होम विवाद
after-the-exit-poll-the-evm-junk-of-space-in-the-u

एग्जिट पोल के बाद फिर जागा ईवीएम का जिन्न, यूपी में रात भर बवाल के बाद गठबंधन प्रत्याशी ने स्ट्रांग रूम के बाहर दिया धरना

सोमवार देर रात यूपी के चंदौली, गाजीपुर और मिजार्पुर में रिजर्व ईवीएम को स्ट्रॉन्गरूम में रखने को लेकर विरोध के मामले सामने आए। खासकर मिजार्पुर और गाजीपुर में विपक्ष के नेता ईवीएम छेड़छाड़ का आरोप लगा रहे हैं। इससे जिला प्रशासन को स्थिति संभालने में मुश्किलें आ रही हैं। यूपी के गाजीपुर के जंगीपुर में बने स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर सोमवार की देर शाम गठबंधन प्रत्याशी अफजाल अंसारी ने अपने सैकड़ों समर्थकों संग पहुंचकर धरना दिया। जिला प्रशासन व पुलिस के समझाने पर भी वह नहीं माने और ईवीएम की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्हें जिला प्रशासन पर भरोसा नहीं है। उनके लोग खुद मशीन की निगरानी करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि चंदौली में भी ईवीएम बदलने की कोशिश हुई है। इस दौरान उनकी एसडीएम सदर और सीओ से तीखी बहस भी हो गई।  आगे पढ़ें

sadhvi-apologizes-on-statement-given-on-godse-will

गोडसे पर दिए बयान पर साध्वी ने मांगी माफी, अब रखेंगी 21 प्रहर का मौन

साध्वी प्रज्ञा ने गोडसे को आतंकी बताने वाले कमल हासन के बयान पर पलटवार करते हुए कहा था कि, नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त रहेंगे। उनके इस बयान के बाद पार्टी मुश्किल में घिर गई थी। दबाव बढ़ने पर साध्वी को माफी मांगनी भी पड़ी। अब जबकि चुनाव खत्म हो गए हैं तो साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने एक और ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि," मेरे शब्दों से समस्त देशभक्तों को यदि ठेस पहुंची है तो मैं इसके लिए माफी मांगती हूं और अब वह 21 प्रहर का मौन रखेंगी।"  आगे पढ़ें

release-of-controversial-statements-of-leaders-on-

पीएम मोदी पर नेताओं का विवादित बयान जारी, राबड़ी देवी ने कहा जल्लाद

लोकसभा चुनाव खत्म होने में अब भले ही चंद दिन बचे हैं, लेकिन नेताओं की विवादित बयानबाजी बढ़ती जा रही है। खासतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कई नेता अपशब्दों का इस्तेमाल कर चुके हैं। बुधवार को बिहार में राबड़ी देवी ने ऐसा ही बयान दिया और मोदी को जल्लाद बता दिया। इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी को झूठा करार दिया था। वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मोदी को 'दुर्योधन' कहा।  आगे पढ़ें

election-commission-gives-clean-chit-to-pm-modi-on

सेना के नाम पर वोट मांगने के आरोपों पर चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को दी क्लीनचिट

पीएम मोदी पर आरोप था कि महाराष्ट्र के वर्धा में 1 अप्रैल को एक चुनावी भाषण में उन्होंने सेना के नाम पर वोट मांगा था। इसके बाद उस मामले में उनके खिलाफ शिकायत की गई थी। चुनाव आयोग ने अपने आदेश में कहा कि इस बारे में वहां के रिटर्निंग अफसर से रिपोर्ट मांगी थी और जांच करने के बाद यह पाया गया कि उन्होंने इस मामले में कुछ भी गलत नहीं किया था।  आगे पढ़ें

the-notice-of-the-election-commission-and-the-unan

चुनाव आयोग की नोटिस और पार्टी की समझाइश का साध्वी में नहीं दिखा असर, दिग्गी को कहा आतंकी

प्रज्ञा ठाकुर आज चुनान प्रचार के लिए सीहोर पहुंचीं थी। यहां उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए जिले की बंद पड़ी चीनी मिलों का जिक्र करते हुए कहा कि, "अपना धंधा बढ़ाने के लिए उन्होंने जिले की शुगर और आॅयल मिल बंद करवाईं। इसमें सैंकड़ों लोग बेरोजगार हो गए। ये आपको पता है। इसलिए ऐसे आतंकी का समापन करने के लिए, बेरोजगारी बढ़ाने वाले को खत्म करने के लिए एक संन्यासी को खड़ा होना पड़ा है। उमा दीदी ने भी हराया तो 16 साल तक राजनीति नहीं कर पाए थे।  आगे पढ़ें

now-the-son-of-azam-inappropriate-remark-told-jayp

अब आजम के बेटे ने की अभद्र टिप्पणी, जयप्रदा को कहा अनारकली

रामपुर की रैली में अपने बेटे के साथ आजम खान ने कहा, 'इस वक्त जब सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की छवि खतरे में है तो मैं तो कहीं भी नहीं ठहरता और हमारा क्या होगा। मैं लोगों से लोकतंत्र और हमारे देश के संवैधानिक संस्थाओं की रक्षा करने की अपील करता हूं।' विवादित समाजवादी पार्टी नेता आजम खान ने आरोप लगाया, 'रामपुर का स्थानीय प्रशासन बीजेपी उम्मीदवार की मदद करने की पूरी कोशिश कर रहा है। वे लोग एसपी कार्यकतार्ओं के खिलाफ झूठे केस दर्ज कर रहे हैं। जो लोग मेरे समर्थन में हैं, उनके घरों में छापे मारे जा रहे हैं।  आगे पढ़ें

another-notice-has-been-issued-to-the-sadhvi-on-th

बाबरी मस्जिद पर टिप्पणी को लेकर चुनाव आयोग ने साध्वी को थमाया एक और नोटिस

बता दें कि बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को भोपाल लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। इस सीट से उम्मीदवारी के ऐलान के बाद से ही प्रज्ञा अपने विवादित बयानों को लेकर लगातार घिरती दिख रही हैं। उनके विवादित बयानों को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोगों ने उनके खिलाफ तीखी टिप्पणी की है। शहीद करकरे के बाद अब बाबरी मामले को लेकर प्रज्ञा ने विवादित टिप्पणी की है। प्रज्ञा ने कहा, 'राम मंदिर निश्चित रूप से बनाया जाएगा। यह एक भव्य मंदिर होगा।' यह पूछे जाने पर कि क्या वह राम मंदिर बनाने के लिए समयसीमा बता सकती हैं, तो प्रज्ञा ने कहा, 'हम मंदिर का निर्माण करेंगे। आखिरकार, हम ढांचा (बाबरी मस्जिद) को ध्वस्त करने के लिए भी तो गए थे। मैंने ढांचे पर चढ़कर तोड़ा था। मुझे गर्व है कि ईश्वर ने मुझे अवसर दिया और शक्ति दी और मैंने यह काम कर दिया। अब वहीं राम मंदिर बनाएंगे।'  आगे पढ़ें

चुनाव-आयोग-के-नोटिस-पर-साध्वी-का-पलटवार-कहा-हम-निय

चुनाव आयोग के नोटिस पर साध्वी का पलटवार, कहा- हम नियम पर चलते हैं, डरने वाली नहीं हूं

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने एटीएस के पूर्व चीफ हेमंत करकरे को शहीद मानने से इंकार कर दिया था। उन्होंने कहा था कि हेमंत करकरे को उनके कर्मों की सजा मिली है। इस बयान के बाद सियासी बवाल मच गया था। साध्वी प्रज्ञा की चौतरफा आलोचना हो रही थी। साध्वी को घिरते देख भाजपा ने भी उनके इस बयान से किनारा कर लिया था। इसके बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपने बयान के लिए माफी मांगी थी। हालांकि अब चुनाव आयोग ने साध्वी और भाजपा जिलाध्यक्ष को चिठ्ठी लिखकर इस बयान पर स्पष्टीकरण मांगा है।  आगे पढ़ें

sidhu-in-the-headlines-about-controversial-stateme

फिर विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में सिद्धू, पाकिस्तान ने बनाया नया हीरो

सिद्धू ने कहा कि मुसलमान भाइयों आप बिहार में 68 फीसदी हो, मैं आपको चेतावनी देने आया हूं। अगर आप लोग एकजुट हो गए तो मोदी को बुरी तरह हरा दोगे, आप लोग हमारी पगड़ी हो। आप लोगों को पंजाब में और प्यार मिलेगा क्योंकि मैं वहां पर मंत्री हूं। आप लोग भाजपा को उखाड़ फेंको, ये मेरी विनती है। हालांकि, देश के राजनीतिक दल सिद्धू के बयानों को लेकर आक्रामक हो गए हैं। शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि सरदार नहीं गद्दार हैं सिद्धू। इस मामले में बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि चुनाव आयोग सिद्धु पर कार्रवाई करते हुए उनके चुनाव प्रचार करने पर रोक लगाए। मोदी ने कहा कि ने कहा कि नवजोत अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान वहां के सेना प्रमुख से गले मिलकर देश को अपमानित करने का काम किया था।  आगे पढ़ें

yogi-will-present-ramlals-philosophy-rahul-will-vi

चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बाद योगी आज करेंगे रामलला के दर्शन, राहुल भी जाएंगे महाविष्णु के मंदिर

मेरठ की रैली में सीएम योगी ने कहा था कि यदि सपा-बसपा गठबंधन को अली पर भरोसा है तो हमें बजरंग बली पर विश्वास है। इस टिप्पणी के आने के बाद चुनाव आयोग ने उनके चुनाव प्रचार पर 72 घंटे के लिए रोक लगा दी थी। इस दौरान के कार्यक्रम निरस्त होने के बाद योगी ने मंगलवार को लखनऊ में बजरंगबली के दर पर मत्था टेका। आवास पर दिनभर कार्यकर्ताओं से मिलते रहे।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति