होम टीम इंडिया
former-captain-kapil-dev-said-i-felt-strange-when-

पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा- जब मैं कप्तान बना तो मुझे अजीब लगा, मेरे हीरो मेरे नेतृत्व में खेल रहे थे

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान अपनी कप्तानी के दिनों की कुछ यादें साझा कीं। 1982-83 के सीजन में 23 साल की उम्र में टीम इंडिया की कप्तानी संभालने वाले कपिल ने कहा, कप्तान की भूमिका में आने के बाद मुझे काफी अजीब लगता था कि मैं इस पद पर पहुंच गया और मेरे हीरो मेरे नेतृत्व में खेल रहे हैं। इसलिए वह काफी मुश्किल समय था। लेकिन मैंने एक बात ठान ली थी कि फील्ड पर मैं कप्तान हूं और फील्ड के बाहर सभी सीनियर्स मेरे कप्तान।  आगे पढ़ें

india-win-test-series-in-west-indies-beat-indies-b

वेस्टइंडीज में भारत ने जीती टेस्ट सीरीज, दूसरे मैच में इंडीज 257 रनों से हराया

भारत ने पहली पारी में हनुमा विहारी के शतक और इशांत शर्मा के अर्धशतक की बदौलत 416 रन बनाए थे। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरी वेस्टइंडीज की पूरी टीम पहली पारी में 117 रन पर आलआउट हो गई थी। भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने हैट्रिक समेत छह विकेट हासिल किए। इस तरह पहली पारी में भारत को विंडीज पर 299 रन की बढ़त मिल गई थी।  आगे पढ़ें

cricket-team-india-recorded-biggest-win-on-foreign

क्रिकेट: विदेशी जमीन पर टीम इंडिया ने दर्ज की सबसे बड़ी जीत, इंडीज को 318 रनों से हराया

दो टेस्ट की सीरीज के पहले टेस्ट में भारत ने वेस्टइंडीज को 318 रनों से हरा दिया। रनों के अंतर से विदेशी जमीन पर यह टीम इंडिया की सबसे बड़ी जीत है। वेस्टइंडीज के खिलाफ भी उसे टेस्ट की सबसे बड़ी जीत मिली। भारत की जीत के हीरो रहे इशांत शर्मा, अजिंक्य रहाणे और जसप्रीत बुमराह। रहाणे (102 और 81 रन) दोनों पारियों में टीम के हाईएस्ट स्कोरर रहे। वहीं इशांत शर्मा ने मैच में कुल 8 विकेट हासिल किए। चौथी पारी के हीरो रहे जसप्रीत बुमराह, जिन्होंने 7 रन देकर 5 विकेट लिए और टीम को चौथे दिन ही जीत दिला दी। यह उनके करियर की चौथी 5 विकेट हॉल है।  आगे पढ़ें

indian-team-can-get-new-coach-today-ravi-shastri-l

भारतीय टीम को आज मिल सकता है नया कोच, दौड़ में सबसे आगे रवि शास्त्री

टीम इंडिया के अगले का कोच का ऐलान आज शुक्रवार को होगा। कपिल देव की अगुवाई वाली क्रिकेट एडवाइजरी काउंसिल ने 6 नाम शॉर्ट लिस्ट किए हैं। उम्मीदवारों का इंटरव्यू आज मुंबई में होगा। वर्तमान कोच रवि शास्त्री फिलहाल वेस्टइंडीज दौरे पर हैं। ऐसे में वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इंटरव्यू में हिस्सा लेंगे। शास्त्री के अलावा न्यूजीलैंड के पूर्व कोच माइक हेसन, आॅस्ट्रेलिया के पूर्व आॅलराउंडर टॉम मूडी, वेस्टइंडीज के पूर्व ओपनर फिल सिमंस, टीम इंडिया के पूर्व मैनेजर लालचंद राजपूत और टीम इंडिया के पूर्व फील्डिंग कोच रॉबिन सिंह को शॉर्ट लिस्ट किया गया है।  आगे पढ़ें

dhoni-gets-run-out-as-fan-shocked-death

सेमीफाइनल मुकाबले में धोनी के रन आउट होते ही फैंस को लगा सदमा, हुई मौत

भारत-न्यू जीलैंड का यह रोमांचक मुकाबला जब क्लाइमेक्स पर था उस वक्त कोलकाता के साइकल दुकानदार श्रीकांत मैती अपनी दुकान में बैठे मोबाइल पर मैच देख रहे थे। आखिरी 11 गेंदों में भारत को 25 रन चाहिए थे। 49वें ओवर की दूसरी गेंद पर कोई रन नहीं बना। तीसरी गेंद पर धोनी एक रन तेजी से दौड़े और दूसरे के लिए उसी तेजी से लौटे। लेकिन मार्टिन गप्टिल का सीधा थ्रो विकेट उखाड़ चुका था और धोनी पलक झपकते ही रन आउट हो गए। गप्टिल के इस थ्रो ने टीम इंडिया की उम्मीदों और करोड़ों भारतीय फैंस के सपनों को तोड़ दिया। श्रीकांत भी यह सदमा सहन नहीं कर सके और धोनी के आउट होने के तुरंत बाद दुकान के अंदर ही उनकी मौत हो गई। श्रीकांत अपने मोबाइल फोन पर मैच के रोमांचक क्षणों को देख रहे थे। लेकिन धोनी के विकेट ने ऐसा झटका दिया कि उनकी सांसें थम गईं।  आगे पढ़ें

87-year-old-charulata-virat-and-rohit-have-been-th

बर्मिंघम मैच के दौरान आकर्षण का केन्द्र रहीं 87 वर्षीय चारुलता, विराट और रोहित ने लिया आशीर्वाद

आईसीसी की डिजिटल इनसाइडर रिद्धिमा पाठक ने चारुलता पटेल से बात की। उन्होंने बताया - मैं भारत में नहीं बल्कि तंजानिया में पैदा हुई। लेकिन मेरे बच्चे सरे काउंटी से खेले हैं, इसलिए मुझे क्रिकेट पसंद है। लेकिन मेरे माता-पिता भारत से हैं, इसलिए मुझे भारत से बहुत ज्यादा लगाव है। मुझे लगता है कि इस बार भारत वर्ल्ड कप जीतेगा। मैं 1983 में जब भारत वर्ल्ड चैंपियन बना था, तब भी इंग्लैंड में ही थी। मैं शुरू में अफ्रीका में थी और तब से क्रिकेट देख रही हूं। काफी सालों से क्रिकेट पसंद है। जब नौकरी करती थी तो टीवी पर क्रिकेट देखती थी, लेकिन रिटायरमेंट के बाद जब भी मौका मिलता है तो वे स्टेडियम आकर मैच देखती हूं।  आगे पढ़ें

vaquar-younis-a-frustrated-neighbor-from-indias-de

भारत की हार से बौखलाया पड़ोसी, वकार यूनुस ने टीम इंडिया की खेल भावना पर उठाए सवाल

पाकिस्तान इस मैच में भारत का समर्थन कर रहा था, क्योंकि इसमें जीत से सरफराज अहमद की अगुआई वाली टीम की सेमीफाइनल में पहुंचने की संभावना बढ़ जाती। भारत हालांकि रविवार को 338 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पांच विकेट पर 306 रन ही बना पाया और उसे टूर्नमेंट में पहली हार का सामना करना पड़ा। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कोच वकार ने ट्विटर पर अपनी खुन्नस निकाली। उन्होंने लिखा, 'यह मायने नहीं रखता कि आप कौन हैं...आप जीवन में क्या करते हैं, इससे पता चलता है कि तुम कौन हो.. मुझे इसकी चिंता नहीं है कि पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंचता है या नहीं लेकिन एक बात पक्की है .. कुछ चैंपियन्स की खेल भावना की परीक्षा ली गई और वे उसमें बुरी तरह असफल रहे।'  आगे पढ़ें

mahbuba-who-said-on-the-defeat-of-team-india-lost-

टीम इंडिया की हार पर बोलीं महबूबा, कहा- भगवा जर्सी के कारण हुई हार

नैशनल कॉन्फ्रेंस लीडर तथा पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने भी टीम इंडिया की हार पर सवाल उठाया है। उमर ने कहा, 'पाकिस्तान और इंग्लैंड की जगह अगर हमारा सेमीफाइनल का टिकट दांव पर लगा होता तब भी क्या टीम इंडिया ऐसे ही बल्लेबाजी करती' ऐसा इसलिए है क्योंकि अफगानिस्तान और इंग्लैंड दोनों टीमों के खिलाड़ियों की जर्सी का रंग नीला है। आईसीसी के नियमों के मुताबिक, किसी भी ऐसे मैच में, जिसका प्रसारण टीवी पर होता है, दोनों टीमें एक ही रंग की जर्सी पहनकर नहीं उतर सकती हैं। यह नियम फुटबॉल के 'होम और अवे' मुकाबलों में पहनी जाने वाली जर्सी से प्रेरित होकर बनाया गया है।  आगे पढ़ें

world-cup-india-will-play-four-matches-in-10-days-

वर्ल्ड कप: भारत को 10 दिन में खेलने हैं चार मैच, अब होगी विराट टीम की असली परीक्षा

किसी भी टीम के लिए क्रिकेट वर्ल्ड कप उसी तरह होता है जैसे टेनिस खिलाड़ी के लिए ग्रैंड स्लैम जिसमें चैंपियन बनने के लिए करीब 2 सप्ताह में 7 विपक्षी खिलाड़ियों को मात देनी होती है। हर मैच 5 सेट का होता है। प्रतिभा की परीक्षा से ज्यादा टेस्ट इसमें टिके रहने की ताकत और स्थिरता का होता है। भारत के लिए अगले चार मैच कुछ ऐसा ही रहने वाला है। इन मैचों में भारतीय खिलाड़ियों का न केवल प्रतिभा का टेस्ट होगा बल्कि विपक्षी टीमों को मात देने की उनकी रणनीति की भी परीक्षा होगी। 27 जून के बाद विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम 30 जून को मजबूत इंग्लैंड से और फिर बांग्लादेश से 2 जुलाई को मुकाबला खेलेगा। उसका अंतिम लीग मैच लीड्स में 6 जुलाई को श्री लंका के खिलाफ खेला जाएगा।  आगे पढ़ें

team-indias-victory-over-pak-witnessed-many-record

टीम इंडिया की पाक पर जीत के बाद कई रिकार्डों का गवाह बना ओल्ड ट्रेफर्ड स्टेडियम

भारत पाकिस्तान के बीच वर्ल्ड कप में हुए मैच में पहली बार ऐसा हुआ कि टॉस जीतने वाली टीम ने गेंदबाजी चुनी। इससे पहले दोनों टीमों के बीच वर्ल्ड कप में कुल 6 मुकाबले हुए, जिसमें हर बार टॉस जीतने वाली टीम ने पहले बल्लेबाजी ही चुनी। बता दें कि वे सभी 6 मुकाबले भारत ने जीते थे और इस बार 7वां जीतकर अजय बढ़त कायम रखी। रविवार को हुए मैच में पाकिस्तान के कप्तान सरफराज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। इसके पीछे मैनचेस्टर का मौसम था। वहां हुई बारिश की वजह उम्मीद की जा रही थी कि पिच गेंदबाजों को फायदा देगी। टॉस हारने के बाद कप्तान विराट कोहली ने भी कहा था कि अगर वह टॉस जीतते तो पहले गेंदबाजी ही चुनते।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति