होम बिजली गुल
late-night-on-monday-in-the-rainy-season-water-fil

सोमवार देर रात जमकर बरसे बदरा, रिहायशी इलाकों में भरा पानी, कई जगह बिजली रही गुल

मानसून के दूसरे सबसे सक्रिय सिस्टम ने सोमवार रात को भोपाल में जमकर बारिश कराई। रात 8:30 बजे से 11:30 बजे तक करीब सवा चार इंच (107 मिमी) बारिश से राजधानी तर हो गई। जबकि सुबह से देर रात 1 बजे तक 5.54 इंच (140.9 मिमी) बारिश रिकॉर्ड हुई। मंगलवार सुबह तक ये आंतड़ा 166.5 मिलीमीटर तक पहुंच गया। अभी भी कई रिहायशी इलाकों में घुटनों तक पानी भर गया।  आगे पढ़ें

bijali-company-ke-avyavastha-se-pareshan-lakhon-up

बिजली कंपनी के अव्यवस्था से परेशान लाखों उपभोक्ता, बिजली गुल होने की नहीं दी जाती सूचना

बिजली कंपनी की अव्यवस्था के कारण इन दिनों शहर के लाखों बिजली उपभोक्ता परेशान हैं। बिल भुगतान के लिए कंपनी का अलर्ट मैसेज तो इन तक पहुंच जाता है, लेकिन बिजली गुल होने की सूचना नहीं मिल रही है। इंदौर-उज्जैन संभाग में कुल 42 लाख उपभोक्ता हैं। इनमें से 29 लाख उपभोक्ताओं के नंबर बिजली कंपनी में रजिस्टर्ड हैं। इनमें से 20 लाख के यहां बिल के मैसेज तो पहुंच रहे हैं, लेकिन अचानक बिजली गुल होने के संबंध में इन्हें मैसेज पर जानकारी नहीं मिल रही है। इनमें इंदौर के 5.50 लाख उपभोक्ता शामिल हैं। दो साल से बिजली कंपनी इन सभी उपभोक्ताओं को मेंटेनेंस के लिए की जा रही घोषित बिजली कटौती की पूर्व सूचना दे रही है।  आगे पढ़ें

gulati-lamps-in-the-meeting-of-health-minister-reb

स्वास्थ्य मंत्री की बैठक में गुल हुई बत्ती, टार्च की रोशनी में लगाई फटकार

अस्पतालों में बिजली जाने के मुद्दे पर मंत्री तुलसी सिलावट बैठक ले रहे थे। चिंतन हो रहा था कि अस्पतालों में बिजली जल्दी आए, बैकअप हो। बैठक चल ही रही थी कि अचानक बिजली गुल हो गई। बिजली कंपनी अधिकारियों के होश फाख्ता हो गए और मंत्री सिलावट नाराज...। कक्ष मोबाइल टॉर्च से रोशन हुआ। अफसर अधीनस्थों को फोन लगाने लगे। आठ मिनट के बाद बिजली लौटी। मंत्री सिलावट की नाराजगी अधिकारियों पर निकली। बोले- ये देखो, आपके सामने ही बिजली गुल हो गई। कांग्रेस के शासन में ऐसा क्यों हो रहा है, जबकि प्रदेश में बिजली सरप्लस है। अधिकारियों ने कारण बताया कि खंडवा रोड की ग्रिड पर फाल्ट हो गया। इसलिए बिजली गई है। जल्दी ही आ जाएगी।  आगे पढ़ें

talkh-hua-mausam-ka-mijaaj-himaachal-mein-barphaba

तल्ख हुआ मौसम का मिजाज, हिमाचल में बर्फबारी से लोगों की बढ़ी परेशानी, 60 सड़कें हुईं बंद

गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे कई स्थानों पर बंद है। केदारघाटी का भी यही हाल है। केदारनाथ में कई जगह पांच से छह फीट बर्फ जमा हो चुकी है। गौरीकुंड और केदारनाथ के बीच भारी बर्फबारी से बिजली लाइन क्षतिग्रस्त होने के कारण केदारनाथ में चौथे दिन भी बिजली की आपूर्ति बहाल नहीं की जा सकी। चमोली में बदरीनाथ और हेमकुंड साहिब के अलावा जोशीमठ, औली और गोरसो बुग्याल में जबरदस्त हिमपात हुआ है। उधर, सोमवार से रुद्रप्रयाग के चोपता में फंसे 70 से ज्यादा पर्यटकों को एसडीआरएफ की टीम ने सकुशल निकाल लिया।  आगे पढ़ें

baar-baar-bijalee-gul-hone-se-pareshaan-hurin-hema

बार-बार बिजली गुल होने से परेशान हुर्इं हेमा मालिनी, मोबाइल की रोशनी में पढ़ा भाषण

सांसद हेमा मालिनी की सभा में बार-बार बिजली गुल होने से शर्मिंदगी का सबब बन गया। बिजली गुल होने पर हेमा को मोबाइल के टॉर्च की रोशनी से अपना भाषण पूरा करना पड़ा। दरअसल मथुरा से बीजेपी सांसद हेमा मालिनी बुधवार को भोपाल की नरेला सीट से बीजेपी उम्मीदवार विश्वास सारंग के लिए प्रचार करने पहुंच थी जहां हेमा को सुनने के लिए काफी भीड़ मौजूद थी।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति