होम मोदी सरकार
on-kashmir-imran-targeted-modi-government-said-the

कश्मीर पर इमरान ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- जनसंहार के हालात संघ की विचाराधारा को दर्शाते हैं

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के फैसले पर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। इमरान ने रविवार को ट्वीट किया- कश्मीर में कर्फ्यू, पुलिस की कार्रवाई और जनसंहार के हालात आरएसएस की विचारधारा को दशार्ते हैं और यह हिटलर की नाजी विचारधारा से प्रेरित है। भारत कश्मीर की जनसांख्यिकी बदलने की कोशिश कर रहा है। क्या दुनिया इसे देखती रहेगी, जैसा हिटलर ने जर्मनी के म्यूनिख में किया था। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख 31 अक्टूबर से प्रभावी हो आ जाएंगे।  आगे पढ़ें

americas-advice-on-paks-threat-said-no-change-in-o

पाक की धमकी पर अमेरिका की नसीहत, कहा- कश्मीर को लेकर हमारी नीति में कोई बदलाव नहीं

अमेरिका ने साफ किया है कि बिना किसी तीसरे पक्ष के मध्यस्थता के कश्मीर समस्या का समाधान भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत (द्विपक्षीय) से होनी चाहिए। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मॉर्गन ओर्टागस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर से बैंकॉक में हमारी एक मीटिंग हुई थी। हमारी भारत और पाकिस्तान के साथ भी बातचीत होती रहती है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान हाल ही में अमेरिका आए थे, लेकिन वह कश्मीर मुद्दे की वजह से वह यहां नहीं आए थे। कई सारे अहम मसले हैं और उन मुद्दों को लेकर हम भारत और पाकिस्तान के संपर्क में हैं।  आगे पढ़ें

uapa-bill-passed-in-raas-diggi-said-will-i-also-ma

रास में यूएपीए बिल पास, दिग्गी ने कहा- क्या मुझे भी आतंकी बनाएंगे, शाह बोले- कुछ नहीं करोगे तो कुछ नहीं होगा

संशोधित बिल में सरकार ने गैर-कानूनी गतिविधियों में शामिल व्यक्ति विशेष को आतंकी घोषित करने का प्रावधान शामिल किया है। दिग्विजय ने कहा कि हमें भाजपा की मंशा पर संदेह है। कांग्रेस ने कभी आतंकवाद से समझौता नहीं किया, इसीलिए यह कानून लेकर आए थे। आतंकवाद से समझौता करने वाले आप लोग हैं। भाजपा सरकार ने ही पहले रुबैया सईद और फिर मसूद अजहर को छोड़ा था। गृह मंत्री ने कहा, ''इमरजेंसी के दौरान क्या हुआ था? मीडिया पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया और विपक्ष के सभी नेताओं को जेल में डाल दिया था। 19 महीने तक देश में लोकतंत्र को खत्म कर दिया गया और अब आप (कांग्रेस) हम पर कानून के दुरुपयोग का आरोप लगा रहे हैं। कृपया अपना इतिहास भी देख लीजिए। जब हम विपक्ष में थे तो 2004, 2008 और 2013 में हमने यूपीए सरकार के यूएपीए बिल को समर्थन दिया था। क्योंकि हमें लगता था कि आतंकवाद से लड़ने के लिए यह जरूरी था।''  आगे पढ़ें

government-launches-work-on-kisan-pension-scheme-p

किसान पेंशन योजना पर सरकार ने शुरू किया काम, पीएम मोदी 15 अगस्त को कर सकते हैं ऐलान

जानकारी के अनुसार कृषि सचिव ने राज्यों को इस योजना को लागू करने के लिए मैकेनिज्म तैयार करने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री स्वतंत्रता दिवस पर इस योजना की घोषणा कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो हर महीने किसानों को 3000 रुपए की पेंशन मिलने लगेगी। हालांकि, इसके लिए कुछ नियम और शर्तें भी होंगी। केंद्र की किसान पेंशन योजना का फायदा देश के 12-13 करोड़ किसानों के मिलेगा। खबरों के अनुसार, इस योजना को अलग-अलग चरणों में लागू किया जाएगा और पहले चरण में संभवत: 5 करोड़ किसानों को लाभ मिलेगा। यह योजना 18 से 40 वर्ष के किसानों के लिए होगी।  आगे पढ़ें

unrest-in-kashmir-delhis-political-corridor-in-rea

कश्मीर में बेचैनी, दायरे में दिल्ली का राजनीतिक गलियारा!

धारा 35 ए पर मोदी सरकार को लगता है कि यह सबसे मुफीद वक्त है जब वह कड़ा स्टैंड दिखा सकती है। अगले हफ्ते एक याचिका पर सुनवाई हो सकती है, जिसमें इस धारा की वैधता पर सवाल उठाए गए हैं। सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए कह सकती है कि उसे इस धारा को हटाने से आपत्ति नहीं है। यह धारा 370 के मूल अवधारणा में नहीं थी। मालूम हो कि धारा 35 ए के तहत जम्मू-कश्मीर में वहां के मूल निवासी के अलावा देश के किसी दूसरे हिस्से का नागरिक कोई संपत्ति नहीं खरीद सकता। इससे वह वहां का नागरिक भी नहीं बन सकता है। 1954 में इस धारा को धारा 370 के तहत दिए गए अधिकारों के तहत ही जोड़ा गया था।  आगे पढ़ें

on-the-phenomenon-of-unnao-rahul-said-if-the-bjp-m

उन्नाव की घटना पर राहुल ने साधा निशाना, कहा- अगर भाजपा विधायक दुष्कर्म का आरोपी है तो सवाल मत पूछिए

पुलिस के मुताबिक, दुष्कर्म पीड़िता, उसकी चाची-मामी और वकील रायबरेली में एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गए। सभी लोग जेल में बंद चाचा से मिलने जा रहे थे। इस दौरान दो लोगों की मौत हो गई। पीड़िता और उसके वकील की हालत नाजुक है। 2017 में नाबालिग लड़की ने विधायक कुलदीप सेंगर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। इसके बाद पीड़िता ने मुख्यमंत्री आवास के बाहर आत्मदाह की कोशिश की थी।  आगे पढ़ें

modi-government-will-present-its-report-card-in-re

नियमित अंतराल में अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करेगी मोदी सरकार, महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट की दी जाएगी रिपोर्ट

पीएमओ की ओर से इस बारे में सभी मंत्रालयों के सेक्रटरी को लगातार संपर्क में रहते हुए रिपोर्ट देते रहने को कहा गया है। इसमें तीन बिंदुओं - क्या, कैसे और कब को पूरी स्पष्टता से बताना होगा। क्या में कौन से प्रॉजेक्ट हैं और उससे क्या लक्ष्य पूरा होगा, कैसे में किस तरह उसे पूरा किया जा रहा है और कब में ठीक-ठीक तारीख बतानी होगी कि उसे पूरा करने का लक्ष्य डेट क्या है। मालूम हो कि मोदी सरकार के अंदर हर प्रॉजेक्ट की प्रगति पर नजर रखने के लिए 10 ग्रुप आॅफ सेक्रटरी बने हुए हैं। ये लगातार पीएमओ से संपर्क में रहेंगे।  आगे पढ़ें

three-divorces-will-be-discussed-today-in-lok-sabh

तीन तलाक बिल पर लोकसभा में आज होगी चर्चा, पारित होने की संभावना

विपक्ष ने अहम विधेयकों को विधायी कसौटी पर परखे बिना धुंआधार गति से पारित कराने को लेकर सरकार को आगाह किया है। संसद के दोनों सदनों में इस मुद्दे पर सत्ता पक्ष की घेरेबंदी के लिए हुई विपक्षी दलों की बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि मनमाने तरीके से विधेयकों को पारित कराने के सरकार के प्रयासों का जोरदार विरोध किया जाएगा। विपक्ष ने इसी रणनीति के तहत सूचना का अधिकार कानून संशोधन विधेयक समेत सात विधेयकों को प्रवर समिति में भेजने के अपने इरादों की सूची बुधवार को सरकार को थमा दी। सरकार को विपक्ष ने मुस्लिम महिलाओं से जुड़े तीन तलाक विधेयक पारित कराने में भी जल्दबाजी नहीं करने की सलाह दी है।  आगे पढ़ें

sonia-gandhis-accusation-government-wants-to-end-t

सोनिया गांधी का आरोप: आरटीआई का कानून तोड़कर सूचना आयोग की आजादी खत्म करना चाहती है सरकार

सोनिया ने कहा, मौजूदा केंद्र सरकार ऐतिहासिक आरटीआई एक्ट 2005 को तोड़ रही है। यह बहस का मामला है। पिछले दशक में 60 लाख से ज्यादा देशवासियों खासकर महिलाओं ने सूचना के अधिकार को हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया। आरटीआई से प्रशासन और आम लोगों के बीच हर स्तर पर पारदर्शिता और निष्पक्षता बढ़ी है। हमें इसे पुराने स्वरूप में वापस लाने के लिए अडिग रहना होगा।  आगे पढ़ें

the-proceedings-of-the-lok-sabha-which-started-fro

दोपहर से शुरू हुई लोकसभा की कार्यवाही रात 12 बजे तक चली, 18 साल में पहली बार हुआ ऐसा

विपक्ष के मुताबिक, सरकार आम बजट में रेलवे में सार्वजनिक-निजी साझेदारी (पीपीपी), निगमीकरण और विनिवेश पर जोर देने की आड़ में निजीकरण की ओर ले जा रही है। सरकार की मंशा रेलवे को निजी हाथों में देना है। सरकार को बड़े वादे करने की बजाय रेलवे की वित्तीय स्थिति सुधारना चाहिए। विपक्ष ने एनडीए सरकार पर लोगों को बुलेट ट्रेन जैसे झूठे सपने दिखाने का भी आरोप लगाया।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति