होम विधानसभा स्पीकर
pilot-camp-reached-court-against-notice-of-assembl

विधानसभा स्पीकर की नोटिस के खिलाफ पायलट खेमा पहुंचो कोर्ट, 19 विधायकों ने याचिका दायर कर नोटिस को रद्द करने की मांग

विधानसभा स्पीकर के नोटिस के खिलाफ सचिन पायलट खेमा गुरुवार को हाईकोर्ट पहुंच गया। पायलट समेत 18 विधायकों ने याचिका में स्पीकर के नोटिस को रद्द करने की मांग की। जज सतीश चंद्र शर्मा की कोर्ट में आॅनलाइन सुनवाई हुई। इस दौरान पायलट गुट ने याचिका में संशोधन के लिए समय मांगा। इसके बाद 5 बजे सुनवाई शुरू हुई।  आगे पढ़ें

political-drama-of-mp-12-speakers-approved-the-res

मप्र का सियासी ड्रामा: रात 12 स्पीकर ने 16 बागियों के इस्तीफे किए मंजूर, आज दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम कर सकते हैं इस्तीफे का ऐलान

सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश विधानसभा स्पीकर को आज 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट करवाने का निर्देश दिया है। गुरुवार रात करीब डेढ़ बजे जारी विधानसभा की कार्यवाही की सूची में भी फ्लोर टेस्ट का जिक्र किया गया है। फ्लोर टेस्ट से कुछ घंटे पहले राज्य की सियासत में बड़े मोड़ आए। स्पीकर एनपी प्रजापति ने रात 12 बजे बेंगलुरु में ठहरे कांग्रेस के 16 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकर कर लिए। कमलनाथ ने शुक्रवार दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक, कमलनाथ इस कॉन्फ्रेंस में इस्तीफे का ऐलान कर सकते हैं।  आगे पढ़ें

karnataka-the-union-minister-said-that-if-the-numb

कर्नाटक : केन्द्रीय मंत्री ने कहा- कांग्रेस-जेडीएस विधायकों की संख्या 105 से नीचे आती है तो भाजपा बनाएगी सरकार

सदानंद गौड़ा से जब सोमवार को स्पीकर द्वारा इस्तीफों पर फैसले लेने में देरी की संभावना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया, 'मुझे नहीं लगता कि स्पीकर यहां कोई गेम खेलेंगे। वह इस तरह के नहीं हैं।' गौड़ा ने असंतुष्ट विधायकों को अपने पाले में करने के लिए किसी तरह के दबाव की बात से इनकार किया है।  आगे पढ़ें

karnataka-crisis-assembly-speaker-may-take-decisio

कर्नाटक संकट: विधायकों के इस्तीफे पर विधानसभा अध्यक्ष ले सकते हैं फैसला, कांग्रेस में बैठकों का दौर शुरू

कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार दो निर्दलीय विधायकों व मंत्री एच. नागेश व आर. शंकर के इस्तीफे से सोमवार को पतन के और करीब पहुंच गई। उनके समेत बागियों की संख्या 15 हो गई है। हालांकि, बागियों को मनाने के लिए कांग्रेस के 21 और जेडीएस के नौ मंत्रियों ने भी मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को अपने इस्तीफे सौंप दिए, ताकि वे सरकार बचाने के लिए बागियों को जगह देकर मंत्रिमंडल का पुनर्गठन कर सकें। हालांकि बागियों ने साफ कर दिया है कि वे फिर गठबंधन में नहीं लौटेंगे।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति