होम भारत सरकार
on-indias-appeal-pakistan-foreign-minister-said-pa

भारत की अपील पर पाक विदेश मंत्री ने कहा- मोदी की यात्रा के लिए एयरस्पेश नहीं खोलेगा पाकिस्तान

भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के फैसले पर अफसोस जताया है। मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि दो हफ्ते में लगातार दो बार वीवीआईपी फ्लाइट्स को गुजरने की अनुमति न देना दुर्भाग्यपूर्ण है। पाकिस्तान को स्थापित अंतरराष्ट्रीय नियमों का अच्छी तरह पालन करना चाहिए और एकतरफा कार्रवाई करने की अपनी पुरानी आदतों को नहीं दोहराने पर पुनर्विचार करना चाहिए।  आगे पढ़ें

the-leaders-of-imrans-party-are-not-believing-them

इमरान की पार्टी के नेता खुद को नहीं मान रहे सुरक्षित, भारत सरकार से शरण की लगाई गुहार

बलदेव कुमार ने पाकिस्तान में असुरक्षित माहौल का दावा करते हुए कहा, 'पाकिस्तान में सिर्फ अल्पसंख्यक नहीं, खुद मुस्लिम भी सुरक्षित नहीं हैं। हम पाकिस्तान में बहुत मुश्किल हालात का सामना कर रहे हैं। मैं भारत सरकार से अनुरोध करता हूं कि मुझे इस देश में शरण दें। मैं वापस नहीं जाऊंगा।' बता दें कि पिछले कुछ महीने में पाकिस्तान में अल्पसंख्यक लड़कियों को अगवा कर जबरन धर्मांतरण की कई घटनाएं हो चुकी हैं।  आगे पढ़ें

high-speed-of-bhopal-indore-metro-train-delhi-mou-

भोपाल-इंदौर मेट्रो ट्रेन की बढ़ी रफ्तार, महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के लिए दिल्ली हुआ एमओयू

भोपाल और इंदौर मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन मध्यप्रदेश मेट्रो रेल कापोर्रेशन द्वारा किया जायेगा। यह कंपनी अब भारत सरकार और मध्यप्रदेश सरकार की 50:50 ज्वाइंट वेंचर कंपनी में परिवर्तित होगी। कंपनी प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए स्पेशल पर्पज व्हीकल के रूप में कार्य करेगी। कंपनी का एक बोर्ड आफ डायरेक्टर्स होगा। इसमें 10 डायरेक्टर होंगे। भारत सरकार बोर्ड के चेयरमेन सहित 5 डायरेक्टर नामित करेगी। प्रदेश सरकार मैनेजिंग डायरेक्टर सहित 5 डायरेक्टर नामित करेगी।  आगे पढ़ें

pakistan-is-facing-trouble-on-kashmir-issue-now-ru

कश्मीर मुद्दे पर मुंह की खा रहा पाक, अब रूस ने कहा- भारत का फैसला संविधान के मुताबिक

रूसी विदेश मंत्रालय ने शनिवार को जारी बयान में स्पष्ट कर दिया कि भारत ने अपने संविधान के दायरे में रहते हुए जम्मू-कश्मीर का दर्जा बदला और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटा है। रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि मॉस्को तथ्यों की गहन पड़ताल करने के बाद इस फैसले पर पहुंचा है। रूस ने उम्मीद जताई कि दिल्ली द्वारा जम्मू और कश्मीर का दर्जा बदलने के कारण भारत और पाकिस्तान इलाके में हालात बिगड़ने नहीं देंगे। विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है, 'रूस भारत-पाकिस्तान के बीच रिश्ते सामान्य रखने का लगातार समर्थन किया है। हमें उम्मीद है कि दोनों द्वपक्षीय आधार पर राजनीतिक और राजनयिक प्रयासों से अपने मतभेद सुलझा लेंगे।'  आगे पढ़ें

government-of-india-rejects-pakistans-proposal-wan

भारत सरकार ने पाक के प्रस्ताव को किया खारिज, जाधव तक चाहता है ‘आबाध’ पहुंच

पाकिस्तान के प्रस्ताव पर लिखित में जवाब देने के बाद भारत सरकार अब इस्लामाबाद के जवाब का इंतजार कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान जाधव के साथ अकेले में भारतीय अधिकारियों को नहीं मिलने देना चाहता है। इसीलिए पाकिस्तान ने मुलाकात के लिए तीन शर्तें लगाई हैं। 3 शर्तों में पहली शर्त-जाधव से जिस रूम में भारतीय अधिकारी बातचीत करेंगे, उसमें पाकिस्तानी अधिकारी मौजूद रहेगा। दूसरी शर्त-कमरे में सीसीटीवी होगा। तीसरी शर्त-कमरे में बातचीत को रिकॉर्ड करने की सुविधा होगी।  आगे पढ़ें

pakistans-claim-india-has-stopped-the-train-carryi

पाकिस्तान का दावा: कहा- 200 सिख यात्रियों को सीमा पार ले जाने वाली ट्रेन को भारत ने रोकी

हाशमी ने दावा किया, 'हम इंतजार कर रहे सिख यात्रियों को लाने के लिए पाकिस्तानी ट्रेन को सीमा पार करने देने के संबंध में सीमा पर भारतीय अधिकारियों के साथ संपर्क में रहे लेकिन उन्होंने साफ इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि भारतीय अधिकारियों ने अपने इनकार की वजह नहीं बताई। ईटीपीबी एक सरकारी विभाग है जो पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के धार्मिक स्थलों एवं मामलों को देखता है।  आगे पढ़ें

army-and-will-be-strong-fleet-will-include-464-new

सेना और होगी मजबूत, बेड़े में शामिल होंगे 464 नए टी-90 भीष्म टैंक, पाक सीमा में होंगे तैनात

बता दें कि सेना के 67 बख्तरबंद रेजिमेंट में पहले से ही 1,070 टी-90 टैंक, 124 अर्जुन और 2,400 पुराने टी-72 टैंक मौजूद हैं। शुरूआती 657 टी-90 टैंक 2001 से रूस से 8,525 करोड़ रुपये में इंपोर्ट किए गए थे। अन्य 1000 टैंकों का लाइसेंस लेने के बाद इन्हें एचवीएफ ने रशियन किट से बनाया है। सूत्र के मुताबिक, 'बचे हुए 464 टैंकों के लिए इंडेंट (मांग पत्र) में कुछ देरी हुई है। इन नए टैंक में रात में भी लड़ने की क्षमता होगी। एक बार यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद पहले 64 टैंकों की डिलिवरी 30-41 महीनों में हो जानी चाहिए।' बता दें कि यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है, जब 1.3 मिलियन की मजबूत सेना युद्ध लड़ने वाली अपनी पूरी मशीनरी को फिर से तैयार कर रही है।  आगे पढ़ें

kartarapur-koridor-shilaanyas-samaaroh-mein-pahunc

करतारपुर कॉरिडोर शिलान्यास समारोह में पहुंचे 2 मंत्री, सम्मेलन की योजना पर भारत रख रहा नजर

भारत सरकार खालिस्तान सिख फॉर जस्टिस समर्थकों की 2019 में गुरु नानक की 550वीं जयंती के मौके पर पाकिस्तान में होने वाले सम्मेलन की योजना पर भी करीबी नजर बनाए हुए है। इस सम्मेलन में एसएफजे के सदस्य अलग खालिस्तान बनाने की मांग करेंगे। सूत्रों ने बताया कि सिख तीर्थयात्रियों को पाकिस्तान जिस उदारता के साथ वीजा दे रहा है, उससे सरकार को डर है कि भारत से जाने वाला सिख जत्था एसएफजे के सम्मेलन में शामिल हो सकता है। इसके अलावा करतारपुर गलियारा तीर्थयात्रियों के लिए वीजा फ्री भी रहेगा।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति