होम अमेरिका
americas-big-action-taliban-leader-noor-wali-decla

अमेरिका की बड़ी कार्रवाई: तालीबानी सरगना नूर वली आतंकी घोषित, बम धमाकों में ले चुका है हजारों लोगों की जान

अमेरिका ने पाकिस्तान में पनाह लिए हुए आतंकियों के खिलाफ मंगलवार को एक और बड़ी कार्रवाई की। अमेरिका ने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के सरगना मुफ्ती नूर वली महसूद को आतंकी घोषित किया है। टीटीपी पाक में कई बम और आत्मघाती धमाकों में हजारों लोगों की जान ले चुका है। अमेरिका के विदेश विभाग ने कहा, नूर वली के नेतृत्व में टीटीपी ने पाक में कई आतंकी हमले किए और उनकी जिम्मेदारी भी ली। इन हमलों में सैकड़ों लोगों ने जान गंवाई। टीटीपी का अलकायदा से काफी करीबी संबंध है।  आगे पढ़ें

trumps-a-strange-suggestion-to-end-the-storm-said-

तूफान को खत्म करने ट्रंप ने अजीबो-गरीब सलाह, कहा- तूफान के केन्द्र में गिरा दो परमाणु बम

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संयुक्त राज्य अमेरिका की धरती को छूने से पहले ही तूफान को खत्म करने के लिए अजीबो-गरीब सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि हरिकेन तूफान के केंद्र में परमाणु बम गिरा दिया जाए। एक हरीकेन ब्रीफिंग के दौरान ट्रंप ने पूछा कि क्या तूफान के केंद्र में परमाणु बम गिराकर अफ्रीका के तट से उठ रहे तूफान को बाधित किया जा सकता है। समाचार साइट एक्सिओस ने यह रिपोर्ट दी है।  आगे पढ़ें

trump-announced-us-companies-expand-their-business

ट्रंप का ऐलान, अमेरिकी कंपनियां चीन से समेटे अपना कारोबार, दूसरे देशों में जाएं

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प चीन द्वारा अमेरिका के 75 बिलियन डॉलर (5.4 लाख करोड़ रुपए) के उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ाने के फैसले से नाराज हो गए हैं। ट्रम्प ने कुछ घंटे बाद ही अमेरिकी कंपनियों को चीन से अपना कारोबार समेटने का आदेश दे दिया। ट्रम्प ने ट्वीट में कहा, हमारे देश ने बेवकूफी में चीन से कारोबार के दौरान अरबों डॉलर गंवा दिए। चीन हमारी बौद्धिक संपदा चुराकर हर साल अरबों डॉलर कमा रहा है और वह ऐसा करता रहना चाहता है। लेकिन अब हम ऐसा नहीं होने देंगे। हमें अब चीन की जरूरत नहीं है। सच तो यह है कि उनके बिना हम ज्यादा बेहतर हालत में होंगे। ट्रम्प के इस ऐलान के बाद अमेरिकी बाजार चार घंटे में 3% तक गिर चुके थे।  आगे पढ़ें

pm-modi-will-go-to-america-in-september-will-addre

पीएम मोदी सितंबर में जाएंगे अमेरिका, ह्यूस्टर में भारतीय समुदाय को करेंगे संबोधित

कार्यक्रम के आयोजन का जिम्मा टेक्सास इंडिया फोरम के पास है। संस्था से जुड़े लोगों ने एनआरजी फुटबॉल स्टेडियम में 50 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद जताई है। रजिस्ट्रेशन के लिए लोगों से कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। स्टन के मेयर सिल्वेस्टर टर्नर ने बताया कि हम प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत के लिए उत्सुक हैं। अमेरिका में भारतीय समुदाय उनके लिए घर जैसा है। प्रधानमंत्री के यहां आने से ह्यूस्टन और भारत के बीच कारोबार, संस्कृति और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।  आगे पढ़ें

pentagons-announcement-will-keep-pakistans-f-16-fi

पेंटागन का बड़ा ऐलान, पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान पर चौबीसों घंटे रखेगा नजर

अधिकारियों का कहना है कि ताजा फैसले से पाकिस्तान में एफ-16 लड़ाकू विमानों के इस्तेमाल पर चौबीसों घंटे नजर रखने में मदद मिलेगी। इसके तहत एफ-16 कार्यक्रम पर नजर रखने में मदद करने के लिए वहां 60 ठेकेदार प्रतिनिधियों की आवश्यकता होगी।' अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, सुरक्षा सहायता पर रोक लगाने के ट्रम्प के जनवरी 2018 के आदेश में कोई बदलाव नहीं किया गया है। जैसा कि राष्ट्रपति ने इस सप्ताह दोहराया था, हम हमारे संबंधों के व्यापक स्वरूप के अनुरूप कुछ सुरक्षा सहायता कार्यक्रम बहाल करने पर विचार कर रहे हैं।  आगे पढ़ें

in-america-imran-has-put-seal-on-indias-claims-sai

अमेरिका में इमरान ने भारत के दावों पर लगाई मुहर, कहा- पाक में सक्रिय थे 40 से अधिक आतंकी संगठन

इमरान खान ने अमेरिका पर हुए 9/11 हमले को लेकर अपने देश का बचाव करते हुए कहा, 'अमेरिका पर हुए 9/11 हमले से पाकिस्तान का कोई लेना-देना नहीं था। हम आतंक के खिलाफ अमेरिकी युद्ध लड़ रहे हैं। जब वो हमला हुआ तब अल-कायदा अफगानिस्तान में था। पाकिस्तान में तालीबान के कोई आतंकी नहीं थे लेकिन हम अमेरिकी युद्ध में शामिल हुए। दुर्भाग्यवश, जब चीजें बिगड़ने लगीं, जिस चीज के लिए मैं अपनी सरकार को दोष दूंगा और वो यह है कि हमने अमेरिका को जमीनी हकीकत नहीं बताई।'  आगे पढ़ें

pak-pms-problems-are-not-getting-low-imran-has-fac

पाक पीएम की मुश्किलें नहीं हो रहीं कम, इमरान का अमेरिका में भी विरोध, शर्मिंदगी का करना पड़ा सामना

दुनियाभर में चौतरफा घिरे पाकिस्तान पीएम इमरान खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। अमेरिका दौरे पर पहुंचे पाक पीएम को एक सामाजिक कार्यक्रम के दौरान शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है। जब वे कार्यक्रम में स्पीच दे रहे थे, उसी दौरान कुछ बलूच कार्यकर्ताओं द्वारा पाक सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की गई है। इसके पहले पाक पीएम अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी में कई बार विवादों की वजह से घिर चुके हैं। ऐसे में अमेरिका यात्रा के जरिये अपने हालात सुधारने की उम्मीद लेकर पहुंचे पाक पीएम को मुश्किलों का सामना करना पड़ा रहा है।  आगे पढ़ें

india-and-russia-agree-on-the-new-payment-system-f

रक्षा सौदे के लिए भारत और रूस नए पेमेंट सिस्टम पर हुए सहमत, अमेरिकी प्रतिबंध का निकाला तोड़

अरबों डॉलर के रक्षा सौदे के लिए भारत और रूस अपनी राष्ट्रीय मुद्राओं के जरिए भुगतान की एक नई प्रणाली पर सहमत हो गए हैं। दरअसल, प्रतिबंधों और बैंकिंग पाबंदियों को लेकर अमेरिका की धमकी से पैदा हुए जोखिम को टालने के लिए दोनों देशों ने यह बड़ा कदम उठाया है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक इस व्यवस्था से भारत अब 2 युद्धपोतों के लिए पहली किस्त जल्द दे सकेगा। गौरतलब है कि रूस भारतीय नौसेना के लिए जंगी जहाज बना रहा है। नई दिल्ली में मामले की जानकारी रखने वाले दो लोगों ने इसकी जानकारी दी। हालांकि इससे ज्यादा उन्होंने कुछ नहीं बताया।  आगे पढ़ें

the-president-of-iran-who-spoke-of-the-tension-bet

तनाव के बीच बोले ईरान के राष्ट्रपति, कहा- अमेरिका सारे प्रतिबंध हटा दे तो हम बातचीत के लिए तैयार

ईरान ने अंतरराष्ट्रीय परमाणु समझौते के तहत यूरेनियम संवर्द्धन की 3.67% की तय सीमा को पार कर इसे 4.5% तक कर लिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पिछले साल 8 मई को ईरान परमाणु समझौते से अपने देश को अलग कर लिया था। इसके बाद से ही दोनों देशों के रिश्ते तल्ख हो गए। इस समझौते के प्रावधानों को लागू करने को लेकर भी संशय की स्थिति बनी हुई है। 2015 में ईरान ने अमेरिका, चीन, रूस, जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। समझौते के तहत ईरान ने उस पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के बदले अपने परमाणु कार्यक्रम को सीमित करने पर सहमति जताई थी।  आगे पढ़ें

us-claims-indias-wanted-terrorist-dawood-is-living

अमेरिका का दावा: भारत का वांछित आतंकी दाऊद रह रहा है पाकिस्तान में

दाऊद इब्राहिम के खास सहयोगी जाबिर मोतीवाला के अमेरिका प्रत्यर्पण के ट्रायल के पहले दिन अमेरिका की तरफ से वकील जॉन हार्डी ने कोर्ट में पक्ष रखाष उन्होंने कहा, 'एफबीआई न्यू यॉर्क में डी कंपनी के लिंक की जांच कर रही है। डी कंपनी का नेटवर्क पाकिस्तान, भारत और यूएई में फैला हुआ है। इस कंपनी का प्रमुख भारतीय मुसलमान दाऊद इब्राहिम है जो पाकिस्तान में रह रहा है।'  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति