारत को अहमियत देते हुए उसने अपनी प्रशांत कमांड को हिंद-प्रशांत कमांड नाम दिया था। पोम्पियो प्रधानमंत्री मोदी के सत्ता में लौटने के बाद पहली बार भारत आएंगे। हालांकि, पिछले हफ्ते ही अमेरिका के राजनीतिक-सैन्य मामलों के मंत्री क्लार्क कूपर भारत के दौरे पर पहुंचे थे। यहां उन्होंने रक्षा के क्षेत्र में निवेश को लेकर कई अफसरों से मुलाकात की थी।  आगे पढ़ें

sri-lanka-explosion-flare-up-to-kerala-tamilnadu-t

श्रीलंका विस्फोट की आंच केरल, तमिलनाडू तक, श्रीलंका में मुस्लिम और बौद्धों के बीच तनाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 जून को श्रीलंका की यात्रा के दौरान वहां की सरकार से सामुदायिक सौहार्द कायम करने की अपील कर सकते हैं ताकि पड़ोसी मुल्क के सामुदायिक तनाव के असर से दक्षिण भारत को बचाया जा सके। दक्षिण भारत के पड़ोस में आईएस के उभार को रोकने के मकसद से कट्टरपंथी तत्वों के उकसावे को काबू करने के लिए श्रीलंका के साथ भारत काम कर सकता है। आतंकवाद के खिलाफ साझीदारी को विस्तार देना श्रीलंका के राष्ट्रपति के साथ प्रधानमंत्री मोदी के द्विपक्षीय बैठक के एजेंडे का अहम मुद्दों में शामिल हो सकता है।  आगे पढ़ें

photos-of-3-alleged-suicide-bombers-surfaced-isis-

श्रीलंका हमलों के पीछे आईएसआईएस, सामने आईं 3 कथित आत्मघाती हमलावरों की तस्वीरें

इंटेलिजेंस नेटवर्कों को इसके पीछे आईएस का संभावित कनेक्शन इसलिए भी दिख रहा है क्योंकि बमुश्किल एक महीने पहले आईएस के प्रवक्ता अबु हसन अल-मुजाहिर ने अपनी एक आडियो स्पीच जारी करके मुस्लिमों से न्यू जीलैंड में मस्जिद पर हमले का बदला लेने का आह्वान किया था। न्यू जीलैंड में एक बंदूकधारी ने 2 मस्जिदों पर हमला किया था जिसमें 50 लोग मारे गए थे। 44 मिनट लंबी स्पीच में मुजाहिर यह कहते हुए सुना गया कि नरसंहार से उन्हें जाग जाना चाहिए जो मूर्ख बने हुए हैं और खलीफा के समर्थकों को अपने मजहब पर हुए हमले का बदला लेना चाहिए। मुजाहिर के आॅडियो के बाद एजेंसियों ने कई आॅनलाइन मेसेजों को इंटरसेप्ट किया था, जिसमें संबंधित देशों में उपासना स्थलों पर हमले को लेकर चर्चाएं थीं। भारत के शहरों में भी उपासना स्थलों खासकर चर्चों की सुरक्षा बढ़ाने के लिए एक अलर्ट जारी किया गया।  आगे पढ़ें

the-number-of-people-killed-in-the-serial-blasts-i

कोलंबों में श्रंखलाबद्ध धमाकों में मरने वालों की संख्या हुई 290, भारत ने किया था अलर्ट

एक दशक पहले लिट्टे को उखाड़ फेंकने के बाद से श्रीलंका में शांति बनी हुई थी। प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने रविवार को स्वीकार किया कि उन्हें संभावित हमले के बारे में जानकारी थी, लेकिन इसे रोकने के लिए वे पर्याप्त कदम नहीं उठा सके। शीर्ष खुफिया सूत्रों के अनुसार, श्रीलंका के नेशनल तौहीद जमात के जहरान हासिम और उनके सहयोगियों ने आत्मघाती हमले को अंजाम देने की योजना बनाई थी। उन्होंने अपनी योजना को अमलीजामा पहनाने की योजना के तहत 16 अप्रैल को कट्टनकुडी के पास पामुनाई में एक विस्फोटक से लदी मोटरसाइकिल थी।  आगे पढ़ें

sri-lankas-8-serial-blasts-suspect-the-world-natio

श्रीलंका में 8 सीरियल धमाकों से दहली दुनिया, नैशनल तौहीद जमात पर शक

किसी आतंकी संगठन ने अभी तक इन आत्मघाती हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन विदेशी मीडिया में नैशनल तौहीद जमात का नाम लिया जा रहा है, जो कि एक इस्लामिक चरमपंथी संगठन है। इसका एक धड़ा तमिलनाडु में भी सक्रिय बताया जाता है। मिली जानकारी के मुताबिक, श्रीलंका पुलिस के मुख्य अधिकारी ने 10 दिन पहले अलर्ट किया था कि देशभर के मुख्य चर्चों में ऐसे हमले हो सकते हैं। वहां के सीनियर अधिकारियों को यह चेतावनी पुलिस चीफ पूजुथ जयसुंद्रा ने 11 अप्रैल को दी थी। अपनी तरफ से भेजे गए अलर्ट में जयसुंद्रा ने लिखा था, 'विदेशी खुफिया विभाग ने जानकारी दी है कि नैशनल तौहीद जमात नाम का संगठन सूइसाइड हमलों की तैयारी कर रहा है।'  आगे पढ़ें

Previous 1 2 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति