मध्यप्रदेश

मप्र में कोरोना की दूसरी लहर हुई खतरनाक: छह महीने बाद आज मिले 1885 नए मामले, 9 लोगों ने तोड़ा दम

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक होती जा रही है। पिछले 24 घंटे में 1885 नए केस मिले हैं। यह पिछले 6 महीने में एक दिन का सबसे ज्यादा हैं। इससे पहले 6 सितंबर को 1885 संक्रमित मिले थे। इसके साथ ही प्रदेश में एक्टिव केसों का आंकड़ा 11 हजार के पार हो गया है। मार्च में हर रोज औसतन 330 एक्टिव केस बढ़ रहे हैं। भोपाल में पॉजिटिव मरीज इंदौर की तुलना में कम मिल रहे हैं, लेकिन एक्टिव केसों की संख्या ज्यादा है। भोपाल में एक्टिव केस 2,987, जबकि इंदौर में 2,523 हैं। भोपाल में क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक में रात आठ बजे से दुकानें बंद कराने पर चर्चा की गई। भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि सभी मुद्दों पर चर्चा हुई है, त्योहार के संबंध में गाइडलाइन पर भी बात की है। अंतिम निर्णय 26 मार्च को पुन: बैठक कर लिया जाएगा।

वहीं, दूसरी तरफ इंदौर में प्रशासन ने इस रविवार के साथ होली के दिन सोमवार दो दिन तक लॉकडाउन लगाने का प्रस्ताव सरकार को भेजा है। छिंदवाड़ा में शनिवार रात 10 बजे से मंगलवार सुबह 6 बजे तक लगातार 56 घंटों का लॉकडाउन का फैसला किया गया है। बता दें कि इंदौर, भोपाल और जबलपुर पिछले संडे को लॉकडाउन था। एक दिन पहले ही सरकार चार और जिलों में संडे लॉकडाउन की घोषणा की थी। इस तरह इस संडे से सात शहरों में लॉकडाउन रहेगा।




पिछले 24 घंटे में इंदौर में सबसे ज्यादा 584 नए केस मिले, जबकि भोपाल में 398 और जबलपुर में 109 संक्रमित मिले। प्रदेश में 24 मार्च को कोरोना से 9 मौतें हुई हैं। इनमें इंदौर में 2, भोपाल, शाजापुर, रतलाम, खरगोन, जबलपुर, ग्वालियर और छिंदवाड़ा में 1-1 मरीजों की जान गई। कोरोना से मरने वालों का कुल आंकड़ा 3968 पहुंच गया है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में अब तक 2 लाख 82 हजार 174 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 2 लाख 67 हजार 242 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 1885 नए संक्रमित मिले, जबकि 919 मरीज ठीक हुए।

20 से अधिक केसों वाले 13 जिले
जिन जिलों में रोजाना 20 से अधिक केस मिल रहे हैं, उनमें भोपाल, इंदौर और जबलपुर के अलावा खरगोन (69), ग्वालियर (61), रतलाम (60) सागर (59), बैतूल (58), उज्जैन (58), छिंदवाड़ा (39), विदिशा (35), नरसिंहपुर (23) और बुरहानपुर (22) केस मिले हैं। इन जिलों में सरकार ने पाबंदियां बढ़ा दी हैं।

महाराष्ट्र से नया डबल म्यूटेंट आने की आशंका
सूत्रों का कहना है कि महाराष्ट्र में कोरोना का नया ‘डबल म्यूटेंट’ आने की संभावना है। यह नया वैरिएंट नागपुर से मध्य प्रदेश में पहुंच सकता है। हालांकि एक सप्ताह से महाराष्ट्र से सड़क मार्ग पर यात्री बसों का परिवहन बंद है, लेकिन निजी वाहनों के अलावा ट्रेन रूट से लोग आ-जा रहे हैं। ऐसे में सख्ती से चेकिंग की जा रही है। बता दें कि कोरोना के नए डबल म्यूटेंट नागपुर के कई कोरोना संक्रमितों में मिला है।

नर्सिंग होम और निजी हॉस्पिटल कोविड 19 के इलाज की दरें निर्धारित
प्रदेश के सभी नर्सिंग होम और निजी हॉस्पिटल को कोविड-19 के इलाज की निर्धारित दरों को काउंटर पर लगाना होगा। यह दरें 29 फरवरी 2020 को अस्पतालों की तरफ से सीएमएचओ को बताई गई दरों से 40 प्रतिशत से अधिक नहीं हो।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button