होम कमल नाथ
mp-by-election-churning-begins-for-second-list-of-

मप्र उपचुनाव: कांग्रेस की दूसरी सूची के लिए मंथन शुरू, दूसरे दलों से आए नेताओं को मिल सकता है मौका, सिकरवार और पारुल के नाम की चर्चा जोरों पर

मध्यप्रदेश में निकट भविष्य में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए कांग्रेस में उम्मीदवारों की दूसरी सूची पर मंथन जारी है। कांग्रेस की संभावित दूसरी सूची में दल बदलने वाले कई नेताओं के नाम भी हो सकते हैं। राज्य में 28 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव होना है। इनमें से 15 सीटों के लिए कांग्रेस अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर चुकी है। वहीं शेष 13 उम्मीदवारों के नामों को लेकर मंथन चल रहा है। कांग्रेस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि उपचुनाव वाले सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ ने तीन सर्वे कराए हैं और उसी के आधार पर उम्मीदवारों के नाम तय किए जाएंगे।  आगे पढ़ें

council-decision-cctv-cameras-will-be-installed-in

मंत्रि-परिषद के निर्णय: न्यायालयों में आॅडियो रिकार्डिंग सहित सीसीटीव्ही कैमरे लगाए जाएंगे

मुख्यमंत्री कमल नाथ की अध्यक्षता में मंत्रालय में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के समस्त अधीनस्थ न्यायालयों में आॅडियो रिकार्डिंग सहित सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिये 125 करोड़ 89 लाख रुपए की प्रशासकीय एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गयी। इस परियोजना को तीन भागों में विभाजित कर प्रथम वर्ष 2020-21 के लिये 40 करोड़ रुपए, द्वितीय वर्ष 2021-22 के लिये 50 करोड़ रुपए तथा तृतीय वर्ष 2022-23 के लिये 35 करोड़ 89 लाख रुपए का आवंटन उपलब्ध कराया जायेगा।  आगे पढ़ें

namaste-orchha-festival-will-boost-tourism-in-the-

नमस्ते ओरछा उत्सव से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा : संस्कृति मंत्री

ऐतिहासिक नगरी ओरछा में शुक्रवारको नमस्ते ओरछा समारोह के शुभारंभ में संस्कृति मंत्री डाँ. विजय लक्ष्मी साधौ ने कहा कि मुख्यमंत्री कमल नाथ का नमस्ते ओरछा का आयोजन एक स्वप्न था, जो आज साकार होने जा रहा हैं। मध्यप्रदेश की पुरातात्विक धरोहर को दुनिया मे दिखाया जायें, जिससे लोग मध्यप्रदेश मे आयें। मध्यप्रदेश विभिन्न भाषाओं का प्रदेश है, यहां विभिन्न भाषाएं बोली जाती हैं। नमस्ते ओरछा महोत्सव से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। डॉ. साधौ ने अपने संबोधन मे सबका स्वागत किया।  आगे पढ़ें

decision-of-the-council-of-ministers-trust-will-be

मंत्रि-परिषद के निर्णय: मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गठित होगा राम वन पथ-गमन निर्माण के लिये न्यास

मुख्यमंत्री कमल नाथ की अध्यक्षता में मंत्रालय में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में चित्रकूट से लेकर अमरकंटक तक चिन्हांकित किये गये राम वन पथ गमन के निर्माण के लिये न्यास का गठन करने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में न्यास का गठन होगा। न्यास में मुख्य सचिव सदस्य होंगे तथा अन्य न्यासी सदस्य भी होंगे। मंत्रि-परिषद ने महावीर कीर्ति स्तम्भ समिति, भिण्ड को उनके आधिपत्य की भूमि को पूर्व की सभी देयताओं में छूट देते हुए शून्य प्रीमियम एवं मात्र 1 रुपए वार्षिक भू-भाटक पर देने की मंजूरी दी। समिति को भूमि का हस्तांतरण किया जायेगा।  आगे पढ़ें

identify-the-powers-that-divide-the-country-the-re

देश को बांटने वाली शक्तियों को पहचानें, भारत की असली शक्ति है आध्यात्मिक शक्ति : कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि आज ऐसी शक्तियों को भी पहचानना जरूरी है, जो देश को बांटने का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भारत की संस्कृति अनेकता में एकता की संस्कृति है। इसकी असली शक्ति आध्यात्मिक शक्ति है, जो देश को बांधे रखती है और आगे बढ़ाती है। कमल नाथ बिट्टन मार्केट दशहरा मैदान में यादव महासभा मध्यप्रदेश के प्रांतीय अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे।  आगे पढ़ें

quality-education-and-food-for-children-is-necessa

बेहतर समाज और देश के नव-निर्माण के लिए जरूरी है बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और भोजन: कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि बेहतर समाज और देश के नव-निर्माण के लिए जरूरी है कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और भोजन मिले। उन्होंने कहा कि अक्षय पात्र संस्था ने बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ बनाने के लिए गरम और अच्छा भोजन देने की अनुकरणीय पहल की है। कमल नाथ बावड़ियाकला में अक्षय पात्र संस्था द्वारा एचईजी के सहयोग से निर्मित मेगा किचन इकाई का शिलान्यास कर रहे थे। इस मौके पर जनसम्पर्क एवं विधि-विधायी कार्य मंत्री पीसी शर्मा और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि शासकीय स्कूलों में बच्चों को मध्यान्ह भोजन देने के संबंध में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग एवं अक्षय पात्र संस्था के मध्य 9 सितम्बर को मुख्यमंत्री की उपस्थिति में एम.ओ.यू हस्ताक्षरित किया गया है।  आगे पढ़ें

kamal-nath-said-in-agar-malwa-will-bring-revolutio

आगर मालवा में कमलनाथ ने कहा- कृषि के क्षेत्र में जल्द लाएंगे क्रांति, 14 महीनों में ही आया भारी परिवर्तन

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने आगर-मालवा जिला मुख्यालय पर आयोजित जय किसान फसल ऋण माफी कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में पिछले 14 महीनों में कृषि के क्षेत्र में भारी परिवर्तन आया है। राज्य सरकार ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना लागू कर पहले चरण में ही 21 लाख से अधिक पात्र किसानों के ऋण माफ कर अपनी नेकनीयती का सशक्त प्रमाण दिया है। कमल नाथ ने बताया कि इस योजना के तृतीय चरण में आगर-मालवा जिले के 9448 किसानों के करीब 135 करोड़ के फसल ऋण माफ किये गये है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में किसान फफ्फू बाई, धर्मराज, मेहरबान सिंह, प्रताप सिंह, रामदयाल, हीरालाल, जोरालाल और तिलक सिंह को ऋण माफी के सम्मान पत्र प्रदान किये।  आगे पढ़ें

kamal-nath-salutes-the-martyrs-on-the-shaurya-rock

कमलनाथ ने दिल्ली में शौर्य शिला पर शहीदों को किया नमन, सुरक्षा बल की टुकड़ी ने दिया गार्ड आॅफ आॅनर

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने नई दिल्ली में चाणक्यपुरी स्थित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पहुंचकर शौर्य शिला पर श्रद्धा-सुमन अर्पित कर शहीदों को नमन किया। सीमा सुरक्षा बल की टुकड़ी ने मुख्यमंत्री को गार्ड आॅफ आॅनर से सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय पुलिस संग्रहालय, शौर्य गाथा खण्ड और मध्यप्रदेश पुलिस को समर्पित खण्ड का अवलोकन किया। संग्रहालय में मुख्यमंत्री ने आगन्तुक पुस्तिका में व्यक्तिगत विचार व्यक्त करते हुए लिखा कि:- ''राष्ट्रीय पुलिस स्मारक को देखना एक बहुत ही महत्वपूर्ण क्षण। इसमें पुलिस बल की महिमा और वीरता का बखूबी बखान किया गया है। यह स्मारक राष्ट्रीय पुलिस स्थापना के इतिहास और वीरता का परिचायक है।''  आगे पढ़ें

the-state-government-has-made-a-revolutionary-star

राज्य सरकार ने फिल्म पर्यटन नीति लागू कर प्रदेश को आर्थिक रूप से संपन्न बनाने की क्रांतिकारी शुरूआत

पर्यटन नीति 2020 लागू कर मध्यप्रदेश को फिल्म निमार्ताओं की पहली पसंद बनाया जा रहा है। नीति में फिल्मों के लिए प्रदेश को सेंट्रल हब बनाने का भी निर्णय लिया गया है। फिल्म निर्माण के लिये बुनियादी ढाँचा तैयार कर फिल्म निमार्ताओं और फिल्मों से जुड़े उद्योगों को निवेश के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा। प्रदेश के पर्यटन स्थलों को फिल्मों के माध्यम से राष्ट्रीय एवं अर्न्तराष्ट्रीय पहचान मिलेगी। राज्य सरकार द्वारा फिल्म शूटिंग की अनुमति की प्रक्रिया को आसान बना दिया गया है, जिससे प्रदेश में अधिक से अधिक फिल्मांकन को प्रोत्साहन मिलेगा।  आगे पढ़ें

kamal-nath-lays-foundation-stone-for-micro-lift-ir

कमलनाथ ने माइक्रो उद्वहन सिंचाई योजना का किया शिलान्यास, कहा- आदिवासी समाज के साथ मिलकर लिखेंगे विकास का नया अध्याय

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने धार जिले के विकासखण्ड डही में 1085 करोड़ 20 लाख रुपये लागत की माइक्रो उद्वहन सिंचाई योजना का शिलान्यास करते हुए कहा कि यह योजना आदिवासी समाज के नायक टंट्या भील के नाम से जानी जाएगी। उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज सहज, सरल और मेहनतकश है। इस समाज को वर्षों तक छला गया है किन्तु अब ऐसा नहीं होगा। कमल नाथ ने कहा कि आदिवासी समाज के साथ मिलकर हम सब प्रदेश में विकास का नया अध्याय लिखेंगे। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि हम विरासत में मिली प्रदेश की बिगड़ी अर्थ-व्यवस्था को सुव्यवस्था में बदलने के लिये कृत-संकल्पित हैं।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 7 8 9 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति