ताज़ा ख़बर

महिला दिवस पर सीएम शिवराज ने की सौगात की बारिश: स्व-सहायता समूहों को 2 प्रतिशत की दर से मिलेगा लोन, अस्पतालों में शुरू होगी महिला हेल्प डेस्क

भोपाल। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने नारी तू नारायणी कार्यक्रम का आयोजन किया। सोमवार को मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पत्नी साधना सिंह के साथ पहुंचे। मुख्यमंत्री ने कन्या पूजन कर कार्यक्रम की शुरूआत की। इसके बाद अलग-अलग क्षेत्रों में विशेष कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया गया। स्व सहायता समूह को 200 करोड़ रुपए का लोन बांटा गया। मुख्यमंत्री ने अलग-अलग जिलों में बेहतर काम कर रहे स्व सहायता समूह से वीडियों कांफ्रेंसिंग के जरिए बात की। इसके बाद महिलाओं के लिए कई घोषणाएं की।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश के स्व सहायता समूह की माताओं बहनों ने अपना योगदान दिया है। साबुन से लेकर मास्क तक बनाए। सीएम ने कहा कि आपके साथ मिलकर गरीबी हटाने का काम किया जाएगा। सीएम ने कहा कि महिला सुरक्षा मेरे जीवन का मिशन है। स्वास्थ्य, शिक्षा से लेकर हर परिस्थिति में सरकार महिला बेटियों के साथ है। प्रदेश में अब नारी अबला नहीं सबला है। मुख्यमंत्री की सुरक्षा तो महिला कर्मियों ने संभाली ही थी लेकिन आयोजन स्थल पर भी सुरक्षा का पूरा जिम्मा महिलाओं के पास ही रहा।

मुख्य न्यायाधीश को लिखेंगे पत्र
सीएम ने कहा कि छोटी बच्चियों के साथ हैवानियत करने वाले 72 नरपिशाचों को फांसी की सजा सुनाई गई, लेकिन छोटी से बड़ी कोर्ट में मामले के जाने से सजा नहीं मिल रही है। इन मामलों में तेजी से सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखकर जल्द सुनवाई की अपील करेंगे।

यह की घोषणाएं
स्व-सहायता समूह को 2 प्रतिशत पर लोन
अभी स्व सहायता समूह को 4 प्रतिशत की दर से लोन उपलब्ध कराया जाता है। अब यह लोन 2 प्रतिशत की दर से मिलेगा। बैंकों को ऊपर के ब्याज की राशि का भुगतान सरकार करेंगी।

प्रदेश में बनेगी नारी अदालत
घर के छोटे छोटे झगड़ों को सुलझाने के लिए प्रदेश में नारी अदालत बनेगी। इसमें स्व सहायता समूह की मदद ली जाएगी। इसका उद्देश्य पारिवारिक मामलों को घर में ही सुलझाना है।

3 साल में हर घर में टोंटी से पानी
प्रदेश के हर गांव में अगले तीन साल में नल कनेक्शन पहुंचाने के संकल्प को सीएम ने दोहराया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल 26 लाख घरों में नल कनेक्शन मिल जाएगा। 3 सालों में सभी घरों में नल कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य पूरा किया जाएगा।

लाडली लक्ष्मी बेटियों की पढ़ाई का खर्च उठाएंगी सरकार
सीएम ने कहा कि पुरुष प्रधान सामाज की मानसिकता को बदलने का काम हमको करना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की 38 लाख लाडली लक्ष्मी बेटियों के कॉलेज की पढ़ाई का खर्चा सरकार उठाएंगी। इसमें कोई भी पढ़ाई हो मेडिकल, इंजीनियरिंग या विदेश की पढ़ाई सबकुछ शामिल होगा।

महिला सफाई कर्मियों को एक दिन का अवकाश
सीएम ने कहा कि आज नेहरू नगर चौराहे पर महिला सफाई कर्मियों के साथ बातचीत की। महिलाओं ने बताया कि उनको एक दिन का अवकाश नहीं मिलता है। आज से महिला सफाई कर्मियों को एक दिन का अवकाश दिया जाएगा।

शासकीय केंटीन महिला स्व सहायता समूह चलाएंगे
महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्व सहायता समूह को और मजबूत बनाया जाएगा। इसके तहत अब शासकीय केंटीन महिला स्व सहायता समूह चलाएंगे।

यह भी सुविधा
महिलाओं और बेटियों को गाड़ी चलाने का सरकार मुफ्त प्रशिक्षण देंगी।

नई प्रॉपर्टी यदि महिला, बेटी या पत्नी के नाम पर खरीदी जाती है तो रजिस्ट्री खर्च में 2 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

पूरे प्रदेश में नशा मुक्त अभियान की शुरूआत की जाएगी। इसमें नशा मुक्त पंचायत को पुरस्कृत किया जाएगा।

मध्यान्ह भोजन बनाने में लगने वाले तेल, दाल, मसाले अब स्व-सहायता समूह से खरीदें जाएंगे।

संविदा महिला कर्मचारियों को भी नियमित कर्मचारी के अनुसार 180 दिन का मातृत्व अवकाश मिलेगा।

3 साल तक बेटे-बेटी का समान संख्या में जन्म होने पर गांव को दो लाख रुपए की अलग विकास के लिए दिए जाएंगे।

जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज से संबंध अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं के लिए महिला हेल्प डेस्क शुरू की जाएगी।

प्रदेश के 1600 स्वास्थ्य केन्द्रों को प्रसव के लिए आदर्श केन्द्र में परिवर्तित किया जाएगा।

गेहूं खरीदी और बच्चों की ड्रेस सीलने का काम स्व सहायता समूह करेंगी।

उमंग अभियान शुरू कर बेटों को बच्चियों के सम्मान के लिए सेनेटाइज किया जाएगा।

100 करोड़ रुपए से नारी सम्मान कोष बनाया जाएगा। इससे महिलाओं के सम्मान के लिए अलग-अलग काम किए जाएंगे।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button