होम मोदी सरकार
modi-government-cracked-down-on-corrupt-officers-d

भ्रष्ट अफसरों पर सख्त मोदी सरकार, कर दी 15 कस्टम अधिकारियों की छुट्टी

वित्त मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि इन अधिकारियों के खिलाफ सीबीआई के द्वारा भ्रष्टाचार के केस दर्ज किए गए थे या रिश्वतखोरी, वसूली और आय से अधिक संपत्ति के मामले चल रहे थे। आदेश में कहा गया है कि बर्खास्त किए गए अफसरों में प्रिंसिपल कमिश्नर अनूप श्रीवास्तव भी शामिल हैं, जो दिल्ली में केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड में प्रिंसिपल एडीजी(आडिट) के पद पर कार्यरत थे। जॉइंट कमिश्नर नलिन कुमार को भी छुट्टी दे दी गई है। सूत्रों ने बताया कि 1996 में सीबीआई ने अनूप के खिलाफ एक आपराधिक साजिश का मामला दर्ज किया था और आरोप लगाया था कि उन्होंने एक हाउस बिल्डिंग सोसायटी को फायदा पहुंचाया, जो कानून के खिलाफ जाकर जमीन खरीद के लिए एनओसी पाने की कोशिश कर रही थी।  आगे पढ़ें

the-modi-government-has-taken-a-big-step-on-the-co

भ्रष्ट आयकर अधिकारियों पर मोदी सरकार ने उठाया बड़ा कदम, कर दी दर्जनभर से अधिक की छुट्टी

वित्त मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय लोक सेवा (सेवानिवृत्ति) नियमावली, 1972 के मौलिक नियम 56 के तहत इन अधिकारियों को जबरन सेवानिवृत्त किया गया है। इन अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं। इनके पास आय के ज्ञात स्रोतों से काफी अधिक संपत्ति पाई गई थी। आयकर विभाग ने इनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की थी जिसे इन्होंने अदालत में चुनौती दी थी। यही वजह है कि सरकार ने इनके खिलाफ अब कठोर कदम उठाया है।  आगे पढ़ें

modi-government-on-the-issue-of-eid-on-eid-told-th

ईद पर ममता के निशाने पर रही मोदी सरकार, अल्पसंख्यक समुदाय से कहा- डरने की जरूरत नहीं

टीएमसी प्रमुख ममता ने कहा, 'त्याग का नाम है हिंदू, ईमान का नाम है मुसलमान, प्यार का नाम है ईसाई, सिखों का नाम है बलिदान। यह है हमारा प्यारा हिंदुस्तान। इसकी रक्षा हम लोग करेंगे। जो हमसे टकराएगा वह चूर-चूर हो जाएगा। यह हमारा नारा है।' उन्होंने कहा, 'डरने की जरूरत नहीं है। मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है, वही होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है। कभी-कभी जब सूरज उगता है तो उसकी किरणें बहुत तेज होती हैं लेकिन बाद में वे दूर हो जाती हैं। घबराओ मत, जिस तेजी से उन्होंने ईवीएम पर कब्जा किया, उतनी ही तेजी से वे चले जाएंगे।'  आगे पढ़ें

bjps-massive-victory-surprised-political-pundits-c

भाजपा की प्रचंड जीत ने राजनीतिक पंडितों को चौंकाया, चार राज्यों में किया क्लीन स्वीप

गुजरात की बात करें तो यहां बीजेपी का जीत का औसत 1.3 लाख वोट रहा है। राजधानी दिल्ली और उत्तराखंड में बीजेपी ने हर सीट पर कम से कम 2.3 लाख वोट से जीत दर्ज की है। हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की जीत सबसे बड़ी रही है, यहां न्यूयनत 3.3 लाख मतों से पार्टी के कैंडिडेट को जीत मिली है। किसी भी पार्टी के जीत के अधिकतम औसत की बात करें तो डीएमके ने 2.8 लाख मतों से जीत दर्ज की है। साफ है कि तमिलनाडु में विधानसभा में भी डीएमके ने अपनी वापसी के संकेत दिए हैं।  आगे पढ़ें

rahul-gandhi-in-his-own-statement-issued-notice-to

अपने ही बयान में फंसे राहुल, आचार संहिता उल्लंघन को लेकर चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस

चुनाव आयोग ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने मध्यप्रदेश के शहडोल में 23 अप्रैल को एक जनसभा को संबोधित करते हुए एक बयान दिया था, जिससे राजनीतिक दलों और प्रत्याशियों के लिए दिशानिर्देश के लिए आदर्श आचार संहिता के भाग (1) के अनुच्छेद (2) के तहत आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है।  आगे पढ़ें

ushma-swaraj-speaks-at-the-conference-the-upa-gove

सम्मेलन में बोलीं सुषमा स्वराज: यूपीए सरकार 26/11 में कर गई थी चूक, उरी और पुलवामा को हमने कराया कैश

अटल बिहारी वाजपेयी व नरेंद्र मोदी दोनों में अंतर है। गठबंधन की सरकार के कारण वाजपेयीजी कठोर निर्णय नहीं ले पाते थे, लेकिन 2014 में जनता द्वारा दिए गए जनादेश के बाद मोदीजी ने ऐतिहासिक निर्णय लिए। इस अवसर पर उन्होंने मोदी सरकार की न केवल उपलब्धियां गिनाईं बल्कि मंच पर उपस्थित रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा की ब्रांडिंग भी करती नजर आईं। उन्होंने जिला सहित आसपास के जिलों में चल रहे काम के पीछे जनार्दन मिश्रा की मेहनत को बताया।  आगे पढ़ें

jaitleys-claim-will-be-very-startling-results-of-w

जेटली का दावा: कहा- बेहद चौंकाने वाले होंगे पश्चिम बंगाल और ओडिशा के परिणाम

वहीं बीजेपी के मीडिया प्रभारी और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने कहा कि गुरुवार को पश्चिम बंगाल की जिन 5 सीटों पर वोटिंग हुई, उनमें से 4 सीटें बीजेपी जीतेगी। साथ ही उन्होंने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस बीजेपी के पक्ष में बहती हवा को देख आवेश में आ गई और उसके कार्यकर्ता बीजेपी के कैडर्स के प्रति हिंसक हो गए। बलूनी ने आगे कहा, 'उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में जहां हम 2014 का इतिहास दोहरा रहे हैं वहीं पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर में भी काफी लोकप्रिय हो रहे हैं। आज की पोलिंग का रुझान बीजेपी की तरफ है और इसके परिणाम चुनावी पंडितों को भी चौंका देंगे।'  आगे पढ़ें

former-lieutenant-general-bare-modi-government-sho

पूर्व लेफ्टिीनेंट जनरल बोले- मोदी सरकार ने सेना को सीमा पार हमले की अनुमति देकर बड़ा संकल्प दिखाया

लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) डी एस हुड्डा ने शुक्रवार को कहा कि मोदी सरकार ने सेना को सीमा पार हमले करने की अनुमति देने में बहुत बड़ा संकल्प दिखाया है, लेकिन सेना के हाथ उससे पहले भी बंधे हुए नहीं थे। हुड्डा यहां विज्ञापन संगठनों द्वारा आयोजित एक वार्षिक कार्यक्रम 'गोवा फेस्ट' में बोल रहे थे। उनका यह बयान ऐसे समय में आया है जब पीएम मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद यह कहा था कि जवाबी कार्रवाई के लिए सेना को खुली छूट दी गई है। हमला कब, कहां और कैसे करना है यह सेना तय करेगी।  आगे पढ़ें

it-is-evident-that-in-the-first-phase-then-the-wav

उत्साह से पता चल रहा है कि पहले चरण में 'फिर मोदी सरकार' की लहर

मोदी की इस सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री ने कहा कि नेताओं को अपने आंगन तक चकाचक सड़क पहुंचाते तो आपने बहुत देखा, बिहार के गांव-गांव तक सड़कें पहुंचाने का बीड़ा इस चौकीदार और उसके साथियों ने उठाया है।  आगे पढ़ें

supreme-court-will-decide-on-rafael-case-reconside

राफेल मामले पुनर्विचार याचिका पर आज फैसला देगा सुप्रीम कोर्ट

राफेल मामले को लेकर दायर याचिका पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच फैसला सुनाएगी। सुप्रीम कोर्ट ने मार्च में पुनर्विचार याचिकाओं पर केंद्र सरकार की प्रारंभिक आपत्तियों पर सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रख लिया था। कोर्ट ने कहा है कि इस मामले में केंद्र की प्रारंभिक आपत्ति पर फैसला लेने के बाद ही आगे के तथ्यों पर विचार किया जाएगा। केंद्र ने कोर्ट में कहा था कि पुनर्विचार याचिका दायर करने वाले याचिकाकर्ता गैरकानूनी तरीके से हासिल किए गए विशेषाधिकार वाले दस्तावेजों को आधार नहीं बना सकते। केंद्र की तरफ से पेश हुए अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा था कि बिना संबंधित विभाग की अनुमति के कोई भी इन दस्तावेजों को कोर्ट में पेश नहीं कर सकता।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति