होम गृह विभाग
in-a-meeting-related-to-corona-with-modi-shivraj-s

मोदी के साथ कोरोना संबंधी बैठक में शिवराज ने कहा- प्रधानमंत्री के नेतृत्व में टीम इंडिया कोरोना से शीघ्र जीत हासिल करेगी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोरोना के संबंध में आज देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ ली गई वीडियो कान्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री की दूरदृष्टि, संकल्पशक्ति तथा उनके कुशल नेतृत्व में टीम इंडिया कोरोना के विरूद्ध जंग में शीघ्र जीत हासिल करेगी। प्रधानमंत्री ने संघीय ढांचे के सम्मान और गरिमा के अनुरूप निरंतर राज्यों के साथ संवाद एवं समन्वय करके देश में कोरोना के विरूद्ध इतनी सशक्त रणनीति लागू की है, जिससे हमने कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण पाया है। गृह विभाग की एडवायजरी राज्यों के लिए अत्यंत स्पष्ट और उपयोगी होती है।  आगे पढ़ें

rajgarh-collector-certified-for-slapping-asi-dgp-w

एएसआई को थप्पड़ मारने का आरोप राजगढ़ कलेक्टर पर प्रमाणित, कार्रवाई के लिए डीजीपी ने गृह विभाग को लिखा पत्र

राजगढ़ जिले की कलेक्टर निधि निवेदिता पर एएसआई को थप्पड़ मारने का आरोप प्रमाणित पाया गया है। डीजीपी वीके सिंह ने गृह विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर यह जानकारी दी। डीजीपी ने लिखा है कि कलेक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि पुलिस चाहे तो इस मामले में सीधे कार्रवाई कर सकती थी, लेकिन मामला कलेक्टर से जुड़ा होने की वजह से सरकार को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी गई है। इस पत्र के बाद आईएएस एसोसिएशन और आईपीएस एसोसिएशन में मतभेद उजागर हो गए हैं।  आगे पढ़ें

home-minister-gave-instructions-to-police-officers

गृहमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को दिया निर्देश, कहा- अयोध्या फैसले को ध्यान में रखकर करें सुरक्षा के इंतजाम

गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन ने आज मंत्रालय में गृह विभाग तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक में निर्देश दिये कि अयोध्या पर सर्वोच्च न्यायालय के आने वाले फैसले को ध्यान में रखकर प्रदेश में शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जायें। बैठक में प्रमुख सचिव गृह एस.एन. मिश्रा एवं पुलिस महानिदेशक विजय कुमार सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  आगे पढ़ें

honey-trap-case-high-court-asks-the-government-why

हनी ट्रैप मामला: हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा- 10 से 11 दिन दिन में क्यों बदल रहे एसआईटी प्रमुख, गृह सचिव से मांगा जवाब

एडवोकेट अशोक चितले, मनोहर दलाल, लोकेंद्र जोशी ने इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने और जांच की निगरानी हाईकोर्ट से कराने की मांग को लेकर आवेदन दाखिल किया था। इसकी सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को यह निर्देश दिए। आवेदन में सवाल उठाया गया है कि इतने गंभीर मामले में सरकार बार-बार एसआईटी टीम में बदलाव क्यों कर रही है। सरकार की प्रक्रिया को देखते हुए इसे बाहर की एजेंसी के हवाले कर देना चाहिए। सरकार अपनी पसंद के अधिकारी से मनमानी जांच करवाना चाहती है। हर अधिकारी अपनी तरह से जांच शुरू करता है और कुछ दिन में उसे हटा दिया जाता है।  आगे पढ़ें

responding-to-mlas-statement-on-the-statement-of-t

मंत्री के बयान पर विधायक शर्मा का जवाब, कहा- हम कुत्ते हैं लेकिन प्रदेश की जनता के वफादार हैं

हाल ही में गृह विभाग में तैनात खोजी कुत्तों का तबादला किया गया था, जिसको लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेताओं ने कांग्रेस सरकार पर तंज कसा था। इसके बाद कांग्रेस सरकार में सज्जन सिंह वर्मा ने बीजेपी की मानसकिता की तुलना कुत्तों से की थी। अब इसी का जवाब देते हुए बीजेपी नेता ने कहा है कि हां हम कुत्ते हैं। सज्जन सिंह वर्मा के बयान का जवाब देते हुए बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा है, 'अगर सज्जन सिंह वर्मा हमें कुत्ता कह रहे हैं तो हम उन्हें कहना चाहते हैं कि हां हम कुत्ते हैं। हम मध्य प्रदेश की जनता के वफादार कुत्ते हैं।  आगे पढ़ें

deepening-of-water-in-the-state-is-under-water-cri

प्रदेश में गहराता जा रहा है पानी का संकट, गृह विभाग ने पुलिस को स्थिति पर नजर रखने दी हिदायत

भीषण गर्मी में पेयजल को लेकर पूरे प्रदेश में हाहाकार मचा हुआ है। शहरी क्षेत्रों में पानी के लिए लंबी-लंबी लाइनें लगने लगी हैं तो ग्रामीण क्षेत्र में कई किलोमीटर दूर से लोगों को पानी लाना पड़ रहा है। पानी के परिवहन की स्थिति भी बन रही है। इससे पानी के टैंकर पहुंचने पर ज्यादा से ज्यादा पानी लेने के लिए कानून व्यवस्था की स्थिति बनने लगती है। इसे देखते हुए गृह विभाग ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक को ध्यान रखने को कहा है कि कहीं पानी संकट से कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित नहीं हो।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति