होम इस्लामाबाद
pakistans-home-minister-whipped-his-own-government

पाक के गृहमंत्री ने अपनी ही सरकार कोसा, कहा- कश्मीर मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय का समर्थन पाने में रहे विफल

भारत ने कश्मीर को बंदी जेल में बदला: इससे एक दिन पहले ही पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) सत्र के दौरान दावा किया था कि भारत ने अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर को इस ग्रह की सबसे बड़ी ह्यबंदी जेलह्ण में बदल दिया है। वहां मानवाधिकारों का सख्ती से हनन किया जा रहा है। भारत ने कुरैशी के आरोपों को खारिज किया और कहा कि जम्मू-कश्मीर पर पाकिस्तान मनगढ़ंत कहानी कह रहा है। वह खुद ऐसा देश है जो सीमा पार से आतंकवाद का संचालन कर रहा है। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र में भी पाकिस्तान को किसी भी देश का समर्थन नहीं मिला था। अमेरिका, फ्रांस और रूस जैसे देशों ने भी कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत का साथ दिया है।  आगे पढ़ें

jadhav-gets-counselor-access-for-the-first-time-in

तीन साल में पहली बार जाधव को मिला काउंसलर एक्सेस, भारतीय राजनयिक ने की मुलाकात

पाक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने रविवार को कहा था कि जाधव को वियना कन्वेंशन के तहत काउंसलर एक्सेस मिलेगा। उन्होंने कहा यह एक्सेस आईसीजे के फैसले और पाकिस्तान के कानून के तहत दिया जाएगा। इससे पहले, पाकिस्तान सरकार ने आईसीजे के फैसले के 11 दिन बाद कुलभूषण को सशर्त एक्सेस देने का निर्णय लिया था। तब भारत ने कहा था कि इंटरनेशनल कोर्ट के आदेशानुसार हम जाधव के लिए अबाधित और जल्द एक्सेस चाहते हैं।  आगे पढ़ें

pakistan-imposes-ban-on-the-use-of-plastic-will-be

प्लास्टिक के उपयोग पर पाकिस्तान ने लगाया बैन, इस्तेमाल करते हुए पकड़े जाने पर लगेगा 5000 का जुर्माना

पाकिस्तान पर्यावरण संरक्षण एजेंसी के महानिदेशक फरजाना अल्ताफ की जांच के बाद इस्लामाबाद में एक दुकानदार पर प्लास्टिक की थैलियों के इस्तेमाल के लिए 200,000 पीकेआर (90,440 रु.) का जुमार्ना लगाया गया। वहीं, एक अन्य स्टोर के मैनेजर से 50,000 पीकेआर (22,772 रु.) वसूला गया। पंजाब में प्लास्टिक बैन की घोषणा किए जाने के बाद जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री जरताज गुल ने ट्वीट कर सीएम को धन्यवाद दिया। पाकिस्तान सरकार काफी समय से ब्लास्टिक पर बैन की कोशिश कर रही है। लेकिन स्थानीय सरकार इस नीति को लागू करने में विफल रहे हैं। लोगों के पास कोई और सस्ते विकल्प नहीं है।  आगे पढ़ें

kulbhushan-jadhav-case-even-after-eating-mouth-pak

कुलभूषण जाधव मामला: मुंह की खाने के बाद भी पाक पीएम ने बताया अपनी जीत, कहा- कानून के तहत बढ़ेंगे आगे

फैसला आने के बाद बुधवार को पाकिस्तान की ओर से जारी बयान में भी कहा गया था कि वह मामले में कानून के अनुसार आगे बढ़ेगा। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा था कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के एक 'जिम्मेदार सदस्य' के रूप में पाकिस्तान ने शुरू से ही मामले में अपनी 'प्रतिबद्धता बरकरार रखी' और बहुत कम समय के नोटिस के बावजूद सुनवाई के लिए अदालत में पेश हुआ। बयान में कहा गया, 'फैसला सुनने के बाद अब पाकिस्तान कानून के अनुसार आगे बढ़ेगा।' बयान में दावा किया गया कि हेग स्थित आईसीजे ने अपने फैसले में जाधव को 'बरी या रिहा' करने की भारत की अर्जी स्वीकार नहीं की। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने यह दोहराया कि जाधव ने 'किसी प्रामाणिक भारतीय पासपोर्ट पर किसी वीजा के बिना पाकिस्तान में हुसैन मुबारक पटेल के नाम से प्रवेश किया था।'  आगे पढ़ें

saark-sammelan-mein-peeoke-mantree-ko-bulaane-par-

सार्क सम्मेलन में पीओके मंत्री को बुलाने पर भारत ने जताया ऐतराज, किया वाक आउट

भारत ने पाकिस्तान के इस कदम के खिलाफ कड़ा प्रतिरोध जाहिर करते हुए मीटिंग से वॉकआउट किया। पीओके को लेकर भारत का रुख स्पष्ट है और उसे ही एक बार फिर जाहिर करते हुए भारतीय राजनयिक ने मीटिंग से वॉकआउट किया। भारत की तरफ से पीओके की सरकार और किसी मंत्री को मान्यता नहीं दिए जाने की कूटनीतिक रणनीति है।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति