होम प्रियंका गांधी
meeting-between-leaders-on-congress-president-cont

कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर नेताओं के बीच बैठक जारी, ज्यादातर कांग्रेसी राहुल को ही पद पर बनाए रखना चाहते हैं

सोनिया-राहुल गांधी भी सीडब्ल्यूसी की बैठक के दौरान पार्टी दफ्तर पहुंचे, लेकिन थोड़ी देर बाद चले गए। जबकि प्रियंका गांधी पूरे समय मौजूद रहीं। यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने कहा, ''मैं और राहुल अध्यक्ष पद के लिए हो रहे विचार-विमर्श प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हैं। सीडब्ल्यूसी के सदस्य देशभर से आए नेताओं से चर्चा करेंगे।'' इससे पहले शुक्रवार को सूत्रों के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि जल्द ही पार्टी अध्यक्ष का चुनाव कर लिया जाएगा। अध्यक्ष पद की दौड़ में मल्लिकार्जुन खड़गे और मुकुल वासनिक सबसे आगे चल रहे हैं।  आगे पढ़ें

nakami-e-kismat-kya-shay-hai

नाकामी ए किस्मत क्या शय है.....

अमेठी के राजा संजय सिंह गांधी परिवार और खासकर संजय गांधी के खास लोगों में गिने जाते रहे हैं। उनकी पहली पत्नी गरिमा सिंह इस समय अमेठी से भाजपा की विधायक हैं। और दूसरी पत्नी कभी बेडमिंटन खिलाड़ी रही अमिता मोदी, विधानसभा का चुनाव हारी थीं। संजय सिंह 1989 में जनता दल में शामिल हुए थे। जनता दल से राज्यसभा में रहे फिर 1998 में भाजपा में शामिल हो गए और लोकसभा का चुनाव जीता। फिर सोनिया के कांग्रेस में आगमन पर सोनिया से हारे और वापस कांग्रेस में आ गए। जाहिर है संजय सिंह की निष्ठाएं बदलती रही हैं। पर इस बार उन्होंने कांग्रेस छोड़ने का जो कारण बताया है, वो शायद कांग्रेस के पतन की स्थिति का एक बड़ा कारण भी है। संजय सिंह ने कहा है कि कांग्रेस में संवादहीनता की स्थिति है। संजय सिंह के इस आरोप ने हेमंत बिस्वा शर्मा की याद भी ताजा कर दी। हेमंत इस समय असम की भाजपा सरकार में उपमुख्यमंत्री और उत्तर पूर्व में भाजपा का जनाधार मजबूत करने वाले एक बड़े नेता के तौर पर स्थापित हैं। read more  आगे पढ़ें

after-the-tharoor-captain-has-given-support-to-pri

थरूर के बाद कैप्टन ने प्रियंका गांधी को अध्यक्ष बनाने का किया समर्थन, कहा- मिलेगा पूरा सहयोग

प्रियंका गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा जोर पकड़ने लगी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को चंडीगढ़ में कहा कि अगर प्रियंका गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनने के लिए हां करती हैं, तो उन्हें हमारा पूर्ण सहयोग मिलेगा। राहुल गांधी को इस पर विचार करना चाहिए। अमरिंदर के अनुसार- प्रियंका गांधी इस पद के लिए बेहतर हैं। वे पार्टी की पसंद हैं। सबकुछ कांग्रेस कार्य समिति पर निर्भर करता है। समिति ही इस पर फैसला लेगी। उन्होंने कहा- भारत युवाओं का देश है। किसी युवा नेता को ही पार्टी की कमान संभालनी चाहिए।  आगे पढ़ें

prior-to-the-elections-in-haryana-the-two-parties-

हरियाणा में चुनाव से पहले दोनों दलों ने झोंकी ताकत, भाजपा सपना तो कांग्रेस प्रियंका के भरोसे

हरियाणा विधानसभा चुनावों में बड़ी जीत के लिए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के साथ-साथ कांग्रेस ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। चुनावों से पहले ही दोनों ही पार्टियां रणनीति बनाने में जुटी हुई हैं। एक तरफ कोशिश दोबारा सत्ता हासिल करने की है तो दूसरी तरफ बीजेपी को बेदखल कर खुद सत्ता में आने की है। कांग्रेस अपनी नई रणनीति के तहत राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को यहां चुनाव प्रचार की कमान देने की तैयारी में है। उधर, बीजेपी हाल ही में पार्टी में शामिल हुईं और हरियाणा में बेहतर दखल रखने वाली सपना चौधरी के जरिए 75+ का सपना संजोए है। इसके साथ ही यह भी खबर है कि अगर हरियाणा में सपना का जादू चल गया तो फिर पार्टी उन्हें दिल्ली से विधानसभा भेजने की भी तैयारी में है  आगे पढ़ें

rahul-talked-about-bjp-attack-said-greeds-victory-

राहुल ने भाजपा पर बोला हमला, कहा- कर्नाटक में लालच की जीत और ईमानदारी की हुई हार

कर्नाटक में जेडीएस-कांग्रेस की गठबंधन सरकार गिरने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधा है। राहुल ने ट्विटर के जरिए बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा है कि कर्नाटक में लालच की जीत हुई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी को कठघरे में खड़ा किया है। राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा, 'कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार बनने के पहले दिन से बाहरी और भीतरी दोनों ओर से यह निशाने पर थी। जो लोग इस गठबंधन को सत्ता के रास्ते में एक खतरे और बाधा के रूप में देख रहे थे, आज उनका लालच जीत गया है। यह लोकतंत्र, ईमानदारी और कर्नाटक की जनता की हार है।'  आगे पढ़ें

former-delhi-chief-minister-sheila-dikshit-joins-t

दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित पंचतत्व में हुई विलीन, मनमोहन सिंह और अमित शाह अंतिम संस्कार में हुए शामिल

दिल्ली में कांग्रेस के आॅफिस का झंडा आधा झुका हुआ है। अपने विनम्र स्वभाव से उन्होंने न सिर्फ आम लोगों का दिल जीता, बल्कि विरोधी भी उनके काम और लगन के कायल हैं। दिल्ली में विभिन्न क्षेत्रों में बुनियादी स्तर पर काम कराए और सड़कों व फ्लाईओवरों के निर्माण से उन्होंने शहर के बुनियादी ढांचे में एक क्रांतिकारी बदलाव कर दिए। उन्होंने बेहतर पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम, दिल्ली मेट्रो के साथ ही स्वास्थ्य और शैक्षणिक क्षेत्र के विकास में भी काफी काम किया। शीला दीक्षित ने साल 1998 से 2013 तक के अपने 15 साल के शासन के दौरान दिल्ली का चेहरा पूरी तरह से बदलकर रख दिया। भाजपा नेता सुषमा स्वराज ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी।  आगे पढ़ें

priyanka-gandhis-arrest-in-protest-against-the-arr

प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में मंत्रियों ने विधानसभा में मचाया हंगामा, रोकी कार्यवाही

सदन की कार्रवाई शुरू होते ही कांग्रेस सदस्यों और खासतौर से मंत्रियों ने 17 मिनट तक प्रश्नकाल शुरू नहीं होने दिया। मंत्री जीतू पटवारी, सज्जन वर्मा और ओंकार सिंह मरकाम जोर-जोर से चिल्ला रहे थे कि आदिवासियों के आंसू पोछने गई प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ यूपी सरकार ने गलत कार्रवाई की। मरकाम भाजपा पर आदिवासियों पर अत्याचार करने के आरोप लगा रहे थे। विस अध्यक्ष ने कई बार मंत्रियों से शांत होने को कहा पर वे नहीं माने।  आगे पढ़ें

sonbhadra-murder-priyanka-gandhi-meets-relatives-o

सोनभद्र हत्याकांड: 24 घंटे धरने के बाद पीड़ित परिवार के रिश्तेदारों से मिलीं प्रियंका गांधी

प्रियंका ने कहा कि अगर सोनभद्र नहीं जाने दिया जा रहा तो मिजार्पुर या कहीं भी प्रशासन हमें पीड़ित परिवारों से मिलवा दे, लेकिन मिले बिना नहीं जाएंगे। दूसरी ओर, कांग्रेस के कई बड़े भी मिजार्पुर के सुनार गेस्ट हाउस पहुंच रहे हैं। प्रियंका के समर्थन में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश सिंह बघेल, जितिन प्रसाद और दीपेंद्र हु़ड्डा भी सुनार पहुंच रहे हैं। प्रियंका गांधी ने कहा, 'जब मुझे रोका गया तो मैंने कल ही कहा था कि मैं धारा 144 का उल्लंघन नहीं करना चाहती हूं और आप गाड़ी में ही मुझे बैठाकर ले चलिए, मैं अपने साथ दो लोगों को ही लेकर सोनभद्र चलने के लिए तैयार हूं लेकिन मैं पीड़ितों से किसी भी सूरत में मिलना चाहती हूं।' प्रियंका ने कहा, 'मुझे पीड़ितों से मिलना है मिलवा दें। मैं परिवार के सदस्यों से मिले बिना नहीं जाऊंगी। अगर सोनभद्र के बाहर भी मिलवाना चाहे तो मिलवा दें।'  आगे पढ़ें

priyanka-did-the-defense-of-rahuls-decision-saying

राहुल के फैसले का प्रियंका ने किया बचाव, कहा- ऐसा साहस बहुम कम लोगों में होता है

कांग्रेस अध्यक्ष से इस्तीफा देने के एक दिन बाद पार्टी की महासचिव और राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने भाई के फैसले का बचाव किया है। प्रियंका ने राहुल के फैसले को साहसिक बताया है। प्रियंका ने ट्वीट कर कहा, 'राहुल गांधी जैसा करने का साहस बहुत कम लोगों के पास होता है। मैं आपके फैसले का आदर करती हूं।' बता दें कि राहुल गांधी ने बुधवार को सभी सस्पेंस खत्म करते हुए चार पेज का इस्तीफा ट्वीट कर कांग्रेस अध्यक्ष पद छोड़ने का ऐलान किया था।  आगे पढ़ें

priyanka-gandhi-congress-ready-to-make-big-changes

यूपी में बड़े बदलाव की तैयारी में प्रियंका गांधी, कांग्रेस को युवा शक्ति से करेंगी लैस

प्रियंका के चार सूत्री एजेंडा में जिले में नेतृत्व टीम में ओबीसी और एससी समुदाय के नेताओं की हिस्सेदारी शामिल है। पार्टी की नजर राज्य में किसान नेताओं, सामाजिक कार्यकतार्ओं और छात्र नेताओं पर भी है। उन्हें कांग्रेस में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। पार्टी में बड़े बदलाव की योजना में इंडियन यूथ कांग्रेस जैसे पार्टी के प्रमुख संगठनों को मजबूत करने पर भी ध्यान दिया जाएगा। प्रियंका के समीक्षा बैठकें करने के दौरान कई नेताओं ने कहा था कि पहले कांग्रेस सरकारों में यूथ कांग्रेस का अधिक प्रतिनिधित्व होता था और किसी सार्वजनिक अभियान में उसे हमेशा शामिल किया जाता था।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति