होम प्रधानमंत्री मोदी
after-the-temple-mosque-in-ayodhya-now-it-is-the-t

अयोध्या में मन्दिर मस्जिद के बाद अब 'राष्ट्र मन्दिर' के निर्माण की बारी

अयोध्या में मंदिर निर्माण जल्द से जल्द प्रारंभ किए जाने के लिए साधु संतों के जमावड़े ने सरकार से कई बात कानून बनाने अथवा अध्यादेश जारी करने की मांग की गई थी। तब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट कहा था कि यह मामला सर्वोच्च न्यायालय में विचाराधीन है और सरकार न्यायालय के फैसले की प्रतीक्षा करेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत के बाद भी अपने रुख को दोहराया। सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी भूरी -भूरी प्रशंसा की जानी चाहिए कि उन्होंने देश की जनता, साधु संतों और राजनीतिक दलों को इस फैसले की धैर्य पूर्वक प्रतीक्षा करने के लिए मानसिक रूप से तैयार किया।  आगे पढ़ें

emotional-modi-dares-to-hug-while-meeting-isro-chi

इसरो चीफ पीएम से मिलते ही हुए भावुक, मोदी ने गले लगाकर दी हिम्मत

पीएम मोदी ने के सिवान को काफी देर तक गले लगाए रखा और ढांढस बंधाते रहे। आखिरकर, इसरो चीफ ने खुद को संभाला और इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने फिर से उनका हौंसला बढ़ाते हुए वहां से रवाना हुए। यह एक ऐसा पल था जब यूं लग रहा था मानों प्रधानमंत्री एक बड़े भाई की तरह के सिवान को गले लगाकर यह कह रहे हों कि सब ठीक हो जाएगा।  आगे पढ़ें

at-g-7-summit-trump-will-hold-bilateral-talks-with

जी-7 समिट में ट्रंप कश्मीर समेत अन्य मुद्दो पर दुनिया के बड़े नेताओं से करेंगे द्विपक्षीय वार्ता, जानना चाहेंगे मोदी का प्लान

अमेरिका चाहता है कि भारत यूएस से आयात होने वाली वस्तुओं और सेवाओं पर टैरिफ घटाए। साथ ही अपने बाजार को खुला और स्वतंत्र करने पर काम करे। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक, ट्रम्प जी-7 में जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। इस दौरान ट्रम्प के लिए कश्मीर के अलावा रशियन गैस सप्लाई भी एक अहम मुद्दा रहेगा।  आगे पढ़ें

the-whole-world-colorful-of-yoga-pm-modi-did-with-

योग के रंग में रंगी पूरी दुनिया, पीएम मोदी ने 30000 लोगों के साथ किया योग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर 2014 में संयुक्त राष्ट्र में अपने संबोधन में योग को दुनिया की तमाम चुनौतियों के लिए संभावित समाधान के तौर पर पेश किया था। दुनिया भर में जिन भी देशों में भारत के मिशन हैं, वहां जोर-शोर से योग दिवस मनाया जा रहा है। इसके पीछे वजह योग के सॉफ्ट पावर को भुनाना है। सवा अरब आबादी वाले भारत का दुनिया में प्रतिनिधित्व करने के लिए इंडियन फॉरन सर्विस (कऋर) के करीब 900 अधिकारी हैं, जबकि भारत से काफी कम जनसंख्या वाले अमेरिका के विदेश सेवा विभाग में करीब 15,000 अधिकारी हैं। इसी तरह चीन में विदेश सेवा के करीब 5,000 अधिकारी हैं। भारत कूटनीतिक मैनपावर की कमी की भरपाई योग के सॉफ्ट पावर के साथ-साथ बॉलिवुड और बौद्ध धर्म (जिसने पूरब और दक्षिण-पूर्व एशिया में भारत की कूटनीतिक मदद की है) के जरिए कर रहा है।  आगे पढ़ें

om-birla-became-the-president-of-17th-lok-sabha-al

17वीं लोकसभा के अध्यक्ष बने ओम बिरला, सभी दलों ने किया समर्थन

17वीं लोकसभा के बजट सत्र के दौरान लोकसभा के नए स्पीकर का चुनाव हो चुका है। सदन की कार्यवाही के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने सदन में राजस्थान के कोटा से सांसद ओम बिरला के नाम का प्रस्ताव किया है जिस पर प्रोटेम स्पीकर ने मतदान करवाया और ओम बिड़ला को लगभग सभी दलों से समर्थन मिल गया। इसके बाद ओम बिरला अगले पांच साल के लोकसभा के अध्यक्ष चुन लिए गए हैं। अध्यक्ष चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी उन्हें स्वयं आसंदी तक लेकर गए। इसके बाद एक-एक करके सांसदों ने बिड़ला को अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई दी।  आगे पढ़ें

the-first-session-of-the-17th-lok-sabha-from-today

17वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से, दो दिनों तक चेगला शपथ ग्रहण कार्यक्रम

खबरों के अनुसार सदन में पीएम मोदी और उनके मंत्रियों के बाद यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी शपथ ले सकती हैं। दरअसल, सदन का परंपरा रही है कि मंत्रीमंडल के बाद सदन के वरिष्ठतम सांसद शपथ लेते हैं। 2014 में लालकृष्ण आडवाणी और सोनिया गांधी ने शपथ ली थी। इस बार आडवाणी चुनाव नहीं लड़े और इस वजह से सोनिया गांधी ही शपथ लेंगी। संसद का बजट सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। प्रोटेम स्पीकर के रूप में इसके लिए डॉ. वीरेंद्र कुमार का चयन कर लिया गया है। 19 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। 20 जून को राष्ट्रपति संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे। जबकि पांच जुलाई को सरकार अपना पूर्ण बजट पेश करेगी। इस बार लोकसभा में कईं नए चेहरे नजर आएंगे वहीं कईं पुराने चेहरे गायब होंगे। नए चेहरों में सबसे बड़ा नाम अमित शाह का है जो पहली बार लोकसभा सांसद बने हैं।  आगे पढ़ें

modi-told-the-ministers-said-at-930-pm-the-office-

मोदी ने दी मंत्रियों को नसीहत, कहा- 9.30 बजे पहुंचे आफिस, घर से काम करने से करें परहेज

पीएम मोदी ने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब अधिकारियों के साथ समय पर आॅफिस पहुंच जाते थे। बता दें कि मंत्रिपरिषद की पहली बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री मोदी कर रहे थे। उन्होंने अपने मंत्रियों से कहा कि वे नए चुने गए सांसदों से भी मिलें क्योंकि सांसद और मंत्री में बहुत बड़ा अंतर नहीं होता है। सूत्रों के मुताबिक उन्होंने मंत्रियों से कहा कि पांच साल का अजेंडा बनाकर काम की शुरआत करें और इसका प्रभाव 100 दिन में नजर आ जाना चाहिए।  आगे पढ़ें

rahul-gandhi-modi-from-wayanad-said-the-current-go

वायनाड से राहुल ने मोदी साधा निशाना, कहा- मौजूदा सरकार देश में फैला रही नफरत

राहुल ने केरल और उत्तरप्रदेश की दो सीटों पर चुनाव लड़ा था। अमेठी में उन्हें स्मृति ईरानी से हार मिली, जबकि वायनाड में राहुल 4 लाख 31 हजार से ज्यादा वोट से जीते थे। वायनाड से जीतने के बाद राहुल का केरल का यह पहला दौरा है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को केरल और रविवार को आंध्र प्रदेश के तिरुपति का दौरा करेंगे। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। वे तीन दिन शुक्रवार, शनिवार और रविवार को केरल में रहेंगे। शनिवार को वायनाड जिले में उनका रोड शो होगा। राहुल ने बताया कि तीन दिन में वे 15 जगह स्वागत समारोह में शामिल होंगे।  आगे पढ़ें

polling-for-the-last-phase-tomorrow-pm-modi-in-man

आखिरी चरण के लिए मतदान कल, पीएम मोदी सहित कई दिग्गज मैदान में

चंडीगढ़ और सात राज्यों के लिए चुनाव प्रचार जहां आज खत्म हुआ, वहीं पश्चिम बंगाल में हिंसा की कई घटनाओं के मद्देनजर चुनाव आयोग ने गुरुवार को ही चुनाव प्रचार खत्म करने का आदेश दिया था। आखिरी चरण के लिए कुल 918 उम्मीदवार मैदान में हैं। चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद थे। हालांकि पत्रकारों के सवालों के जवाब अमित शाह ने ही दिए। बीजेपी की प्रेस कॉन्फ्रेंस के वक्त ही कांग्रेस मुख्यालय में राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया को संबोधित किया। हालांकि, वह पीएम पद के उम्मीदवार पर कुछ भी बोलने से बचते दिखे।  आगे पढ़ें

priyanka-gave-the-challenge-to-modi-said-show-the-

प्रियंका ने मोदी को दी चुनौती, कहा- दो चरणों के चुनाव जीएसटी और नोटबंदी पर लड़कर दिखाएं

रोडशो के दौरान प्रियंका गांधी ने कहा, आपने (बीजेपी) देश के नौजवानों से झूठे वादे किए, आप उन वादों पर चुनाव लड़िए। प्रियंका ने कहा कि उनकी हालत स्कूल के बच्चों की तरह हो गई है। वे (बीजेपी) होमवर्क नहीं पूरा कर पाए हैं और अब स्कूल के बच्चों की तरह बहानेबाजी कर रहे हैं। क्या करें नेहरू जी ने मेरा पर्चा ले लिया, मैं क्या करूं इंदिरा जी ने कागज की कश्ती बना दी मेरे होमवर्क की और कहीं पानी में डुबो दी।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति