ताज़ा ख़बरमध्यप्रदेश

सुप्रीम कोर्ट की फटकार का असर: हत्याकांड में लिप्त विधायक पति की तलाश एसटीएफ की सरकारी निवास में दबिस

दमोह। तीन दिन पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा लगाई गई फटकार का असर प्रदेश की पुलिस पर दिखने लगा है। मंगलवार को हटा के बहुचर्चित देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के मामले में पुलिस एसटीएफ टीम ने पथरिया से बसपा विधायक रामबाई के सरकारी निवास पर दबिश दी।

पुलिस ने रामबाई के पति और मामले में आरोपी गोविंद सिंह को गिरफ्तार करने पहुंची थी, लेकिन वह घर पर नहीं मिला। रामबाई भी यहां नहीं थीं। टीम कुछ पूछताछ करके रवाना हो गई। जांच के लिए देर शाम भोपाल से एसटीएफ विपिन माहेश्वरी भी हटा पहुंचे। यहां उन्होंने रेस्ट हाउस में अधिकारियों से बात की।

एडीजी करीब 40 मिनट तक हटा में रुके। इसके बाद दमोह चले गए। इधर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इस हत्याकांड केस की सुनवाई कर रहे हटा के द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश की सुरक्षा बढ़ाई गई है। उनकी सुरक्षा में पीएसओ तैनात किए गए हैं।

गोविंद की तलाश में जुटीं पांच टीमें
गोविंद की गिरफ्तारी के लिए सीएसपी अभिषेक तिवारी के नेतृत्व में पांच टीमें जुटी हैं। घर के अलावा कुछ अन्य जगहों पर भी दबिश दी गई है। कुछ रिश्तेदारों के यहां पर भी पूछताछ के लिए टीमें गईं थीं। इधर देर शाम आईजी सागर ने गोविंद पर इनाम की राशि 10 हजार रु। से बढ़ाकर 30 हजार रु। कर दी है।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button