होम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
pm-modi-to-visit-today-for-bilateral-talks-will-di

द्विपक्षीय वार्ता के लिए पीएम मोदी आज जाएंगे फ्रांस, राष्ट्रपति के साथ आतंकवादी और सुरक्षा पर करेंगे चर्चा

भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जीगलर ने ट्वीट किया, मैक्रों और मोदी के बीच द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन को लेकर शेटो डी चैंटिली पूरी तरह से तैयार है। यह फ्रांस की सांस्कृतिक विरासत में से एक है। विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा, फ्रांस की द्विपक्षीय यात्रा और जी-7 शिखर सम्मेलन में भारत के शामिल होने से दोनों देशों के संबंधों को मजबूती मिलेगी। यात्रा के दौरान विज्ञान, जलवायु परिवर्तन, फाइनेंसिंग, ग्रीन टेक्नोलॉजी में सहयोग, डिजिटल और साइबरस्पेस जैसे नए क्षेत्रों में साझेदारी जैसे समझौतों पर मुख्य रूप से जोर होगा।  आगे पढ़ें

ban-on-plastic-in-parliament-premises-on-pms-appea

पीएम की अपील पर संसद परिसर में प्लास्टिक पर लगा बैन, सचिवालय ने निर्देश का पालन करने को कहा

सचिवालय के बयान में कहा गया कि, सचिवालय और अन्य संबद्ध एजेंसियों के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को संसद भवन परिसर में दिशा-निर्देश का पालन करने को कहा गया है। उन्हें पर्यावरण फ्रेंडली बायोडिग्रेडेबल बैग्स और अन्य वस्तुएं इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है। लोकसभा सचिवालय द्वारा की जा रही यह पहल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्लास्टिक मुक्त देश बनाने के आह्वान किए जाने का हिस्सा है।  आगे पढ़ें

pm-raises-issue-of-violent-protest-in-front-of-ind

लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने हिंसक प्रदर्शन का पीएम ने उठाया मुद्दा, ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने जताया खेद

15 अगस्त को पाक और खालिस्तान समर्थक प्रदर्शनकारियों ने भारतीय ध्वज का अपमान किया था। इस दौरान हाई कमीशन की बिल्डिंग पर पत्थरबाजी की कोशिश भी की गई। रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि लंदन पुलिस ने इस मामले में देरी से कार्रवाई की। प्रदर्शन के बाद भारतीय अधिकारियों ने ब्रिटेन में सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की थी। मोदी से बातचीत के दौरान ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने कश्मीर मुद्दे को भारत-पाक का द्विपक्षीय मसला बताया। जॉनसन ने कहा कि ब्रिटेन का मत यह है कि कश्मीर विवाद को द्विपक्षीय तरीके से बातचीत के जरिए सुलझाया जाना चाहिए। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच कश्मीर के हालात पर भी चर्चा हुई।  आगे पढ़ें

pm-raises-issue-of-violent-protest-in-front-of-ind

लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने हिंसक प्रदर्शन का पीएम ने उठाया मुद्दा, ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने जताया खेद

15 अगस्त को पाक और खालिस्तान समर्थक प्रदर्शनकारियों ने भारतीय ध्वज का अपमान किया था। इस दौरान हाई कमीशन की बिल्डिंग पर पत्थरबाजी की कोशिश भी की गई। रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि लंदन पुलिस ने इस मामले में देरी से कार्रवाई की। प्रदर्शन के बाद भारतीय अधिकारियों ने ब्रिटेन में सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की थी। मोदी से बातचीत के दौरान ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने कश्मीर मुद्दे को भारत-पाक का द्विपक्षीय मसला बताया। जॉनसन ने कहा कि ब्रिटेन का मत यह है कि कश्मीर विवाद को द्विपक्षीय तरीके से बातचीत के जरिए सुलझाया जाना चाहिए। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच कश्मीर के हालात पर भी चर्चा हुई।  आगे पढ़ें

modi-addresses-students-in-bhutan-says-young-scien

मोदी ने भूटान में छात्रों को किया संबोधित, कहा- युवा वैज्ञानिक भारत आकर छोटा सैटैलाइट बनाएंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भूटान में रॉयल विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि भारत और भूटान एक दूसरे की परंपराएं समझते हैं। भारत भाग्यशाली है कि वह राजकुमार सिद्धार्थ के बुद्ध बनने की जगह रहा। मैं आज भूटान के भविष्य के साथ हूं। आपकी ऊर्जा महसूस कर सकता हूं। मैं भूटान के इतिहास, वर्तमान या भविष्य को देखता हूं तो मुझे दिखता है कि भारत और भूटान के लोग आपस में काफी परंपराएं साझा करते हैं। भूटान के युवा वैज्ञानिक भारत आकर अपने लिए एक छोटा सैटेलाइट बनाने पर काम करेंगे।  आगे पढ़ें

modi-who-left-for-bhutan-for-bilateral-talks-may-h

द्विपक्षीय वार्ता के लिए भूटान दौरे के लिए रवाना हुए मोदी, दोनों देशों के बीच हो सकते हैं 10 करार

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं द्विपक्षीय संबंधों के तमाम पहलुओं पर भूटान नरेश, पूर्व नरेश और वहां के प्रधानमंत्री के साथ सार्थक बातचीत को लेकर आशान्वित हूं। साथ ही भूटान के रॉयल विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित करने को लेकर भी उत्सुक हूं। मुझे विश्वास है कि इस यात्रा से भूटान के साथ हमारी मित्रता और मजबूत होगी, जिससे दोनों देशों के बीच समृद्धि और प्रगति का मार्ग प्रशस्त होगा। भारत की ह्यपड़ोसी पहलेह्ण की नीति रही है।  आगे पढ़ें

former-pm-vajpayees-first-death-anniversary-today-

पूर्व पीएम वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि आज, राष्ट्रपति-पीएम समेत वरिष्ठ नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देने शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सदैव अटल स्मारक पहुंचे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी अड्डा समेत कई वरिष्ठ नेताओं ने भी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी। अटल जी की बेटी नमिता कौल भट्टाचार्य और पोती निहारिका ने भी स्मृति स्थल पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।  आगे पढ़ें

75-days-of-modi-2-pm-said-results-achieved-due-to-

मोदी-2 के 75 दिन पूरे, पीएम ने कहा- स्पष्ट नीति के चलते हमने हासिल किए नतीजे

मोदी ने कहा- हमने मौजूदा समय की सबसे बड़ी समस्या को सुलझाने के लिए उठाए गए कदम से शुरूआत की। हमने जलशक्ति मिनिस्ट्री का गठन किया ताकि पानी की सप्लाई और जल संचय को बढ़ाने के लिए मिशन मोड पर काम किया जा सके। उन्होंने कहा- पिछली बार से ज्यादा जनादेश मिलने के बाद तेजी से सुधार के कदम उठाने के पीछे क्या लोगों को यह बताना है कि आने वाले 5 सालों में क्या होगा? इस पर मोदी ने कहा- एक तरह से कहा जा सकता है कि यह सरकार के दोबारा और ज्यादा जनादेश के साथ वापस आने का नतीजा है। हमने इन 75 दिनों में जो हासिल किया है, वह उस मजबूत आधार का नतीजा है, जो पिछले 5 साल में हमने बनाया।  आगे पढ़ें

pm-modi-will-go-to-america-in-september-will-addre

पीएम मोदी सितंबर में जाएंगे अमेरिका, ह्यूस्टर में भारतीय समुदाय को करेंगे संबोधित

कार्यक्रम के आयोजन का जिम्मा टेक्सास इंडिया फोरम के पास है। संस्था से जुड़े लोगों ने एनआरजी फुटबॉल स्टेडियम में 50 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद जताई है। रजिस्ट्रेशन के लिए लोगों से कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। स्टन के मेयर सिल्वेस्टर टर्नर ने बताया कि हम प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत के लिए उत्सुक हैं। अमेरिका में भारतीय समुदाय उनके लिए घर जैसा है। प्रधानमंत्री के यहां आने से ह्यूस्टन और भारत के बीच कारोबार, संस्कृति और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।  आगे पढ़ें

pms-address-to-the-nation-said-with-the-removal-of

पीएम का राष्ट्र के नाम संबोधन: कहा- अनुच्छेद 370 हटने से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख विकास में की राह में तेजी से बढ़ेंगे आगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार रात 8 बजे राष्ट्र को संबोधित किया। करीब 40 मिनट का उनका भाषण जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर ही केंद्रित था। प्रधानमंत्री ने कहा कि अनुच्छेद 370 ने जम्मू-कश्मीर को दशकों तक केवल आतंकवाद, अलगाववाद, भ्रष्टाचार और परिवारवाद दिया। उन्होंने कहा कि यह अनुच्छेद हटने के बाद पूरा यकीन है कि केंद्र शासित जम्मू-कश्मीर और लद्दाख विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ेंगे। प्रधानमंत्री ने स्पष्ट किया, जब जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य होंगे, विकास होगा, राज्य में समृद्धि और शांति स्थापित हो जाएगी, तो यह केंद्र शासित नहीं रहेगा। केवल कुछ कालखंड के लिए इसे केंद्र शासित बनाया गया है।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 7 8 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति