होम मनी लॉन्ड्रिंग
the-scope-of-the-investigation-is-increasing-again

चिदंबरम के खिलाफ बढ़ता जा रहा जांच का दायरा, 300 करोड़ रिश्वत लेने का है आरोप

'प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई की जांच की दिशा अब एफआईपीबी अप्रूवल को लेकर है। एफआईपीबी ने डिएगो स्कॉटलैंड लिमिटेड, कटारा होल्डिंग्स, एस्सार स्टील लिमिटेड और एल्फोर्ज लिमिटेड को अप्रूवल दिया और जांच एजेंसियां इन सभी की जांच कर रही हैं।' आईएनएक्स मीडिया केस में पैसा कथित तौर पर फर्जी कंपनियों में लगाया गया। ये सभी फर्जी कंपनियां चिदंबरम के बेटे और लोकसभा सदस्य कार्ति चिदंबरम की हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पर आरोप है कि एयरसेल मैक्सिस केस और आईएनएक्स मीडिया से उन्होंने करीब 300 करोड़ रुपये रिश्वत के तौर पर लिए।  आगे पढ़ें

azam-khans-growing-troubles-ed-filed-case-of-money

आजम खान की बढ़ रही मुसीबतें, ईडी ने मनी लॉड्रिंग का केस किया दर्ज

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने समाजवादी पार्टी नेता आजम खान के खिलाफ गुरुवार को मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत केस दर्ज किया। आजम उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और रामपुर के मौजूदा सांसद हैं। पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ सरकार ने उनके खिलाफ रामपुर में अवैध कब्जों को लेकर मामले दर्ज किए थे। उनकी जौहर यूनिवर्सिटी पर भी पिछले दो दिन छापेमारी हुई थी। पुलिस के मुताबिक, यूनिवर्सिटी के पुस्तकालय से 2500 चोरी की दुर्लभ किताबें जब्त की गई हैं।  आगे पढ़ें

delhi-hawala-and-money-laundering-racket-suit-for-

दिल्ली: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की छापेमारी में 20 हजार करोड़ के हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का पदार्फाश

विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि पुरानी दिल्ली के विभिन्न कारोबारी क्षेत्रों में पिछले कुछ सप्ताह के दौरान आईटी डिपार्टमेंट की दिल्ली इकाई ने कई छापेमारी की। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इन छापेमारी से हवाला कारोबार के तीन समूहों द्वारा अवैध वित्तीय गतिविधियों में लिप्त होने का पता चला। अधिकारी ने कहा कि नया बाजार इलाके में एक ऐसा ही सर्वे किया गया जिसमें करीब 18 हजार करोड़ रुपये के फर्जी बिल मिले। समूह ने फर्जी बिल उपलब्ध कराने के लिये कई फर्जी इकाइयां बनाई हुईं थीं। हालांकि, विभाग ने आरोपियों की पहचान का खुलासा नहीं किया।  आगे पढ़ें

ed-office-vadra-inquiries-about-indian-properties-

मनी लाड्रिंग मामले में आज फिर पहुंचे ईडी दफ्तर वाड्रा, भारतीय संपत्तियों के बारे में पूछताछ जारी

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय आज फिर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति राबर्ट वाड्रा से पूछताछ कर रहा है। वाड्रा ईडी दफ्तर पहुंच चुके हैं। यह तीसरी बार है जब प्रवर्तन निदेशायल ने वाड्रा को पूछताछ के लिए बुलाया है। यहां उनसे पूछताछ शुरू हो चुकी है और ईडी के डिप्टी डायरेक्टर के नेतृत्व में टीम उनसे सवाल-जवाब कर रही है। जानकारी के अनुसार आज ईडी, वाड्रा से उनकी भारतीय संपत्तियों के बारे में सवाल पूछ रही है। इनमें यह पूछा जा रहा है कि भारत में वाड्रा की कितनी प्रॉपर्टी हैं, पहली प्रॉपर्टी कब ली, कहां-कहां पॉबपर्टी है, कितने फ्लैट और प्लॉट हैं।  आगे पढ़ें

money-lodring-mamale-mein-vadra-ko-sata-raha-girap

मनी लॉड्रिंग मामले में वाड्रा को सता रहा गिरफ्तारी का डर, कोर्ट में दायर की अग्रिम जमानत याचिका

बता दें कि वाड्रा के करीबी सहयोगी कहे जाने वाले सुनील अरोड़ा के खिलाफ ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। इस मामले में अरोड़ा को कोर्ट से 6 फरवरी तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत मिल चुकी है। यह मामला लंदन के 12, ब्रायनस्टन स्क्वेयर स्थित 19 लाख पाउंड (करीब 17 करोड़ रुपये) की एक प्रॉपर्टी की खरीदारी में कथित मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा हुआ है। ईडी का दावा है कि इस संपत्ति के असल मालिक वाड्रा हैं।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति