होम बिजली
pm-modi-dedicates-to-the-country-ultra-mega-solar-

पीएम मोदी ने देश को समर्पित किया रीवा में बने अल्ट्रा मेगा सौर ऊर्जा प्लांट, कहा-मध्य प्रदेश साफ-सुथरी और सस्ती बिजली का बन जाएगा हब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के रीवा में बने अल्ट्रा मेगा सौर ऊर्जा प्लांट देश को समर्पित किया। मोदी ने कहा कि मध्य प्रदेश साफ-सुथरी और सस्ती बिजली का हब बन जाएगा। इससे हमारे किसानों, मध्यम और गरीब परिवारों और आदिवासियों को फायदा होगा। हमारी संस्कृति में सूर्य का विशेष महत्व रहा है। उन्होंने एक संस्कृत के श्लोक से समझाया कि जो उपासना के योग्य सूर्य हैं, वे हमें पवित्र करें। सूर्य देव की इस ऊर्जा को आज पूरा देश महसूस कर रहा है। रीवा में ऐसा ही अहसास हो रहा है।  आगे पढ़ें

good-news-during-the-lockdown-cm-shivraj-did-half-

खुशखबरी: लॉकडाउन के दौरान तीन महीने के बिल को सीएम शिवराज ने किया आधा, 100 से 400 तक के बिल वालों को सिर्फ 100 रुपए ही जमा करना होगा

मध्यप्रदेश के लोगों के लिए खुशखबरी है। लॉकडाउन के दौरान तीन महीने के बिजली का बिल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आधा कर दिया है। सोमवार को इसका ऐलान किया गया।उन्होंने कहा कि अप्रैल में 100 रुपए तक का बिजली बिल भरने वाले उपभोक्ताओं को मई, जून, जुलाई में सिर्फ 50 रुपए ही भरना होगा। जिन लोगों ने 100 से 400 रुपए तक का बिजली बिल जमा किया था, उनसे 100 रुपए ही लिए जाएंगे। 400 रुपए से ज्यादा बिजली बिल वालों को आधा ही बिल भरना होगा। शिवराज ने 10 से ज्यादा आम उपभोक्ताओं से वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत भी की।  आगे पढ़ें

after-the-sunshine-and-humidity-throughout-the-day

दिन भर धूप-छांव और उमस के बाद तेज हवाओं के साथ जमकर बरसे बादल, डेढ़ घंटे में 15 मिमी हुई बारिश, कई इलाकों में बिजली हुई गुल

राजधानी में बुधवार को दिन भर धूप-छांव और उमस के बाद तेज हावाओं के साथ जमकर बारिश शुरू हो गई। शहर में जहां 50 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार के साथ डेढ़ घंटे में ही 15 मिमी तक पानी बरस गया, वहीं बैरागढ़ में हवा की रफ्तार 40 किमी प्रतिघंटा रहा। इसके कारण शहर के कई इलाकों में बिजली गुल और ट्रैफिक जाम के कारण लोगों को परेशानी हुई, लेकिन बारिश होने से दिन भर की उमस से लोगों को राहत मिली।  आगे पढ़ें

rajy-ke-lokatantrik-svaasthy-par-khatara

राज्य के लोकतान्त्रिक स्वास्थ्य पर खतरा

टाइगर वाली छवि के सहारे एक बार फिर प्रदेश की सत्ता तक पहुंचे शिवराज एक बार पुन: चंदा मामा से प्यारा मेरा मामा की तर्ज पर लोकप्रियता जुगाड़ने का प्रयास तेज कर चुके हैं। खास बात यह कि मौका और दस्तूर के लिहाज से भी उनके यह कदम जस्ट आन टाइम वाले साबित हो रहे हैं। कोरोना के बीच प्रदेश में आम जनता खासकर बिजली के अंधाधुंध बिलों से खासी परेशान रही। विपक्ष सहित सोशल मीडिया और मीडिया भी इस बात पर ध्यान दिलाते रहे कि उपभोक्तांओं को मनमानी राशि वाले बिल थमा दिए गए हैं। ऐसे में यह फैसला यकीनन बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं को राहत देने वाला साबित होगा, इसमें कोई शक नहीं है। readmore  आगे पढ़ें

work-on-the-plan-to-provide-12-hours-of-electricit

किसानों को खेती के लिए 12 घंटे बिजली देने की योजना पर हो काम: ऊर्जा मंत्री

ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि किसानों को खेती के लिए लगातार 12 घण्टे बिजली देने की योजना पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विरासत में मिली खस्ताहाल विद्युत कंपनियों पर कुल रुपए 37 हजार 963 करोड़ ऋण था। साथ ही, कम्पनियों का संचयी घाटा बढ़कर लगभग 44 हजार 975 करोड़ हो गया था। इस कारण नई सरकार के सामने कई चनौतियाँ थीं। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि कठिन परिस्थितियों से जूझते हुए सरकार द्वारा पिछले एक साल में प्रदेशवासियों को निर्बाध बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। सरकार ने सत्ता संभालते ही इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है।  आगे पढ़ें

mla-akash-gave-a-warning-to-the-government-said-gi

विधायक आकाश ने दी सरकार को चेतावनी, कहा- किसानों को जल्द दें मुआवजा, बिजली को लेकर ठोस कदम उठाएं

कलेक्टर कार्यालय पर सोमवार को भारतीय जनता पार्टी ने किसानों के मुआवजे, कर्जमाफी और भारीभरकम आ रहे बिल को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए देपालपुर के पूर्व विधायक मनोज पटेल ने कहा कि अगर बिजली विभाग के अधिकारी नहीं सुधरे तो उन्हें कमरे में बंद किया जाएगा। इसके बाद आकाश विजयवर्गीय ने माइक थामा और मंच से ही सरकार को खुली चेतावनी दे डाली।  आगे पढ़ें

electricity-consumers-start-getting-benefit-of-ind

बिजली उपभोक्ताओं इंदिरा गृहज्योति योजना का लाभ मिलना शुरू, इस बार 100 रुपए से कम आया बिल

प्रदेश में पहली बार कम बिजली का उपयोग कर ज्यादा बिल का भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं के चेहरे दीवाली से पहले खिल उठे हैं। इंदिरा गृहज्योति योजना का लाभ मिलना शुरू हो गया है। अक्टूबर माह में जो बिल उपभोक्ताओं को मिल रहे हैं वे इसी योजना के तहत दिए जा रहे हैं। 100 यूनिट तक बिजली जलाने वाले उपभोक्ताओं के बिल 100 और उससे कम बिजली यूनिट का उपयोग करने वालों के बिल खर्च की गई यूनिट के अनुसार आ रहे हैं। इससे पहले जब भी कोई योजना सरकार की आती थी वो एक खास वर्ग के लिए आती थी।  आगे पढ़ें

young-man-stranded-in-11-kv-line-stranded-in-curre

11 केवी लाईन के तार को काट रहे युवक करंट में फंसे, चारों की मौत

बिजली के तार चुराने के प्रयास में रविवार रात जिले के बनारसी गांव में चार युवकों की करंट लगने से मौत हो गई। चारों युवक 11 केवी लाइन के तार को काटकर लपेट रहे थे, तभी उन्हें पास से निकली दूसरी घरेलू लाइन का करंट लग गया। करंट लगने से गोकुल कुशवाहा 25, संजय वंशकार 22, प्रीतम कुशवाहा 25 और हन्नू कुशवाहा 20 साल की मौके पर ही मौत हो गई। यह चारों मड़वार पृथ्वीपुर के निवासी हैं। पुलिस ने मौके से बाइक और कटर बरामद किए हैं।  आगे पढ़ें

late-night-on-monday-in-the-rainy-season-water-fil

सोमवार देर रात जमकर बरसे बदरा, रिहायशी इलाकों में भरा पानी, कई जगह बिजली रही गुल

मानसून के दूसरे सबसे सक्रिय सिस्टम ने सोमवार रात को भोपाल में जमकर बारिश कराई। रात 8:30 बजे से 11:30 बजे तक करीब सवा चार इंच (107 मिमी) बारिश से राजधानी तर हो गई। जबकि सुबह से देर रात 1 बजे तक 5.54 इंच (140.9 मिमी) बारिश रिकॉर्ड हुई। मंगलवार सुबह तक ये आंतड़ा 166.5 मिलीमीटर तक पहुंच गया। अभी भी कई रिहायशी इलाकों में घुटनों तक पानी भर गया।  आगे पढ़ें

former-legislator-surendra-nath-singh-warned-if-in

पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह ने दी चेतावनी, कहा- गरीबों के साथ अन्याय हुआ तो सड़कों में बहेगा खून

पूर्व विधायक ने कहा कि नगर निगम द्वारा बिना व्यवस्थित हाट बाजार बनाए ही ठेले गुमठियों को हटाया जा रहा है। इससे उनके घरों में भूखे मरने की नौबत आ गई है। बच्चों को स्कूल की फीस जमा नहीं कर पा रहे हैं। इसी तरह पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों के लिए संबल योजना शुरू की थी। इसके तहत महीने के 200 रुपए बिजली बिल की जगह कमलनाथ सरकार दो से तीन हजार रुपए के बिल भेज रही है। इस दौरान अनेक महिलाएं बढ़े हुए बिल लेकर प्रदर्शन कर रही थीं। सिंह ने कहा कि कोई भी झुग्गीवासी बढ़े हुए बिल जमा न करे। यदि झुग्गियों में अंधेरा हुआ तो मुख्यमंत्री कमलनाथ के घर में भी बिजली नहीं जलेगी। साथ ही प्रदर्शनकारियों ने प्रदेश सरकार की योजनाओं के खिलाफ नारेबाजी की।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति