होम मोदी सरकार
on-coming-out-of-tihar-jail-chidambaram-targeted-m

तिहाड़ जेल से बाहर आते ही चिदंबरम ने अर्थव्यवस्था और महंगाई पर मोदी सरकार पर साधा निशाना

आईएनएक्स मीडिया घोटाले में आरोपी पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद गुरुवार को पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने अर्थव्यवस्था और महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार पर निशाना साधा। चिदंबरम ने कहा कि अगर साल खत्म होते-होते विकास दर 5% पर आ जाती है तो हम भाग्यशाली होंगे। इससे पहले चिदंबरम संसद भी गए। यहां उन्होंने कहा कि सरकार मेरी आवाज नहीं दबा सकती। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने चिदंबरम की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि पूर्व वित्त मंत्री मीडिया में बयान देकर जमानत की शर्तें तोड़ रहे हैं।  आगे पढ़ें

parliament-on-the-issue-of-maharashtra-the-house-a

महाराष्ट्र मुद्दे पर गरमाई संसद, कांग्रेस के हंगामे पर सदन कल 2 बजे तक के लिए स्थगित, राहुल गांधी ने कहा- लोकतंत्र की हुई हत्या

संसद के शीतकालीन सत्र में सोमवार को महाराष्ट्र में सरकार गठन के मुद्दे पर कांग्रेस समेत विपक्ष ने दोनों सदनों में जमकर हंगामा किया। इसके बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही मंगलवार दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष ने 'संविधान की हत्या बंद करो' और 'मोदी सरकार हाय-हाय' के नारे लगाए। राहुल गांधी ने कहा- मैं सदन में सवाल पूछने आया हूं, लेकिन जब महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हो चुकी है तो इसका कोई मतलब नहीं। कांग्रेस सांसदों ने सोनिया गांधी की अगुआई में संसद परिसर में प्रदर्शन भी किया। पार्टी मंगलवार को भी अंबेडकर प्रतिमा के पास प्रदर्शन करेगी।  आगे पढ़ें

cm-targeted-the-target-said-the-center-did-not-pro

सीएम ने साधा निशाना, कहा- केन्द्र ने नहीं दी सहायता, प्रदेश में उपलब्ध संसाधनों से अतिवृष्टि प्रभावित किसानों की करेंगे मदद

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश में अतिवृष्टि से हुए नुकसान पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि राज्य में उपलब्ध संसाधनों की सहायता से ही बाढ़ और अतिवृष्टि से प्रभावित किसानों की मदद की जाएगी। कमलनाथ ने यहां सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के भूमि पूजन समारोह को संबोधित करते हुए ये बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अतिवृष्टि से हुए नुकसान को लेकर केंद्र सरकार ने आज तक सहायता राशि नही दी है, जो भी मदद प्रभावितों को करनी है, वह प्रदेश में उपलब्ध संसाधनो से ही करनी है।  आगे पढ़ें

jnu-ke-andolan-kee-yah-taiming

जेएनयू के आंदोलन की यह टाइमिंग

जेएनयू प्रबंधन ने होस्टल तथा मैस के चार्ज में वृद्धि की। छात्र-छात्राएं इसके खिलाफ सड़क पर आ गये। वृद्धि का कुछ हिस्सा वापस लिया गया। लेकिन आंदोलन जारी रहा। कई अचानक इसका स्वरूप और उग्र करने की कोशिश की गयी। उस समय, जबकि संसद का शीतकालीन सत्र आरम्भ हो रहा था। क्या यह किसी खास टाइमिंग के हिसाब से किया गया? क्यों ऐसा हुआ कि संसद के नजदीक आते सत्र के पहले ही जेएनयू परिसर में लगी स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा के आसपास आपत्तिजनक और भड़काऊ नारे लिखे गये? क्या यह किसी खास षड़यंत्र का हिस्सा नहीं है कि इसी संस्थान से संबद्ध एक महिला कुछ दिन पहले योग से सैक्स बेहतर है वाले वाक्य की टी-शर्ट पहनकर अपना फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करती है। ध्यान रखिए कि जेएनयू में प्रभावी असर रखने वाली मानसिकता ही वह है, जो योग जैसे विज्ञान को भी हिंदू धर्म से जोड़कर इसका विरोध करती आ रही है। तब भी, जबकि दुनिया के कई देश भारत के इस ज्ञान का लोहा मानकर उसे अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बना चुके हैं।  आगे पढ़ें

after-getting-clean-chit-on-rafale-bjp-targeted-ra

राफेल पर क्लीन चिट मिलने के बाद भाजपा का राहुल पर निशाना, कहा- यह मोदी सरकार की ईमानदारी से परिपूर्ण निर्णय प्रक्रिया का सम्मान है

सुप्रीम कोर्ट के राफेल मामले पर मोदी सरकार को क्लीन चिट दिए जाने के बाद भाजपा ने गुरुवार को कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी पर निशाना साधा। पार्टी नेता रवि शंकर प्रसाद ने कहा- यह मोदी सरकार की ईमानदारी से परिपूर्ण निर्णय प्रक्रिया का सम्मान है। सत्यमेव जयते। कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी को देश से इस मामले में माफी मांगनी चाहिए। इस बीच राहुल गांधी ने ट्वीट किया- सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस जोसफ ने राफेल मामले की जांच के लिए बड़ा दरवाजा खोल दिया है। इसे तुरंत शुरू किया जाना चाहिए। एक जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी का गठन होना चाहिए, जो इस घोटाले की जांच करे। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमें इस मामले में एफआईआर का आदेश देने या जांच बैठाने की जरूरत महसूस नहीं हुई।  आगे पढ़ें

after-getting-clean-chit-on-rafale-bjp-targeted-ra

राफेल पर क्लीन चिट मिलने के बाद भाजपा का राहुल पर निशाना, कहा- यह मोदी सरकार की ईमानदारी से परिपूर्ण निर्णय प्रक्रिया का सम्मान है

सुप्रीम कोर्ट के राफेल मामले पर मोदी सरकार को क्लीन चिट दिए जाने के बाद भाजपा ने गुरुवार को कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी पर निशाना साधा। पार्टी नेता रवि शंकर प्रसाद ने कहा- यह मोदी सरकार की ईमानदारी से परिपूर्ण निर्णय प्रक्रिया का सम्मान है। सत्यमेव जयते। कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी को देश से इस मामले में माफी मांगनी चाहिए। इस बीच राहुल गांधी ने ट्वीट किया- सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस जोसफ ने राफेल मामले की जांच के लिए बड़ा दरवाजा खोल दिया है। इसे तुरंत शुरू किया जाना चाहिए। एक जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी का गठन होना चाहिए, जो इस घोटाले की जांच करे। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमें इस मामले में एफआईआर का आदेश देने या जांच बैठाने की जरूरत महसूस नहीं हुई।  आगे पढ़ें

shah-said-in-the-election-meeting-modi-government-

चुनावी सभा में शाह ने कहा- मोदी सरकार 2024 तक घुसपैठियों को देश से कर देगी बाहर, कांग्रेस फायदे के लिए कर रही विरोध

शाह ने कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अपने नापाक मंसूबे पूरे करने के लिए धारा 370 का सहारा ले रहा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार सत्ता संभालने के बाद कुछ दिनों में ही इसको हटा दिया। उन्होंने कहा कि सूबे में 40 हजार से ज्यादा लोग हिंसा में जान गंवा चुके हैं। शाह ने आगे कहा, हमें राजनीति से ज्यादा देश के भविष्य की चिंता है। कांग्रेस राष्ट्रवाद की बजाय वोट बैंक की राजनीति करती है। प्रधानमंत्री मोदी ने देश के मुकुट को मुख्यधारा मे लाने और देश का अभिन्न हिस्सा बनाने का काम किया है।  आगे पढ़ें

demand-for-shiv-sena-chief-modi-government-should-

शिवसेना प्रमुख की मांग: मोदी सरकार देश में लागू करें सामान आचार संहिता, राम मंदिर के बनाया जाए नया कानून

उद्धव ने कहा, ''अयोध्या में राम मंदिर के लिए हमने हमेशा आवाज उठाई और इसके निर्माण तक निरंतर प्रयास करते रहेंगे। मोदी सरकार मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाए। हम जान दे सकते हैं, लेकिन अपने वादे को व्यर्थ नहीं जाने देंगे। ये शिवसेना की नीति है। हमने राम के नाम पर कभी राजनीति नहीं की। श्रीराम ने अपने पिता के लिए सबकुछ त्याग दिया। क्या हम उनके नाम पर राजनीति करेंगे?'' उद्धव ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज और मराठी लोगों को छोड़कर शिव सैनिक किसी के सामने नहीं झुकते हैं।  आगे पढ़ें

the-former-pm-expressed-concern-over-the-countrys-

पूर्व पीएम ने देश की अर्थव्यवस्था पर जताई चिंता, कहा- मोदी सरकार की गलतियों के चलते आई मंदी

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में सिर्फ 0.6% की ग्रोथ हुई, जो परेशान करने वाली है। हमारी अर्थव्यवस्था कुछ लोगों की गलतियों से नहीं उबर पाई है। निवेशकों की भावनाएं उदासीन हैं। अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए यह अच्छी खबर नहीं है। सीतारमण ने कहा, क्या डॉ. मनमोहन सिंह कह रहे हैं कि राजनीतिक बदले में शामिल होने के बजाय उन्हें चुप्पी साधे लोगों से सलाह लेनी चाहिए? क्या उन्होंने ऐसा कहा है? ठीक है, धन्यवाद। मैं इस पर उनकी बात सुनूंगी। यही मेरा जवाब है। क्या हम अर्थव्यवस्था में मंदी का सामान कर रहे हैं? क्या सरकार स्वीकार कर रही है कि मंदी है? मैं कारोबार से जुड़े इनपुट ले रही हूं कि वे सरकार से क्या चाहते हैं। मैं उन्हें जवाब दे रही हूं।  आगे पढ़ें

on-kashmir-imran-targeted-modi-government-said-the

कश्मीर पर इमरान ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- जनसंहार के हालात संघ की विचाराधारा को दर्शाते हैं

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के फैसले पर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। इमरान ने रविवार को ट्वीट किया- कश्मीर में कर्फ्यू, पुलिस की कार्रवाई और जनसंहार के हालात आरएसएस की विचारधारा को दशार्ते हैं और यह हिटलर की नाजी विचारधारा से प्रेरित है। भारत कश्मीर की जनसांख्यिकी बदलने की कोशिश कर रहा है। क्या दुनिया इसे देखती रहेगी, जैसा हिटलर ने जर्मनी के म्यूनिख में किया था। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख 31 अक्टूबर से प्रभावी हो आ जाएंगे।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति