होम लोकसभा
nath-government-eow-initiated-inquiry-against-thre

भाजपा सरकार में हुई गड़बड़ियों पर अक्रामक हुई नाथ सरकार, ईओडब्ल्यू ने शुरू की तीन पूर्व सांसदों के खिलाफ जांच

भाजपा सरकार में हुई आर्थिक गड़बड़ियों के खिलाफ कमलनाथ सरकार ने आक्रामक रूख अपना लिया है। विधानसभा सत्र से दस दिन पहले दो पूर्व लोकसभा सदस्यों मनोहर ऊंटवाल व चिंतामणि मालवीय और राज्यसभा सदस्य नारायण सिंह केसरी सहित मनोनीत विधायक रहीं लोरेन बी लोबो के खिलाफ आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने जांच शुरू कर दी है। मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य सचिव रहे एएन मिश्रा, विधि अधिकारी सुधीर श्रीवास्तव और कौंसिल पुरुषेंद्र कौरव (पूर्व महाधिवक्ता) के विरुद्ध भी अवैध पारिश्रमिक की जांच शुरू हो गई है। ईओडब्ल्यू महानिदेशक केएन तिवारी ने बताया कि पूर्व सांसदों के खिलाफ डेढ़ करोड़ से ज्यादा तो प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड में 54 लाख से ज्यादा की गड़बड़ी की जांच होगी। जो भी साक्ष्य पाए जाएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।  आगे पढ़ें

mp-azam-khan-on-three-divorce-bills-said-there-wil

तीन तलाक बिल पर सांसद आजम खान ने कहा, कुरान से हटकर कोई बात स्वीकार नहीं होगी

सरकार पर निशाना साधते हुए रामपुर के सांसद ने कहा, 'ये जो महिलाओं के बड़े हमदर्द बनते हैं, महिला हितों की बड़ी वकालत करते हैं, महिलाओं के दुख और दर्द के बारे में भी बताएं।' आजम ने सवाल किया कि सबरीमाला मामले में एक पैमाना और मुस्लिम तलाकशुदा महिलाओं के लिए अलग पैमाना क्यों? उन्होंने आगे कहा, 'मुझे इस बात का भी अंदेशा है कि कही लोग शादी, निकाह और मंडप से डरने न लगें और शादी का रिवाज ही खत्म हो जाए और लिव-इन रिलेशन को ही लोग पसंद करने लगें।' आपको बता दें कि संसद में पेश यह विधेयक एक ही बार में तीन तलाक कहने (तलाक-ए-बिद्दत) पर रोक लगाने के लिए है। 3 तलाक बिल पिछली लोकसभा में पारित हो चुका था, लेकिन सोलहवीं लोकसभा का कार्यकाल खत्म होने के कारण और राज्यसभा में लंबित रहने के कारण यह निष्प्रभावी हो गया। अब सरकार इसे फिर से सदन में लेकर आई है।  आगे पढ़ें

demand-from-the-petitioners-high-court-29-lok-sabh

याचिकाकर्ता की हाईकोर्ट से मांग, मध्यप्रदेश की 29 लोकसभा सीटों का निर्वाचन हो रद्द

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका के जरिए राज्य की सभी 29 लोकसभा सीटों पर पिछले दिनों हुए निर्वाचन रद्द किए जाने की मांग की है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश आरएस झा व जस्टिस विजय कुमार शुक्ला की युगलपीठ ने इस सिलसिले में मुख्य निर्वाचन आयुक्त सहित अन्य को नोटिस जारी कर जवाब-तलब कर लिया है। इसके लिए चार सप्ताह का समय दिया है। सोमवार को सुनवाई के दौरान जनहित याचिकाकर्ता मध्यप्रदेश जनविकास पार्टी की ओर से अधिवक्ता सुनील कुमार सिंह, प्रवीण यादव व रवि कुमार सिंह ने पक्ष रखा। उन्होंने दलील दी कि जनहित याचिकाकर्ता पार्टी 2017 में पंजीकृत हुई। विधानसभा चुनाव के दौरान चुनाव चिन्ह आवंटन के लिए आवेदन लगाया गया था। इस पर पार्टी में आंतरिक कलह का मनमाना कारण दर्शाते हुए चुनाव चिन्ह देने से इनकार कर दिया गया।  आगे पढ़ें

jammu-kashmir-reservation-amendment-bill-to-be-pre

गृहमंत्री का जिम्मा संभाल रहे शाह संसद में आज पेश करेंगे जम्मू कश्मीर आरक्षण संशोधन विधेयक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में गृहमंत्री का जिम्मा संभाल रहे अमित शाह आज लोकसभा में जम्मू कश्मीर आरक्षण संशोधन विधेयक पेश करेंगे। ये उनका लोकसभा में पहला बिल होगा। एनडीए की दूसरी बार सरकार बनने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सरकार में नई भूमिका में नजर आ रहे हैं। ऐसे में उनके इस बिल पर सबकी निगाहें भी जमी हुई है। यह बिल पूर्व में विधेयक के तौर पर लागू हो चुका है, ऐसे में अमित शाह सदन में इस बिल के महत्व के बारे में भी बोलेंगे।  आगे पढ़ें

mayawatis-pain-after-the-election-was-defeated-sai

चुनाव मिली हार के बाद छलका मायावती का दर्द, कहा- गठबंधन कराना रही सबसे बड़ी भूल

लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में बसपा-सपा गठबंधन को मिली हार के बाद से ही दोनों दलों के बीच खींचतान नजर आने लगी थी। बड़ी हार के बाद दोनों ही पार्टियों ने विधानसभा उपचुनाव अलग लड़ने की घोषणा तक कर दी थी। अब एक बार फिर बसपा सुप्रीमों मायावती का दर्द गठबंधन को लेकर सामने आया है। मायवती ने रविवार को बसपा विधायकों, सांसदों और वरिष्ठ नेताओं की बैठक ली थी। इस बैठक में उन्होंने समाजवादी गठबंधन को लेकर लंबी चर्चा की और उसे लोकसभा चुनाव में मिली हार की वजह बताया।  आगे पढ़ें

tdp-will-grow-more-and-more-bjp-may-have-many-more

टीडीपी की और बढ़ेंगी मुश्किलें, भाजपा में कई और नेता हो सकते हैं शामिल

टीडीपी के चार सांसदों के एक गुट के बीजेपी में विलय के बाद शुक्रवार को टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने इस दलबदल को चुनौती दी। इस बाबत वह राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू से मिले। मुलाकात करने वाले सांसदों में दो राज्यसभा सांसद के और तीन लोकसभा सांसद थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गल्ला ने कहा, 'गुरुवार को टीडीपी के चार राज्यसभा सदस्यों ने बीजेपी में विलय की बात दो-तिहाई बहुमत के आधार पर की थी। हमने राज्यसभा उपसभापति से मिलकर इसे चुनौती दी है।'  आगे पढ़ें

silence-kept-in-the-rajya-sabha-for-the-peace-of-t

राज्यसभा में गूंजा चमकी बुखार, दिवंगत बच्चों की आत्मा की शांति के लिए रखा मौन

संसद के बजट सत्र शुरू हो चुका है और आज से सदन में कार्यवाही भी शुरू होगी। लोकसभा चुनाव के बाद सरकार सदन में जो पहला काम करने जा रही है वो है तीन तलाक को गैरकानूनी ठहराने संबंधी नया विधायक पेश करना। वहीं राज्यसभा में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में बढ़ते अपराधों को लेकर नोटिस दिया है। साथ ही राज्यसभा में आज चमकी बुखार को लेकर चर्चा हो सकती है। राज्यसभा में राजद के सांसद मनोज झा ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव दिया है जिसपर सोमवार को चर्चा संभव है लेकिन इससे पहले सदन में 2 मिनट का मौर रखकर दिवंगत बच्चों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।  आगे पढ़ें

om-birla-became-the-president-of-17th-lok-sabha-al

17वीं लोकसभा के अध्यक्ष बने ओम बिरला, सभी दलों ने किया समर्थन

17वीं लोकसभा के बजट सत्र के दौरान लोकसभा के नए स्पीकर का चुनाव हो चुका है। सदन की कार्यवाही के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने सदन में राजस्थान के कोटा से सांसद ओम बिरला के नाम का प्रस्ताव किया है जिस पर प्रोटेम स्पीकर ने मतदान करवाया और ओम बिड़ला को लगभग सभी दलों से समर्थन मिल गया। इसके बाद ओम बिरला अगले पांच साल के लोकसभा के अध्यक्ष चुन लिए गए हैं। अध्यक्ष चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी उन्हें स्वयं आसंदी तक लेकर गए। इसके बाद एक-एक करके सांसदों ने बिड़ला को अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई दी।  आगे पढ़ें

rahul-has-refused-to-be-the-leader-of-the-congress

लोकसभा में कांग्रेस का नेता बनने से राहुल ने किया मना, अब भी अड़े हुए हैं अध्यक्ष पद से इस्तीफे पर

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा में पार्टी का लीडर बनने से मना कर दिया। इस पर पार्टी ने निचले सदन में अपने लीडर पद के लिए 5 बार के सांसद अधीर रंजन चौधरी को चुना। कांग्रेस के लिए संसद से जुड़ी रणनीति बनाने वाले समूह की बैठक मंगलवार को 10 जनपथ में हुई। उसमें सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पी. चिदंबरम, अहमद पटेल, जयराम रमेश जैसे दिग्गज नेता मौजूद थे। बैठक में अधीर रंजन चौधरी और केरल के संसद सदस्य के. सुरेश ने भी हिस्सा लिया।  आगे पढ़ें

the-first-session-of-the-17th-lok-sabha-from-today

17वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से, दो दिनों तक चेगला शपथ ग्रहण कार्यक्रम

खबरों के अनुसार सदन में पीएम मोदी और उनके मंत्रियों के बाद यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी शपथ ले सकती हैं। दरअसल, सदन का परंपरा रही है कि मंत्रीमंडल के बाद सदन के वरिष्ठतम सांसद शपथ लेते हैं। 2014 में लालकृष्ण आडवाणी और सोनिया गांधी ने शपथ ली थी। इस बार आडवाणी चुनाव नहीं लड़े और इस वजह से सोनिया गांधी ही शपथ लेंगी। संसद का बजट सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। प्रोटेम स्पीकर के रूप में इसके लिए डॉ. वीरेंद्र कुमार का चयन कर लिया गया है। 19 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। 20 जून को राष्ट्रपति संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे। जबकि पांच जुलाई को सरकार अपना पूर्ण बजट पेश करेगी। इस बार लोकसभा में कईं नए चेहरे नजर आएंगे वहीं कईं पुराने चेहरे गायब होंगे। नए चेहरों में सबसे बड़ा नाम अमित शाह का है जो पहली बार लोकसभा सांसद बने हैं।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10  ... Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति