होम जेट एयरवेज
former-jet-airways-chairman-not-allowed-to-go-abro

जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन को विदेश जाने की नहीं मिली इजाजत, एयरपोर्ट पर रोका

सूत्रों के अनुसार अधिकारियों ने विमान में अनिता गोयल के नाम से लोड हो चुके सामान को भी वापस निकाल लिया। हालांकि खबर लिखे जाने तक नरेश गोयल से इस पर प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं हो सका, जबकि एमिरेट्स की प्रतिक्रिया का इंतजार था। पिछले महीने जेट एयरवेज आॅफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन की प्रेसिडेंट किरण पावस्कर ने मुंबई पुलिस कमिश्नर से नरेश गोयल और जेट एयरवेज प्रबंधन के शीर्ष अधिकारियों का पासपोर्ट रद्द करने का आग्रह किया था।  आगे पढ़ें

spicejet-attends-jets-on-employees-job-given-to-50

जेट के कर्मचारियों पर मेहरबान हुआ स्पाइसजेट, 500 कर्मचारियों को दी नौकरी

स्पाइसजेट ने कहा कि हम बड़ी संख्या में नए विमान को जोड़ने वाले हैं। स्पाइसजेट हर वो कदम उठा रहा है जिससे यात्रियों की तकलीफ को कम किया जा सकेगा। साथ ही हम आने वाले बिजी सेशन में उन भारतीय ग्राहकों की सेवा के लिए तत्पर हैं जिन्हें सीट मिलने में परेशानी हो रही है। स्पाइसजेट ने गुरूवार को दिल्ली-मुंबई जैसे शहरों को टीयर-टू शहरों से जोड़ने के लिए 24 नए फ्लाइट्स की घोषणा की है। इनमें से ज्यादातर फ्लाइट मुंबई को कोलकाता, जयपुर, हैदराबाद, जयपुर, बागडोगरा, मैंगलुरू और अमृतसर से लिंक करेंगे। इसके अलावा दिल्ली-मुंबई-दिल्ली को दो अतिरिक्त फ्रिक्वेंसी मिल जाएगी। महीने की शुरूआत में ही एयरलाइन ने कोलकाता, चैन्नई और वाराणसी को मुंबई से जोड़ने वाली 6 नई फ्लाइट्स की घोषणा की थी।  आगे पढ़ें

जेट का परिचालन बंद हो से कंपनी के 20 हजार कर्मचारियों पर संकट के बादल

जेट एयरवेज की स्थापना पहली अप्रैल 1992 को नरेश गोयल के पुत्र निवाण व पुत्री नम्रता गोयल की कंपनी टेलविंड्स द्वारा की गई थी। जेट ने 5 मई, 1993 को मुंबई व अहमदाबाद से एयर टैक्सी आॅपरेटर के तौर पर अपने आॅपरेशंस शुरू किए। उसके बाद12 मई, 1994 को जेट एयरवेज के सारे शेयर टेलविंड्स का ट्रांसफर कर दिए गए। टेलविंड्स में उस समय नरेश गोयल की इक्विटी 60 फीसद, जबकि गल्फ एयर और कुवैत एयर की 20-20 फीसद थी। 14 जनवरी, 1995 को जेट को शेड्यूल्ड एयरलाइन का दर्जा मिल गया। जेट की पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान 2004 को दिल्ली से काठमांडू के लिए हुई थी। 2005 में जेट ने अपना पहला इक्विटी इश्यू निकाला। 2007 में इसने एयर सहारा को खरीद लिया और उसका नाम जेटलाइट कर दिया। 2008 में जेटलाइट का जेट एयरवेज में विलय कर दिया गया। 2009 में जेट एयरवेज ने जेट कनेक्ट नाम से एक और लो कॉस्ट सब्सिडियरी लांच की। 2010 में कंपनी ने नंबर-वन एयरलाइन का दर्जा हासिल कर लिया और उसके बाद लो-कॉस्ट एयरलाइंस से स्पर्धा के चलते वर्ष 2012 में जेट एयरवेज दूसरे स्थान पर आ गई।  आगे पढ़ें

jet-airways-canceled-foreign-flights-for-many-peop

जेट एयरवेज की विदेशी उड़ानों को रद्द करने से कई लोगों के विदेश में छुट्टियों के प्लान को लगा झटका

जेट एयरवेज ने पिछले गुरुवार को एम्सटर्डम, पैरिस और लंदन की अपनी बची हुई विदेशी उड़ानों को रद्द करने की घोषणा की थी। ईटी ने रिपोर्ट दी थी कि जेट ने पिछले कुछ महीनों में खाड़ी देशों, दक्षिण पूर्ण एशिया और सार्क देशों सहित 15 से अधिक कम दूरी वाले विदेशी रूट्स क लिए उड़ानें बंद की हैं। आनलाइन ट्रैवल बुकिंग साइट के मैनेजिंग डायरेक्टर कपिल गोस्वामी ने बताया, 'पश्चिमी देशों के लिए जेट की उड़ानें रद्द होने से प्रति दिन 1,000 पैसेंजर पर असर पड़ रहा है।' उनका कहना था कि हॉलिडे सीजन नजदीक होने के कारण इससे विदेश में छुट्टियों के लिए जाने वालों को मुश्किल होगी। जेट एयरवेज की लगभग सभी उड़ानें अब बंद होने से अन्य एयरलाइंस में सीटों की उपलब्धता कम हो गई है। इसके नतीजे में भारत से विदेश और देश के अंदर उड़ानों के किराए लगभग 25 पर्सेंट बढ़ गए हैं।  आगे पढ़ें

the-path-of-jet-airways-is-still-not-easy-further-

जेट एयरवेज की राह अभी भी नहीं है आसान, आगे और मुश्किलें

विमानन उद्योग के विशेषज्ञों का मानना है कि जेट की वित्तीय सेहत तब बिगड़नी शुरू हुई, जब उसके दो प्रतिद्वंद्वियों किफायती विमानन सेवा प्रदाता कंपनियों स्पाइसजेट और इंडिगो ने प्राइस वॉर को पूरी तरह से एक नए मुकाम पर पहुंचा दिया। आने वाले समय में भी दोनों कंपनियों द्वारा प्राइस वॉर को जारी रखने की उम्मीद है, जिसका मतलब यही है कि जेट की सेहत सुधारने के लिए कंपनी में पूंजी डालने के सिवा और कोई रास्ता नहीं है। निकट भविष्य में जेट एयरवेज को होने वाले नुकसान को भी टाला नहीं जा सकता और झटके से उबरने में कंपनी को केवल पर्याप्त मात्रा में पूंजी ही मदद कर सकती है। इसके अलावा, बहुत कुछ आने वाले समय में जेट के कर्जदाताओं द्वारा उठाए गए कदमों पर भी निर्भर करेगा, चाहे ज्यादा से ज्यादा पूंजी डालना हो या मालिक बदलना।  आगे पढ़ें

jet-airways-aims-to-get-rid-of-financial-crisis-sb

जेट ऐयरवेज को वित्तीय संकट से निकालने कोशिश हुई तेज, एसबीआई ने बनाया प्लान

जेट एयरवेज को कर्ज देने वाले बैंकों के समूह की अगुवाई कर रहे एसबीआई के चेयरमैन ने कहा कि हम मानते हैं कि यह सभी के हित में है कि जेट एयरवेज उड़ती रहे। अबू धाबी की साझेदार कंपनी एतिहाद से इस दिशा में बातचीत चल रही है। जेट एयरवेज को दिवालिया घोषित करने का मतलब इसे बंद करना होगा। सूत्रों के अनुसार, एसबीआई के चेयरनैन रजनीश कुमार ने बुधवार को सबसे पहले विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला और उसके बाद प्रधानमंत्री के सचिव नृपेंद्र मिश्र के साथ मीटिंग की और फिर वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। उसके बाद रेजॉल्यूशन प्लान को लेकर वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उनकी लंबी मीटिंग चली।  आगे पढ़ें

crisis-on-jet-airways-since-the-financial-crisis-a

वित्तीय संकट से जेट एयरवेज पर संकट, अब सिर्फ उड़ रहे हैं 41 प्लेन: डीजीसीए

जेट एयरवेज एक अरब डॉलर (करीब 6,895 करोड़ रुपये) से भी ज्यादा के कर्ज में डूबी है। इस वजह से वह बैंकों, सप्लायरों, पायलटों को समय पर भुगतान नहीं कर पा रही है। इनमें से कुछ ने एयरलाइन के साथ लीज डील को खत्म कर दिया है। डीजीसीए ने यह भी कहा है कि ऐसे पायलट, केबिन क्रू और ग्राउंड स्टाफ, जो किसी भी तरह के तनाव की शिकायत कर रहे हैं, उन्हें ड्यूटी पर नहीं लगाया जाना चाहिए। महानिदेशालय ने साथ में यह भी हिदायत दी है कि जेट एयरवेज को अपने विमानों का नियमित तौर पर मेनटेनंस करना चाहिए, भले ही वे फिलहाल ग्राउंडेड हों।  आगे पढ़ें

like-other-countries-in-the-world-india-stopped-th

दुनिया में अन्य देशों की तरह भारत ने देर रात बोइंग 737 मैक्स विमानों पर लगाई रोक

रविवार को हुई इस विमान दुर्घटना में 157 लोगों की मौत हो गई थी। स्पाइस जेट के पास करीब 12 ऐसे विमान हैं, जबकि जेट एयरवेज के पास ऐसे पांच विमान हैं। नागर विमानन मंत्रालय ने एक ट्विटर पर कहा कि डीजीसीए ने बोइंग 737-मैक्स विमानों के उड़ान भरने पर फौरन प्रतिबंध लगा दिया है। ये विमान तब तक उड़ान नहीं भरेंगे, जब तक कि सुरक्षित परिचालन के लिए उपयुक्त सुधार एवं सुरक्षा उपाय नहीं कर लिए जाते। मंत्रालय ने कहा कि हमेशा की तरह यात्रियों की सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। हम यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दुनियाभर के नियामकों, एयरलाइनों और विमान निमार्ताओं के साथ करीबी परामर्श करना जारी रखेंगे।  आगे पढ़ें

jet-eyaravej-kee-reting-ghatee-karj-vasoolee-ke-li

जेट एयरवेज की रेटिंग घटी, कर्ज वसूली के लिए दबाव बढ़ा सकते हैं बैंक

इकरा ने एक स्टेटमेंट में बताया, 'कंपनी फंड जुटाने में देरी कर रही है। इससे उसकी वित्तीय मुश्किलें बढ़ी हैं।' रेटिंग एजेंसी ने बताया, 'जेट पहले से ही एंप्लॉयीज को समय पर सैलरी नहीं दे पा रही है। एयरक्राफ्ट लीज रेंटल पेमेंट का भुगतान भी कंपनी समय पर नहीं कर पा रही है।' जेट का शेयर बुधवार को 6.16 पर्सेंट की गिरावट के साथ 263.75 रुपये पर रहा। इससे पहले मंगलवार रात को कंपनी ने एक्सचेंजों को डिफॉल्ट के बारे में बताया था। जेट पर 8,000 करोड़ रुपये का कर्ज है।  आगे पढ़ें

sarakaar-chaahatee-hai-taata-samooh-kare-jed-eyara

सरकार चाहती है टाटा समूह करे जेड ऐयरवेज का अधिग्रहण, बची रहे लोगों की नौकरी

सरकार चाहती है कि टाटा देश की दूसरी सबसे बड़ी एयरलाइन को संकट से उबार ले। आखिर इसके पीछे वजह क्या है? दरअसल 2019 में आम चुनाव होने जा रहे हैं और सरकार नहीं चाहती है कि जेट एयरवेज की वजह से लोगों की नौकरी जाए। इससे एक बुरा संदेश लोगों के बीच जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार टाटा से लगातार संपर्क कर रही है और जेट के कुछ बकाए को राइट आॅफ करने का भी आॅफर दे रही है।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति